Home मध्य प्रदेश कार्रवाई के विराेह में कांग्रेस: ​​गुंडे के कब्जे से साढ़े तीन कराएं...

कार्रवाई के विराेह में कांग्रेस: ​​गुंडे के कब्जे से साढ़े तीन कराएं रुपए की डेढ़ बीघा सरकारी जमीन डेढ़ घंटे में मुक्त करवाई


विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रतलाम6 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट
  • दाे बार जिलाबदर हाे चुके नाहरु खान ने खाचरौद रोड पर कर रखी थी कब्जा, 31 मामले दर्ज

खाचरौद रोड पर गुंडे नाहरु उर्फ ​​चाकू के कब्जे से पुलिस और प्रशासन ने बुधवार को साढ़े तीन करोड़ रुपए कीमत की डेढ़ बीघा जमीन मुक्त करवाई। उसके खिलाफ स्टेशन रोड थाने में लूट, डकैती, हत्या, हत्या का प्रयास, घर में घुस मारपीट सहित अन्य लहरों में 31 लोगों की मौत हुई है। वह दो बार जिलाबदर हो चुका है। सुबह 10:30 बजे से शुरू हुआ अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही दोपहर 12 बजे तक चली गई। अलग-अलग सात निर्माण तोड़े गए। कार्रवाई के विरोध में कांग्रेस ने कलेक्टोरेट में धरना देकर एडीएम को ज्ञापन सौंपा। अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही खाचरौद रोड पर माहेश्वरी प्रोटीन्स के पास हुई है। लगभग 10:30 बजे एसडीएम अभिषेक गेहलोत, सीएसपी हेमंत चौहान, स्टेशन रोड थाना प्रभारी किशोर पाटनवाला, माणकचौक थाना प्रभारी अयोधन खान, तहसीलदार नवीन गर्ग पुलिस फोर्स और राजस्व विभाग के कर्मचारियों के साथ जेसीबी, रोशनीराव और फायरब्रिगेड की लॉरी लेकर पहुंचे। शेरानीपुरा निवासी मसरूफ पिता अब्दुल हमीद सहित कई लोग मौजूद थे। उपस्थित लोगों और महिलाओं ने कार्यवाही का विरोध किया। पुलिस ने लोगों को बचाया और जेसीबी से निर्माण तुड़वाना शुरू किया। एसडीएम अभिषेक गेहलोत ने बताया कि कब्जा हटाने के लिए मंगलवार को नोटिस दिया गया था। बुधवार को समूह-बल के साथ सुबह 10:30 बजे पुलिस और प्रशासन की टीम पहुंची और कब्जे की जमीन पर हुआ निर्माण जेसीबी से तुलाई की गई।

तीन जेसीबी के साथ समूह सरकारी जमीन के अलावा अन्य जमीनों पर भी कब्जा कर लिया गया है- कलेक्टर गाेपालचंद्र डाड ने बताया कि दो गोडाउन, दो मकान, दो तबले और एक तिराहे पर पांच हजार वर्गफीट जमीन पर अवैध निर्माण और शेष भूमि पर चने की फसल बो कर अतिक्रमण किया गया था। एक गोडाउन इंदौर टेंट हाउस को 15 हजार रुपये प्रति माह किराए पर दे दिया गया था। आरोपी ने डेवलपर नं। 240 और मिडटाउन की बाउंड्री के बीच की .200 हेक्टेयर जमीन और अखिल भारतीय पुष्कर सेवा परिषद की 0.200 हेक्टेयर भूमि और तीन अन्य व्यक्तियों की भूखंडों पर भी अवैध कब्जा कर रखा था, जिसे मुक्त करवाया गया है।

कार्रवाई: 32 गुंडों से 30 करोड़ से अधिक भूमि मुक्त कराए गए हैं

एएसपी एसके पाटदार ने एक साल से गुंडे, तस्कर, माफिया, सूदखोरों के खिलाफ कार्रवाई में लगभग 30 करोड़ रुपये से अधिक कीमत की भूमि मुक्त करवाई है। जावरा में 20, नामली में दो, स्टेशन रोड और बिलपांक थाने के तीन-तीन क्षेत्रों में 32 आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही चल रही है। इसके अलावा अर्जुन नगर में झोपडिय़ँ बनाकर और खेती कर लोगों ने नगर निगम की 18.344 हेक्टेयर भूमि पर कब्जा कर लिया था। पिछले साल कार्रवाई कर लगभग 40 करोड़ रुपये की कीमत के शासकीय भूमि मुक्त करवाई गई थी।

90 लोगों की सूची दी है
एसपी गौरव तिवारी ने बताया जिले के गुंडे, माफिया, तस्कर, सूदखोर 90 लोगों की सूची जिला प्रशासन ने दी है। आपराधिक तत्वों के खिलाफ कार्यवाही की जा रही है। जिला प्रशासन अतिक्रमण और अन्य जानकारी एकत्र कर रहा है। बुधवार को खाचरौद रोड पर अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही की है। पहले जावरा, नामली और बिलपांक थाना क्षेत्र के स्थानों पर कार्यवाही हो चुकी है।

हत्या का भी मामला है
सीएसपी हेमंत चौहान ने आरोपी नाहरु पिता छोटे खां के खिलाफ स्टेशन रोड थाने में लूट, डकैती, हत्या, हत्या का प्रयास, घर में घुसकर मारपीट और बलवा, धार्मिक स्थान का दुरुपयोग, सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने सहित अन्य लहरों में 31 प्रकरण दर्ज किए। है। इनमें से 6 प्रकरण आर्म्स एक्ट के हैं। अपराधी किस्म का व्यक्ति होने से दो बार उसे जिलाबदर किया जा चुका है।

तीन बिस्वा जमीन है
मसरूफ ने बताया कि तीन बिस्वा जमीन पर भूसा रखने के लिए शेड बने हुए थे। पिताजी अब्दुल हमीद पिता अब्दुल अहमद खान के समय से नजुल की तीन बिस्वा जमीन पर निर्माण है। आवश्यक शुल्क जमा करवाते हैं। बाद में मवेशी बांधने के लिए 80 फीट जमीन पर निर्माण किया गया था। जिस स्थान पर अतिक्रमण तोड़ा गया है वह मेरी और रिश्तेदार जतन की जमीन है।

विरोध: दस्तावेज़ देने का समय नहीं दिया गया

नगरनिगम की पूर्व नेता प्रतिपक्ष यास्मीन शेरानी ने बुधवार को कलक्टरक्ट में धरना दिया। अन्य कांग्रेस के अन्य नेता साथ थे। निजी जमीन के आसपास हुए निर्माण को बना सूचना के तोड़ने का विरोध करते हुए एडीएम जमना अलोड को ज्ञापन सौंपते हैं। पक्ष रखने के लिए संबंधित को सूचना नहीं दी। अतिसंवेदनशीलता जक का खाँ को जानकारी नहीं है कि उसके खिलाफ तहसील न्यायालय में कोई प्रकरण दर्ज नहीं किया गया है। दोपहर 4 बजे नोटिस दिया और सुबह निर्माण तोड़ दिया। जतन खाँ सीमंत कृषक है। डेवलपर संख्या 240 की 1.940 हेक्टेयर भूमि है। शुद्धि को अपना पक्ष रखने का मौका देने और दस्तावेज प्रस्तुत करने की बात कही लेकिन सुबह 11 बजे कार्यवाही कर दी।

खबरें और भी हैं …





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments