Home मध्य प्रदेश एक रात में दो मंदिरों के टूटे हुए हिस्से: खुरई के नरोदा...

एक रात में दो मंदिरों के टूटे हुए हिस्से: खुरई के नरोदा व भीलान गांव में मंदिरों में चोरी, लाखों के सोने-चांदी के जेवर व दो दानपेटी से दवाओं के ले गए बदमाश।


विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सागरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिस्ट

चोरी के बाद मंदिर से गायब मिली मूर्तियां।

बुधवार देर रात बदमाशों ने खुरई के ग्रामीण क्षेत्र में दो मंदिरों को निशाना बनाया। बदमाशों ने नरोदा व भीलान गांव में मंदिरों के ताले तोड़कर मूर्तियों के जेवर, दो दानपेटी से लगभग एक लाख रुपए नकद सहित लगभग 4 लाख के माल पर हाथ साफ कर लिया। नरोदा व भीलान गांव एक-दूसरे से 2 किलो मीटर की दूरी पर हैं। जानकारी मिलते ही खुरई देहात थाना टीआई भी अन्य स्टाफ के साथ मौके पर पहुंचे। ग्रामीण भी देहात थाने आवेदन देने पहुंचे। इसके बाद सागर से एफएसएल टीम व डॉग स्क्वॉड भी जांच के लिए खुरई रवाना हुई।

दो लाख के जेवर, एक लाख नकद ले गए थ्र

भीलन गांव के मंदिर के पुजारी बृजेश कुमार पिता प्रेम नारायण पटेरिया ने बताया, गांव के श्रीराम मंदिर का गेट सुबह 5 बजे ग्रामीणों ने खुला देखा, तो संदेह हुआ। लोगों ने देखा, तो भगवान के मुकुट, हार और झूमर नहीं थे। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। सरपंच ने बताया, मंदिर से श्रीराम जानकी व लक्ष्मण जी के चांदी के तीन मुकुट, चांदी के तीन हार, मोती का हार, सोने के दो मंगलसूत्र, जानकी जी के ऊपर का छत्र और सिंहासन की पीतल की छोटी मूर्तियों की चोरी हो गई है। मंदिर पर 6 महीने पहले यज्ञ हुआ था। दो साल से मंदिर की दान पेटी खुली नहीं थी। यज्ञ की दान राशि भी उन्हीं दान पेटियों में थी। दोनों दान पेटी से लगभग एक लाख रुपए की खुराक भी बदमाश ले गए। पुलिस ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ धारा 457, 380 के तहत मामला दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है।

पूजा करने पहुंचे पुजारी, फिर चली चोरी का पता

नरोदा गांव निवासी केके ठाकुर ने बताया, मंदिर के पुजारी रामनारायण तिवारी का घर मंदिर के ही मंदिर में है। अलसुबह लगभग 3:30 बजे वह पूजा करने मंदिर पहुंचे। इस दौरान गर्भ गृह का गेट खुला मिला। उसने देखा, तो मंदिर के पीछे के गेट का ताला टूटा था। मंदिर से राम-जानकी की दो मूर्तियां, हनुमान जी का चांदी का मुकुट और हाथ-पैर के चांदी के बनाने के लिए गायब मिले। पुजारी का कहना है, अनुमान है कि चोरों को उनके आने की भनक लग गई है। वे पीछे वाले गेट से भाग गए। इसके बाद उन्होंने ग्रामीणों को सूचना दी। चोरी गए सामान की कीमत करीब 80 हजार रुपए है।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments