Home कैरियर एकेडमिक ईयर 2020-21: कोरोना के बीच 2 नवंबर से दोबारा खुलेंगी यूनिवर्सिटीज,...

एकेडमिक ईयर 2020-21: कोरोना के बीच 2 नवंबर से दोबारा खुलेंगी यूनिवर्सिटीज, UGC ने इंस्टीट्यूट को ऑनलाइन, ऑफलाइन या दोनों ही तरीकों से पढ़ाने की दी छूट


  • Hindi News
  • Career
  • UGC Instructs Universities To Reopen From November 2, UGC Allowed The Institutes To Conduct Classes Online, Offline Or In Both Ways

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

3 महीने पहले

  • कॉपी लिंक

देश में फैले कोरोना वायरस की वजह से कई महीनों स्कूल-कॉलेज समेत सभी शिक्षण संस्थान बंद है। ऐसे में अनलॉक की प्रक्रिया के बीच बंद पड़ी देश भर की यूनिवर्सिटीज को दो नंवबर से फिर से खोला जाएगा। हालांकि, कोरोना के खतरे को देखते हुए यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन (UGC) ने संस्थानों को परिस्थितियों के आधार पर ऑनलाइन, ऑफलाइन या दोनों ही तरीकों से पढ़ाने का विकल्प दिया गया है। वहीं, UGC के निर्देश के बाद से ही यूनिवर्सिटीज ने भी इसे लेकर तैयारी शुरू कर दी है। इस दौरान अगर क्लासेस लगती है, तो कक्षाओं की कुल क्षमता के आधे स्टूडेंट्स को ही बुलाया जाएगा।

जल्द गाइडलाइन जारी करेगी UGC

कोरोना के बीच दोबारा कॉलेज खोलेने के लेकर UGC ने नई सुरक्षा गाइडलाइन पर भी काम शुरू कर दिया है। यह नई गाइडलाइंस एक नवंबर से पहले कभी भी जारी हो सकती है। इसके तहत कोरोना से बचाव के साथ ही कैंपस में आने वाले स्टूडेंट्स के स्वास्थ्य पर नजर रखने के लिए भी एक टीम तैनात की जाएगी। इस दौरान कैंपस में डॉक्टरों की एक टीम और एबुलेंस को तैयार रखा जाएगा, ताकि किसी भी स्टूडेंट को किसी भी तरह की दिक्कत हो तो उसे तुरंत आइसोलेट किया जा सके। इसके अलावा कैंपस में भी एक आइसोलेशन रूम तैयार किया जाएगा। यूनिवर्सिटी आने वाले हर टीचर, स्टूडेंट और दूसरे कर्मचारियों को थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ही एंट्री दी जाएगी।

ऑनलाइन या ऑफलाइन होगी पढ़ाई

इससे पहले सितंबर को जारी UGC के एकेडमिक कैलेंडर में यूजी- पीजी फर्स्ट ईयर की क्लासेस एक नवंबर से शुरू होना प्रस्तावित थी। हालांकि, अभी भी कोरोना संक्रमण को लेकर बने हालातों के कारण UGC ने अब यूनिवर्सिटी को यह विकल्प दिया है, कि अगर इंस्टीट्यूट खोलने की स्थिति नहीं बनती है, तो ऑनलाइन ही पढ़ाई शुरू की जाएं, लेकिन एकेडमिक कैलेंडर में अब कोई बदलाव नहीं होगा। इसका मतलब है कि यूनिवर्सिटी को नए सत्र की पढ़ाई दो नवंबर से ही शुरू करनी होगी।

31 अक्टूबर तक पूरे करने होंगे एडमिशन

जारी कैलेंडर में UGC ने सभी यूनिवर्सिटीज से 31 अक्टूबर तक फाइनल ईयर की परीक्षाओं और एडमिशन प्रोसेस खत्म करने के भी निर्देश दिए थे। हालांकि, इस दौरान पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र और पंजाब जैसे राज्यों ने परीक्षा के लिए अतिरिक्त समय भी मांगा था, जिसके लिए UGC ने अनुमति दे दी थी। हालांकि, UGC ने सभी से फिर भी 15 नवंबर तक सारी परीक्षाएं खत्म करने को कहा था। ऐसे में 15 नवंबर के बाद भी इन राज्यों में भी पढ़ाई शुरू हो जाएगी।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments