Home उत्तर प्रदेश काशी को मिला एक और सौगात, सीएनजी ड्रा का हुआ ट्रायल रन,...

काशी को मिला एक और सौगात, सीएनजी ड्रा का हुआ ट्रायल रन, पीएम करेंगे स्टेशन का उद्घाटन


केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान
– फोटो: twitter.com/dpradhanbjp

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

* केवल ₹ 299 सीमित अवधि की पेशकश के लिए वार्षिक सदस्यता। जल्दी से!

ख़बर सुनना

गंगा में सीएनजी नाव के ट्रायल रन का उद्घाटन शनिवार को केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने सीएनजी गैस भर कर किया। इस दौरान निगरानीिया घाट पर उन्होंने घोषणा की कि इस स्टेशन को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद खोलेंगे। गंगा में सीएनजी नाव चलने से प्रदूषण कम होगा, वहीं नाविकों की आय में भी वृद्धि होगी।

प्रधानमंत्री ऊर्जा गंगा योजना की शुरुआत काशी से हुई थी और अब सीएनजी से नाव चलने के कारण यह योजना टेक्निकली मां गंगा के अंदर भी पहुंच गई है। सीएनजी से चलने वाली नाव का तकनीकी परीक्षण हुआ है। जल्द ही प्रधानमंत्री इस योजना का बड़े पैमाने पर लोकार्पण करेंगे। विश्व के आकर्षण का केंद्र काशी में प्रधान की योजना के अनुरूप इसे और सुंदर बनाया जा रहा है।

निरीक्षण के दौरान केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री ने कहा कि एशियािया घाट का काशी की विरासत के अनुरूप विकास किया जा रहा है। यहां चिल्ड्रेन पार्क, मेडिटेशन पार्क, फूड प्लाजा, नौका विहार की सुविधा सहित अन्य सुविधाएं उपलब्ध होंगी।

काशी स्मार्ट सिटी बनाने में स्मार्ट सिटी कारपोरेशन, एनबीसीसी, इंडियन आयल कारपोरेशन लिमिटेड, ईआईएल भी योगदान कर रहे हैं। इससे पहले केंद्रीय मंत्री ने सीरगोवर्धन स्थित संत रविदास मंदिर पर मत्था टेका और अधिकारियों ने भंडिया घाट का निरीक्षण करने के बाद नौका से ही विश्वनाथ कॉरिडोर को भी निहारा। वहीं, सर्किट हाउस में संबंधित विभागों के अधिकारियों ने केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री को बैठक और कार्यों की प्रगति की समीक्षा की।

पत्रकारों से रूबरू केंद्रीय मंत्री ने एलपीसी की कीमतों पर कहा कि ईंधन उत्पादक देशों में अमेरिका के संयुक्त सचिव, रूस, यूएई, कतर, कुवैत से ईंधन उत्पादकता बढ़ाने को लेकर सार्थक योगदान चल रहा है। यह संकट का दौर है, हम भी चाहते हैं कि लोगों पर अतिरिक्त बोझ न पड़े। कोरोना के कारण पूरा विश्व परेशान हो रहा है। यूरोपीय देशों ने बिजनेस को ध्यान दिया लेकिन हमने देशवासियों की जान को ध्यान में रखा।

गोरखपुर-सोनभद्र में सबसे अधिक उज्ज्वला गैस कनेक्शन

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत एक करोड़ नए कनेक्शन देने की तैयारी शुरू की गई है। लगभग 98 प्रतिशत घरों में गैस पहुंच गई है लेकिन दो प्रतिशत अब भी ऐसे घर हैं जहां गैस कनेक्शन नहीं है। उन्हें शत प्रतिशत करने की व्यवस्था चल रही है। यूपी में सबसे अधिक उज्ज्वला कनेक्शन गोरखपुर और सोनभद्र इलाके में दिया गया है।

उन्होंने कहा कि सरकार में कदम रखने के बाद एलपीजी गैस कनेक्शन की वृद्धि पर ध्यान दिया गया और 6 साल के अंदर 14 करोड़ से बढ़कर गैस कनेक्शन 28 करोड़ हो गए। हर घर में गैस पहुंचे इसके लिए पीटन पर काम हो रहा है।

हमारी कोशिश है कि हर घर में स्वच्छ ईंधन पहुंचे। गंगा में नौका भी सीएनजी से चले इसकी शुरुआत हो चुकी है और 2021 तक हम लंगी छलिंग लगाने जा रहे हैं। लगभग 2000 नौकाओं को सीएनजी में तब्दील किया जा रहा है। प्रदेश में सीएनजी को बढ़ावा देने की योजना पर तेजी से काम हो रहा है। आने वाले समय में यूपी में सीएनजी वाहन ही दौड़ेंगे।

जूते-चप्पल की दुकान पर ठिठक गए पेट्रोलियम मंत्री के कदम
संत रविदास जयंती के उपलक्षित में शहर में मौजूद पेट्रोलियम मंत्री जब शहर के अंधरापुल से गुजरे तो जूता-चप्पल बाजार देख पड़ गए। कार से उतरकर रैदासी समाज के लोगों से मुलाकात की और संत रविदास के जीवन चरित्र का वर्णन किया। इस दौरान जूता विक्रेता लालबहादुर से मंत्री ने एक चप्पल भी खरीदा।

गंगा में सीएनजी नाव के ट्रायल रन का उद्घाटन शनिवार को केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने सीएनजी गैस भर कर किया। इस दौरान निगरानीिया घाट पर उन्होंने घोषणा की कि इस स्टेशन को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद खोलेंगे। गंगा में सीएनजी नाव चलने से प्रदूषण कम होगा, वहीं नाविकों की आय में भी वृद्धि होगी।

प्रधानमंत्री ऊर्जा गंगा योजना की शुरुआत काशी से हुई थी और अब सीएनजी से नाव चलने के कारण यह योजना टेक्निकली मां गंगा के अंदर भी पहुंच गई है। सीएनजी से चलने वाली नाव का तकनीकी परीक्षण हुआ है। जल्द ही प्रधानमंत्री इस योजना का बड़े पैमाने पर लोकार्पण करेंगे। विश्व के आकर्षण का केंद्र काशी में प्रधान की योजना के अनुरूप इसे और सुंदर बनाया जा रहा है।

निरीक्षण के दौरान केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री ने कहा कि एशियािया घाट का काशी की विरासत के अनुरूप विकास किया जा रहा है। यहां चिल्ड्रेन पार्क, मेडिटेशन पार्क, फूड प्लाजा, नौका विहार की सुविधा सहित अन्य सुविधाएं उपलब्ध होंगी।

काशी स्मार्ट सिटी बनाने में स्मार्ट सिटी कारपोरेशन, एनबीसीसी, इंडियन आयल कारपोरेशन लिमिटेड, ईआईएल भी योगदान कर रहे हैं। इससे पहले केंद्रीय मंत्री ने सीरगोवर्धन स्थित संत रविदास मंदिर पर मत्था टेका और अधिकारियों ने भंडिया घाट का निरीक्षण करने के बाद नौका से ही विश्वनाथ कॉरिडोर को भी निहारा। वहीं, सर्किट हाउस में संबंधित विभागों के अधिकारियों ने केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री को बैठक की और कार्यों की प्रगति की समीक्षा की।

पत्रकारों से रूबरू केंद्रीय मंत्री ने एलपीसी की कीमतों पर कहा कि ईंधन उत्पादक देशों में अमेरिका के संयुक्त सचिव, रूस, यूएई, कतर, कुवैत से ईंधन उत्पादकता बढ़ाने को लेकर सार्थक योगदान चल रहा है। यह संकट का दौर है, हम भी चाहते हैं कि लोगों पर अतिरिक्त बोझ न पड़े। कोरोना के कारण पूरा विश्व परेशान हो रहा है। यूरोपीय देशों ने बिजनेस को ध्यान दिया लेकिन हमने देशवासियों की जान को ध्यान में रखा।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments