Home कैरियर इस महीने कर लेंगे निवेश तो मिल जाएगी इनकम टैक्स में छूट,...

इस महीने कर लेंगे निवेश तो मिल जाएगी इनकम टैक्स में छूट, जानिए आपके लिए कौनसा विकल्प फायदेमंद


आपको इसी महीने तय करना होगा कि आप पुराना विकल्प चुनेंगे या न्यू टैक्स रिजीम, ताकि उसी हिसाब से कर पाएं निवेश

आयकर अधिनियम में दी गई छूटों का फायदा लेने के लिए 31 मार्च तक निवेश करने का मौका है. लेकिन इससे पहले यह जरूरी है कि हम पहली बार लागू हुए न्यू टैक्स रिजीम को समझें. इससे हमें टैक्स बचत करने में मदद मिलेगी.

नई दिल्ली. वित्त वर्ष 2020-21 का आखिरी महीना यानी मार्च शुरू हो चुका है. आयकर अधिनियम में दी गई छूटों का फायदा लेने के लिए इसी महीने निवेश का मौका है. इसके लिए जरूरी होगा कि पहली बार लागू हुए न्यू टैक्स रिजीम को समझना.
आपको इसी महीने तय करना होगा कि आप पुराना विकल्प चुनेंगे या न्यू टैक्स रिजीम. यदि आपके पास निवेश के लिए रकम कम है तो नया विकल्प चुनना फायदेमंद रहेगा. इससे आप पर टैक्स की दरें कम हो जाएंगी. जबकि यदि आपके पास निवेश के लिए पर्याप्त रकम है तो पुराने विकल्प पर ही फिर से भरोसा आजमा सकते हैं. न्यूज18 को चार्टर्ड अकाउंटेंड हरिगोपाल पाटीदार ने उदाहरण के साथ दोनों विकल्प के फायदे और नुकसान बताए.

यह भी पढ़ें : News18 Special : भगोड़े मोदी के प्रत्यर्पण में यह हैं बड़ी कानूनी अड़चनें, विकिलिक्स के असांजे की तरह छूट को रोकने के लिए सरकार उठाएगी यह कदम 

कोई निवेश न होने पर नए विकल्प में यह मिलेगा फायदाआपकी वेतन से आय साढ़े सात लाख रुपए है और टैक्स से छूट वाले निवेश नहीं है. तब यदि आप पुराना विकल्प आजमाते हैं तो आपको 50 हजार रुपए की स्टैंडर्ड डिडक्शन की छूट मिलेगी. इसके साथ ही प्रोफेशनल टैक्स 2500 रुपए, एचआरए के 47500 रुपए व पीएफ के 100000 रुपए कम हो जाएंगे. यानी अब आपकी टैक्सेबल इनकम 640000 रुपए होगी. इस पर आपको कुल 42120 रुपए का टैक्स चुकाना होगा. जबकि यदि इसी वेतन पर न्यू टैक्स रिजीम लेते हैं तो आपको 750000 रुपए पर 39000 रुपए का टैक्स आएगा. यानी कि 3120 रुपए की बचत होगी.

hari gopal

हरिगोपाल पाटीदार, चार्टर्ड अकाउंटेंट

निवेश होने पर पुराने विकल्प में यह मिलेगा फायदा
आपकी वेतन से आय साढ़े नौ लाख रुपए है और आपके पास पर्याप्त निवेश है. तब यदि आप पुराना विकल्प आजमाते हैं तो आपको 50 हजार रुपए की स्टैंडर्ड डिडक्शन की छूट मिलेगी. इसके साथ ही प्रोफेशनल टैक्स 2500 रुपए व यात्रा भत्ता 15000 रुपए की छूट मिलेगी. साथ ही होम लोन ब्याज 82500, पीएफ 20000, स्कूल फी व बीमा 70000, होम लोग प्रिंसिपल अमाउंट 10000, हेल्थ इंश्योरेंस 10000 रुपए की छूट शामिल कर लें तो आपकी टैक्सेबल इनकम 690000 रुपए हो जाएगी. इस पर 52520 रुपए का टैक्स चुकाना होगा. जबकि यदि आपके पास उपरोक्त निवेश नहीं हैं और नया टैक्स विकल्प अपनाते हैं तो कुल टैक्स 70900 रुपए बनेगा. यानी निवेश करने पर आपको 17680 रुपए की बचत होगी.
यह भी पढ़ें : बढ़ सकती हैं माल भाड़ा की दरें, असर फल-सब्जियों से लेकर हर सामान पर पड़ेगा, जानिए क्या है वजह 

टैक्स की बचत करने के लिए इस महीने यहां कर सकते हैं निवेश
यदि आपके पास कोई निवेश नहीं है और आप टैक्स भी बचाना चाहते हैं, तो 31 मार्च तक निवेश करने का मौका है. आप इस एक महीने में जीवन बीमा, पीपीएफ, टैक्स सेविंग एफडी और ईएलएसएस जैसे विकल्पों में जरूरी निवेश करके टैक्स बचा सकते हैं.








Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments