Home कैरियर आपके सैलरी अकाउंट पर बैंक देता है ये फायदा, फ्री में मिलती...

आपके सैलरी अकाउंट पर बैंक देता है ये फायदा, फ्री में मिलती हैं ये सर्विसेज


नई दिल्ली. नौकरीपेशा लोगों को कंपनियां एक स्पेशल बैंक अकाउंट देती हैं जिसको सैलरी अकाउंट कहा जाता है. यह अकाउंट रेगुलर बैंक अकाउंट से अलग होता है क्योंकि इस अकाउंट के कई फायदे हैं. लेकिन इन फायदों के बारे में बहुत ही कम लोग जानते हैं. क्योंकि सैलरी अकाउंट पर मिलने वाले फायदों को अक्सर बैंक भी नहीं बताते हैं. आपको बता दें कि SBI सैलरी अकाउंट पर कॉरपोरेट, हॉस्पिटल, होटल आदि के कर्मचारियों को कई तरह के फायदे मिलते हैं.

अलग-अलग इम्प्लॉइज की सैलरी के हिसाब से SBI सैलरी अकाउंट के 4 वेरिएंट्स हैं- प्लेटिनम, डायमंड, गोल्ड और सिल्वर. 5 हजार से 20 हजार कमाने वाले सिल्वर, 20 हजार से 50 हजार कमाने वाले गोल्ड, 50 हजार से 1 लाख डायमंड और 1 लाख से ज्यादा कमाने वालों का प्लेटिनम वेरिएंट का अकाउंट होता है.इसी वेरिएंट के हिसाब से आपको डेबिट कार्ड मिलेगा. अपना अकाउंट अपग्रेड करने के लिए आपको बढ़ी हुई सैलरी का प्रूफ देना होगा.सैलरी अकाउंट खुल जाने के बाद आपको अकाउंट नंबर दिया जाएगा. कॉर्पोरेट इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से एंप्लॉयर द्वारा सैलरी खाते में डाल दी जाएगी. कर्मचारी अपना सैलरी अकाउंट देश की किसी भी ब्रांच में खोल सकते हैं.

ये भी पढ़ें: गांव में रहकर शुरू करें ये बिज़नेस, कमाई का है बेहतर जरिया, जानिए प्रोसेस

SBI सैलरी अकाउंट के फायदे
>> जीरो बैलेंस अकाउंट
>> फ्री अनलिमिटेड ट्रांजेक्शन किसी भी बैंक के एटीएम से
>> फ्री एटीएम कम डेबिट कार्ड
>> जॉइंट अकाउंट होल्डर के लिए एटीएम कार्ड
>> फ्री इंटरनेट बैंकिंग

>> फ्री मल्टीसिटी चेक
>> लॉकर चार्ज पर 35 फीसदी की छूट
>> फ्री ड्राफ्ट, एसएमएस अलर्ट, ऑनलाइन NEFT/RTGS
>> 2 महीने की सैलरी पर ओवरड्राफ्ट की सुविधा

आइए जानते हैं क्या हैं सैलरी खाते के फायदे…

1. बैंक देता है डेडिकेटेड वेल्थ मैनेजर अगर आपके पास बहुत सारा पैसा है तो आप वेल्थ सैलरी अकाउंट भी खोल सकते हैं. इसके तहत बैंक आपको डेडिकेटेड वेल्थ मैनेजर देता है. यह मैनेजर आपके बैंक से जुड़े तमाम काम देखता है.

2. फ्री इंटरनेट ट्रांजेक्शन कुछ बैंक पेरोल अकाउंट्स को क्रेडिट कार्ड देने, फ्री इंटरनेट ट्रांजेक्शन, ओवरड्राफ्ट, सस्ते लोन, चेक, पे ऑर्डर व डिमांड ड्राफ्ट की फ्री रेमिटेंस (विदेश से आने वाला पैसा) जैसी सुविधाएं भी देते हैं.

ये भी पढ़ें: EPFO ने किया अलर्ट! इन ऑफर्स से रहें सावधान, नहीं तो लग सकता है चूना

3. सेविंग अकाउंट में बदलता है सैलरी अकाउंट अगर आपके बैंक को पता चले कि कुछ समय से आपके अकाउंट में सैलरी नहीं आ रही है तो आपको मिली तमाम सुविधाएं वापस ले ली जाती हैं और आपके बैंक अकाउंट को नॉर्मल सेविंग्स अकाउंट की तरह ही जारी रखा जाता है.

SBI reduces its External Benchmark Lending Rate

घट गई होम लोन की EMI

4. आसानी से ट्रांसफर होता है अकाउंट एक बैंक से दूसरे बैंक में अकाउंट बदलने के लिए भी सैलेरी अकाउंट के मामले में बैंक इसका प्रोसेस आसान रखते हैं. बेशक वे इसमें कुछ शर्तें जरूर रखते हैं.कैसे खुलता है खाता सैलरी अकाउंट खोलने के लिए आप किसी कॉरपोरेट, सरकारी विभाग या पीएसयू में कार्यरत होने चाहिए और आपकी कंपनी के उस बैंक से सैलेरी अकाउंट रिलेशनशिप होनी चाहिए. इसके साथ ही ग्राहक का उसी बैंक में कोई और खाता नहीं होना चाहिए.

ये भी पढ़ें: नौकरी करने वालों के लिए अब जरूरी हैं ये काम, वरना नहीं निकाल पाएंगे PF के पैसे

5. क्या मिलती हैं अन्य सुविधाएं बैंक आपको पर्सनलाइज्ड चेक बुक देता है, जिसके हर चेक पर आपका नाम छपा होता है. आप बिल भुगतान की सुविधा ले सकते हैं, नहीं तो फोन या इंटरनेट के जरिए पेमेंट्स कर सकते हैं. सेफ डिपॉजिट लॉकर, स्वीप-इन, सुपर सेवर फैसिलिटी, फ्री पेबल-एट-पार चेकबुक, मुफ्त इंस्टाअलर्ट्स, फ्री पासबुक और फ्री ईमेल स्टेटमेंट जैसी सुविधाएं भी बैंक देते हैं.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments