Home मध्य प्रदेश किसान की हत्या: लापता किसान का शव तालाब के पास पड़ा था,...

किसान की हत्या: लापता किसान का शव तालाब के पास पड़ा था, हत्या करने वालों ने साफी से गला घोंटे सिर पर पटका पत्थर


विज्ञापन से परेशान हैं? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

गोलमाल करनेवाला7 घंटे पहले

  • कॉपी लिस्ट

तालाब किनारे पड़ा किसान राजेन्द्र का शव, शुक्रवार रात परिजन तलाशते कई बार यहां से गुजरे, लेकिन टूटे में होने के कारण शव दिखाई नहीं दिए।

  • पुरानी छावनी के रायरू की घटना
  • शाम को खेत से घर के लिए निकला था रात को मिला शव

लापता किसान का शव खेत और घर के बीच रास्ते पर तालाब किनारे पड़ा है। किसान की हत्या की गई है। साफी से गला घोंटने के बाद सिर पर पत्थर पटका गया है। घटना पुरानी छावनी के रायरू में शुक्रवार रात की है। किसान शुक्रवार शाम 7 बजे खेत से घर के लिए निकला था, लेकिन केवल उससे कुछ पता नहीं था। रात 12 बजे उसका शव मिला है। हत्या करने वाले और उसकी वजह दोनों ही अज्ञात हैं।

पुरानी छावनी थाना क्षेत्र के रायरू गांव निवासी 52 वर्षीय राजेन्द्र राजपूत पुत्र रामरतन राजपूत किसान है। रायरू फॉर्म के पास उनका खेत है। रोज की तरह शुक्रवार को भी वह खेत पर गए थे। शाम करीब सात बजे तक काम चला। इसके बाद वह देर रात तक घर नहीं पहुंचे तो परिवार वालों के साथ ही आसपास के लोग तलाश में जुट गए। किसान के लापता होने की सूचना पुलिस को दी। काफी देर तक तलाश करने के बाद रात 12 बजे घर और खेत के बीच तालाब किनारे किसान का शव मिला है। किसान के गले में साफी कसी हुई थी। जिससे साफ किया गया कि तलवार ने उसका गला इसी से कसा है। इसके बाद उसके सिर पर पत्थर पटका गया है। पुलिस की पूर्व गिरने के मामले में हत्या का बताया जा रहा है।

हत्या आरोपी, कारण अज्ञात

पुलिस अफसरों ने जब मृतक के परिवार वालों व गांव के लोगों से पूछताछ की तो पता चला कि मृतक की ना तो किसी से दुश्मनी थी और ना ही किसी से विवाद हुआ है। अब पुलिस पता लगा रही है कि हत्या के पीछे क्या कारण है और हत्या करने वाले कौन हो सकते हैं।

एक बेटा बेटी है परिवार में

बताया गया है कि मृतक के परिवार में एक बेटा प्रमोद राजपूत और बेटी ललिता और पत्नी है। सभी का जीवन किसान पर ही निर्भर था।

खबरें और भी हैं …





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments