Home मध्य प्रदेश आबादीुनवाई में की शिकायत: जमीन सिकामी के बारे में रामपुर सोसाइटी प्रबंधक...

आबादीुनवाई में की शिकायत: जमीन सिकामी के बारे में रामपुर सोसाइटी प्रबंधक नहीं दे रहा किसान को


विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पिपरिया8 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

जनसुनवाई में लोगों की समस्या सुनते अधिकारी।

  • किसान ने कलेक्टर से की सोसाइटी प्रबंधक की शिकायत की

मंगलवार को आयोजित जनसुनवाई में एक किसान ने शिकायती आवेदन देकर कृषक सेवा सहकारी समिति रामपुर के प्रबंधक राघवेंद्र शर्मा की शिकायत की है। किसान नीतिराज शर्मा के अनुसार राघवेंद्र शर्मा ने उन्हें सिकामी जमीन ली है और रुपया नहीं दे रहा है। इसी प्रकार बड़ी संख्या में लोगों ने गरीबी रेखा में नाम जोड़े जाने के लिए आवेदन दिए हैं। हथवांस ग्राम में झूठा के लिए बंधन की मांग की गई है।

पिसुआ गांव के धर्मसिंह ने मजदूरी का भुगतान कराए जाने के लिए आवेदन दिया है। ग्राम आलीवाड़ा खुर्द के किसान नीतिराज शर्मा ने रामपुर सोसाइटी के प्रबंधक राघवेंद्र शर्मा की शिकायत में कहा है कि उनकी जमीन ग्राम ठुठा दहलवाड़ा के रोड किनारे से शुरू हुई है। यह 4 एकड़ 40 डिसमिल के आसपास की जमीन हैं। जिसे वर्ष 2020 और 2021 में 20 हजार रुपए प्रति एकड़ के हिसाब से सिकमी पर दिया गया था।

इसका कुल मूल्य 88 हजार रुपए होता है। बात हुई थी कि पहली फसल मूंग काटने के बाद 15 जून 2020 में यह राशि दे दी जाएगी। जून का महीना निकल गया, लेकिन यह राशि नहीं दी गई और अब वर्तमान में मार्च का महीना आ गया है और इस प्रकार 10 महीने बीत चुके हैं। अभी तक सिकामी की राशि नहीं गई है। जब भी पैसे मांगे जाते हैं तो दो-चार दिन में दे दूंगा ऐसा झूठा आश्वासन दे दिया जाता है। इसके कारण उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

उन्होंने मांग की है कि राघवेंद्र शर्मा के खिलाफ कड़ी कार्रवाई कर उन्हें दंडित किया जाए। एसडीएम नितिन टाले ने बताया कि शर्मा की शिकायत को आवश्यक कार्रवाई के लिए थाना मंगलवारा भेजा गया है। इस बारे में समिति प्रबंधक ने कहा कि राघवेंद्र शर्मा ने कहा कि उन्होंने किसान के रुपए दे दिए हैं।

खानाबदोश लोहारों ने रहने के लिए जगह मांगी

शहर से लगे हथवांस तिराहा क्षेत्र में रहने वाले लगभग आधे दर्जन लोहार परिवारों ने आबादीुनवाई में आवेदन देकर रहने के लिए स्वीकृति मांगी है। इन परिवारों का कहना है कि वह हथवांस क्षेत्र में काफी समय से रह रहे हैं। कुछ लोग उन्हें धमका रहे हैं और झूठा हटाने के लिए कह रहे हैं। कहा जा रहा है कि अगर झूठा नहीं हटाई तो उसे तोड़ दिया जाएगा। इन परिवारों का कहना है कि हमें पूर्व में घुमक्कड़ जाति का प्रमाण पत्र दिया गया था और जमीन का पैकेज देने के लिए आश्वासन दिया गया था। ‘ जो अभी तक नहीं मिला है, इसीलिए हमें जमीन का भुगतान दिया जाएगा।

40 दिन की मजदूरी नहीं मिल रही है

ग्राम पिसुआ के धर्मसिंह पिता दयाराम मेहरा ने शिकायत में कहा है कि पंचायत के माध्यम से रोजगार छूट योजना में 40 दिन की मजदूरी रामवती हरिराम के साथ की थी। अभी तक मजदूरी का भुगतान नहीं हुआ है। संबंधित कर्मचारी कोई जवाब नहीं दे रहे हैं।

खबरें और भी हैं …





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments