Home देश की ख़बरें इटावा न्यूज़: गिरफ्तार किडनैपर ने बताया कि कैसे हुई कार एक्सीडेंट, किस...

इटावा न्यूज़: गिरफ्तार किडनैपर ने बताया कि कैसे हुई कार एक्सीडेंट, किस तरह अपहृत लड़की की डूबने से मौत


इटावा किडनैपिंग केस में 3 युवकों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

इटावा न्यूज़: पुलिस अधीक्षक ग्रामीण ओमवीर सिंह ने बताया कि गणतंत्र दिवस के दिन थाना सहसो पुलिस को सूचना मिली थी कि एक कार बवाइन गाव से शेरगढ़ गाव को जोड़ने वाले यमुना नदी पर बने पीपे के पुल पर नदी में गिर गई है। पुलिस ने एक लड़की व दो लड़कों के शवों को नदी से निकाला था।

इटावा। उत्तर प्रदेश के इटावा (इटावा) जिले के सहसो क्षेत्र के सिंडौस गांव से लड़की का अपहरण (अपहरण) करने वाले तीन युवकों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस अधीक्षक ग्रामीण ओमवीर सिंह ने बताया कि गणतंत्र दिवस को थाना सहसो पुलिस को सूचना मिली कि एक मारुति कार बवाइन गाव से शेरगढ़ गाव को जोड़ने वाले यमुना नदी पर बने पीपे के पुल से नदी पर गिरि है। इसमें लोग डूब गए हैं। पुलिस टीम ने एक लड़की व दो लड़कों के शवों को नदी से निकाला था। पता चला कि थाना सहसो पर इसी दिन दुर्योधन सिंह निवासी सिंदौस थाना सहसों जनपद इटावा ने अपनी लडकी की गुमशुदगी दर्ज कराई थी।

एसपी ग्रामीण ने बताया कि पिता ने लड़की के शव की पहचान की और आरोप लगाया कि उसे छुनमुन तिवारी व मयंक तिवारी दोपहर 2 बजे अपहरण कर ले गए थे। सभी परिवारिक लोग उसकी तलाश कर रहे थे। थाना सहसों में धारा 363/366 ए के तहत मामला पंजीकृत किया गया था। उन्होंने बताया कि लड़की के अपहरण के मामले में पुलिस ने सघन छापेमारी करके मयंक तिवारी निवासी करियावली, थाना बिठौली, इटावा, पवन उर्फ ​​लाली निवासी नीबरी, थाना बिठौली, इटावा हाल पता- सतेश्वर, थाना कोतवाली नगर, औरैया, विवेक बाजपेई उर्फ ​​शीश को गिरफ्तार कर लिया। खोरई, थाना सिरसागंज, फिरोजाबाद हाल का पता सतेश्वर थाना कोतवाली नगर औरैया को गिरफतार किया गया है।

प्रेम प्रसंग में अपहरण

पुलिस टीम ने जब कड़ाई से पूछताछ की तो मयंक तिवारी ने बताया कि उसका भाई विवेक तिवारी उर्फ ​​छुनमुन मृतक लड़की से प्रेम करता था। उनकी आपस मे काफी दिनों से बातचीत होती थी। उसका भाई अभी कुछ दिन पहले रायगढ़ से बाबा के मरने पर गांव आया था, जहां वह लड़की भी अपने रिश्तेदारी में आई हुई थी। 26 जनवरी को उसका भाई विवेक तिवारी उर्फ ​​छुनमुन अपने दोस्त पवन उर्फ ​​लाली व उत्पल निवासी सतेश्वर थाना कोतवाली नगर औरैया की वैगन-आर कार से मेरी मां व बहनों को औरैया से गांव करसिया में आये थे। उसके भाई ने बताया कि आज इसी गाड़ी से हम लोग लड़की को लेकर औरआय जाएंगे।

अनियंत्रित हुई कार यमुना नदी में गिरी

उन्होंने बताया कि मुर्गी फार्म के पास से हम लोगों ने लड़की को भी गाड़ी में बिठा लिया और उसको लेकर औरैया की ओर से चल रहे थे। औरैया पहुंचने के बाद जब वापस भीकेपुर के रास्ते बबीन गाव थाना अयाना की ओर आये ही बबाइन गांव से शेरगढ़ गाव की ओर जाने वाले यमुना नदी के पीपा के पुल पर अचानक गाड़ी अनियंत्रित यमुना नदी में गिर गई। वह किसी तरह गाड़ी के दरवाजे का शीशा तोड़ कर बाहर निकल कर पीपे पर खड़ा था, तभी विवेक बाजपेई उर्फ ​​ईशू भी बाहर निकले, जिसका हाथ मैंने पकड़ कर खींच लिया, जबकि अन्य लोग कार में ही डूब गए।

आँखों के सामने मौत देखी

कुछ देर बाद विवेक तिवारी उर्फ ​​छुनमुन व वह लड़की बहती हुई निकली। अन्य साथी सौरभ व उत्पल गाड़ी में ही फंसे रह गए। वहां पहुंचे गाववालों ने मुझे वूत बाजपेई उर्फ ​​ईशू को गांव में ले आए। कुछ लोगों ने विवेक के घर सूचना दी तब उसके घरवालों ने आकर दोनों को और आय में ले जाकर अस्पताल में भर्ती कराया। यहां से बेहतर इलाज के लिए कानपुर ग्लक्सी हा और आवास विकास कालोनी थाना कल्यानपुर में भर्ती कराया गया। डिस्चार्ज होने के बाद आज हम लोग मयंक के पास आये थे। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि हादसे में दो आरोपियों की मौत हो चुकी है, शेष तीन आरोपियों की गिरफ्तारी पुलिस ने कर ली है और उन्हें जेल भेजा जा रहा है।







Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments