Home देश की ख़बरें कर्नाटक में सेक्स फॉर जॉब स्कैंडल: भाजपा के मंत्री ने सीडी सामने...

कर्नाटक में सेक्स फॉर जॉब स्कैंडल: भाजपा के मंत्री ने सीडी सामने आने के बाद इस्तीफा दिया, नौकरी दिलाने के बहाने यौन शोषण और आरोप


विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बेदुरू10 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

परिजन का आरोप है कि जल संसाधन मंत्री रमेश जरकीहोली (बीच में) ने कर्नाटक पावर ट्रांसमिशन कॉरपोरेशन लिमिटेड (KPTCL) में महिला को नौकरी दिलाने के नाम पर उसका यौन उत्पीड़न किया।

कर्नाटक के जल संसाधन मंत्री रमेश जरकीहोली ने सेक्स स्कैंडल में नाम सामने आने के बाद इस्तीफा दे दिया है। पटेल येदियुरप्पा सरकार में मंत्री जरकीहोली की एक सेक्स सीडी मीडिया में जारी हुई है। जरकीहोली एक महिला के साथ नजर आ रहे हैं। सीडी को राज्य के सामाजिक कार्यकर्ता दिनेश कल्लाहल्ली ने जारी किया है।

कल्लाहल्ली का आरोप है कि जरकीहोली ने कर्नाटक पावर ट्रांसमिशन कॉरपोरेशन लिमिटेड (KPTCL) में महिला को नौकरी दिलाने का झांसा दिया और उसका यौन उत्पीड़न किया। जरकीहोली के भाई और कर्नाटक मिल्क फेडरेशन के चेयरमैन बालाचंद्र ने मुख्यमंत्री येदियुरप्पा से इस मामले की जांच CID या CBI से कराने की मांग की।

कहां से आई कथित सीडी?
प्रदेश के सोशल वर्कर और नागरिक हक्कू होरता समिति के अध्यक्ष दिनेश कल्लाहल्ली ने बताया कि पीड़ित महिला के परिजन न्याय की मांग कर रहे हैं। मंगलवार को कल्लाहल्ली ने पुलिस कमिश्नर कमल पंत से भी मुलाकात की थी। उन्हें कब्बन पार्क पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करने के लिए कहा गया है। कल्लाहल्ली ने कहा कि हम इस मामले की सच्चाई सामने लाना चाहते हैं।

सोशल वर्कर और नागरिक हक्कू होरता समिति के अध्यक्ष दिनेश कल्लाहल्ली महिला के परिजन मिले।

सोशल वर्कर और नागरिक हक्कू होरता समिति के अध्यक्ष दिनेश कल्लाहल्ली महिला के परिजन मिले।

जरकीहोली ने सीएम येदियुरप्पा को लिखी चिट्ठी लिखी
रमेश जारकीहोली ने मंत्री पद से इस्तीफा देते हुए मुख्यमंत्री को एक पत्र लिखा है। इसमें उन्होंने कहा कि सह सीडी फर्जी है और मुझ पर लगे आरोप सरासर झूठे हैं। मामले की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए। मैं नैतिक आधार पर ResFA दे रहा हूं। इससे पहले उन्होंने मामले में नाम आने के बाद इसे राजनीतिक जानकारी दी थी। उन्होंने जांच के बाद आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

डिप्टी सीएम बोले- हनीट्रैप और ब्लैकमेलिंग की साजिश तो नहीं?
राज्य के डिप्टी सीएम सीएनश्वरनाथ नारायण ने कहा कि हमारे सामने कई बार ऐसे मामले आए हैं, जिनमें कंप्यूटिंग के तहत हनीट्रैपिंग और ब्लैकमेलिंग की गई है। जांच के बाद इस मामले का पूरा सच सामने आएगा।

केंद्रीय मंत्री ने कहा- अगर यह सच है तो शर्मनाक बात है

केंद्रीय मंत्री प्रहलाद जोशी ने कहा कि अभी हम किसी नतीजे पर नहीं पहुंच सकते। हमें सच्चाई जानने की जरूरत है। अगर यह सच है, तो यह शर्मनाक है। हम लोगों को नैतिक रूप से सही होने की जरूरत है। यह भाजपा की नीति है। इस मामले पर कांग्रेस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने मंत्री का इस्तीफा दिया था।

कथित सीडी के सामने आने के बाद कांग्रेस ने मंत्री को हटाने की मांग करते हुए राज्यभर में प्रदर्शन किया।अंग्रेस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने एफआईआर दर्ज करने की मांग की है।

कथित सीडी के सामने आने के बाद कांग्रेस ने मंत्री को हटाने की मांग करते हुए राज्यभर में प्रदर्शन किया।अंग्रेस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने एफआईआर दर्ज करने की मांग की है।

खबरें और भी हैं …





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments