Home देश की ख़बरें एक ही बात बार-बार बोलकर चाकू से किया 56 var, और फिर...

एक ही बात बार-बार बोलकर चाकू से किया 56 var, और फिर यह कहकर चला गया


बहन से मोबाइल पर बात करने से नाराज होकर एक युवक ने चाकू से 56 वार कर दूसरे युवक की हत्या कर दी। (सांकेतिक फोटो)

पुलिस (पुलिस) ने मौके पर पहुंचकर युवक को अस्पताल (अस्पताल) में भर्ती कराया। जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। घटना के कुछ देर बाद ही आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया गया है।

नोएडा। मना किया था बात मत करो, चाकू (चाकू) का पहला वार। मना किया था बात मत करो, चाकू का दूसरा वार। और इस तरह से हर बार एक ही बात बोलकर उसने चाकू से लगातार 56 वार किए। एक बार भी यह नहीं देखा कि किस चाकू से मार रहा है वह जिंदा है या मर गया (मर गया)। और फिर जब आरोपी चाकू 56 वार करने के बाद जाने लगा तो इस बार एक नई लाइन बोली कि “निर्दिष्ट था मेरी बहन से बात मत कर”। जिसे चाकू मार दिया गया, वह युवक काफी देर तक सड़क किनारे ही पड़ा रहा।

ग्रेटर नोएडा के बादलपुर की है सनसनीखेज घटना

एक युवक को चाकू के 56 वार से मौत के घाट उतारने की यह घटना ग्रेटर नोएडा के थाना बादलपुर की है। विपिन और दीपक गांव गुडेजा की है। एक मार्च की शाम विपिन ने दीपक की चाकू से गोदकर हत्या कर दी है। लेकिन घटना के कुछ देर बाद ही पुलिस ने विपिन को गिरफ्तार कर लिया। विपिन ने पूछताछ के दौरान पुलिस को बताया कि घटना के वक्त वह जीटी रोड पर बने ओम रेस्टोरेंट गया था। जहां उसे शक भी दिखाई दिया।

पहले भी निर्दिष्ट था बहन से बात मत करोविपिन का कहना है कि दीपक उसकी बहन से मोबाइल पर बात करता था। उन्होंने कई बार दीपक को मनाया था कि वह उसकी बहन से बात नहीं करेगी। लेकिन दीपक नहीं माना। जिसके कारण विपिन खुद को अपमानित महसूस कर रहा था। इसी के चलते जब एक मार्च को दीपक रेस्टोरेंट पर मिला तो उसे फिर से मनाया गया। लेकिन इसी दौरान फर में आकर दीपक पर लगातार एक के बाद एक चाकू से 56 वार कर दिए।

दिल्ली-एनसीआर में यहाँ मिल 60 से लेकर 4 हज़ार वर्ग मीटर के प्लॉट लेने का मौका है, 30 मार्च तक कर सकते हैं आवेदन

घटना के बारे में यह कहना है पुलिस का

बीएसपी सेंट्रल हरिश चंद्र ने बादलपुर की इस घटना के बारे में जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि आरोपी और मृतक दोनों गांव गुडेजा के रहने वाले हैं। पत्रकारों की जांच में पता चला है कि मृतक दीपक आरोपी विपिन की बहन से लगातार फोन पर बात करता था। आरोपी को जब इसकी भनक लगी, तो उसने कई बार मृतक को निर्दिष्ट किया, लेकिन दीपक ने उसकी एक न सुनी।







Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments