Home जीवन मंत्र आप भी परेशान हैं जिद्दी पेट की चर्बी से तो ऐसे पाएं...

आप भी परेशान हैं जिद्दी पेट की चर्बी से तो ऐसे पाएं छुटकारा


पेट की चर्बी यानी बेली फैट (बेली फैट) किसी आफत से कम नहीं। इसके साथ ही ये बेहद खतरनाक भी हो सकते हैं ।पेट की चर्बी का एक प्रकार जिसे आंत की चर्बी (विसरल फैट) कहा जाता है, टाइप 2 डाय, हृदय रोग के जोखिम पैदा करता है।
हालांकि, शरीर के इस हिस्से से फैट कम करना बेहद मुश्किल हो सकता है, लेकिन कई चीजें हैं जो आप अतिरिक्त बेली फैट को कम करने के लिए कर सकते हैं। हम यहां आपको पेट की चर्बी कम करने के साइंटफिक स्टडीज से ऐसे चार असरदार टिप्स बताने जा रहे हैं।

ट्रांस फैट वाले खाने से परहेज करें:

ट्रांस फैट को अनुकरणृप्त वसा (असंतृप्त वसा) में हाइड्रोजन को पंप द्वारा बनाया जाता है जैसे कि सोयाबीन तेल में.स्टडीज में देखा गया है कि इस तरह का फैट सूजन, हृदय रोग की वजह बनने के साथ ही इंसुलिन प्रतिरोध में परेशानी पैदा करता है। । बंदरों पर की गई छह साल की स्टडी में देखा गया कि हाई मोनोअनसैचुरेटेड (मोनोअनसैचुरेटेड) फैट फूड लेने वाले बंदरों की तुलना में हाई ट्रांस फैट फूड लेने वाले बंदरों के पेट पर 33 फीसदी फैट जमा जमा हुआ है.पेट की चर्बी को कम करने और अपनी सेहतमंदी के लिए खाने वाले हर खादेक्ट्स के लेबल को ध्यान से पढ़ें और उन उत्पादों से दूर रहें जिनमें ट्रांस फैट होता है। कुछ अध्ययनों ने पेट की चर्बी बढ़ाने के लिए ट्रांस फैट के अधिक सेवन को जिम्मेदार ठहराया है। आप वजन कम करने की कोशिश में हों तो ट्रांस फैट सेवन को सीमित करना एक अच्छा आईडिया है।ये भी पढ़ें: जानें, कैसे करें पेट का फैट कम

ग्रीन टी

ग्रीन टी वनियल हेल्दी ड्रिंक हैं। इसमें कैफीन और एंटीऑक्सिडेंट एपिगैलोकैटेचिन गैलेट (एपिगैलोकैटेची गैलेट) ईजीसीजी होते हैं जो मेटबॉलिज्म को बढ़ाते हैं। लगातार रोजाना ग्रीन टी पीने से वजन घटाने में मदद मिलती है। अगर यह आप पर कम असरकारक है तो फिर इसके साथ अपने दिनचर्या में एक्सरसाइज को भी शामिल कर लें।

इंटरमिटेंट फास्टिंग करें:

इंटरमिटेंट फास्टिंग वजन घटाने का एक तरीका है जो आजकल बेहद चलन में है। यह खाने का एक पैटर्न है जो खाने की अवधि या पीरियड्स और फास्ट पीरियड्स के बीच एक साइकल या चक्र बनाता है। इसके सबसे लोकप्रिय तरीकों में सप्ताह में एक या दो बार 24 घंटे का फास्ट करना शामिल है। एक अन्य तरीके में 16 घंटे के लिए हर दिन फास्ट करना और 8 घंटे की अवधि के भीतर अपना सारा खाना खा लेना होता है। इस तरीके से फास्ट करने पर लोगों ने छह से 24 सप्ताह के अंदर पेट की चर्बी में चार से सात प्रतिशत की कमी का अनुभव किया। स्टडी बताती हैं कि यह वजन कम करने और पेट की चर्बी घटाने के सबसे असरकारक तरीकों में से एक हो सकता है।हालांकि इसका कोई भी नेगेटिव असर होने पर इंटरमिटेंट फास्टिंग तुरंत बंद कर देनी चाहिए।

ये भी पढ़ें: मोटापे से कैसे, 10 बड़े उपाय

लाइफस्टाइल में परिवर्तन लाएं:

अगर आपको लगता है कि लाइफस्टाइल में बदलाव लाने से कोई खास फर्क नहीं पड़ेगा तो आप गलत हैं। आपको अंदाजा नहीं होगा कि वजन कम करने के कई तरीके सीधे आपकी लाइफस्टाइल और हेल्दी फूड से जुड़े।इसलिए, लंबे समय के लिए अपनी लाइफस्टाइल में बदलाव लाने से आपके पेट की चर्बी कम करने और इसे दोबारा आने से रोकने का शानदार उपाय है। जब आपके पास हेल्दी आदतें हैं और आप सही आहार लेते हैं, तो स्वाभाविक रूप से आपके शरीर में खुद ही फैट जमा नहीं हो पाता है, इसलिए आप स्थायी रूप से अपने खाने की आदतों और लाइफस्टाइल में परिवर्तन लाने की सोचें। (अस्वीकरण) लेख में दी गई जानकारी और सूचना सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। हिंदी न्यूज़ 18 इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें।)





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments