Home खेल जगत कोहली ने टीम इंडिया को बनाया: विराट के कप्तान बनने के बाद...

कोहली ने टीम इंडिया को बनाया: विराट के कप्तान बनने के बाद भारत ने सबसे ज्यादा 39 टेस्ट जीते, इंग्लैंड को पीछे छोड़ दिया


विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अहमदाबादएक मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

विराट कोहली के कप्तान बनने के बाद भारतीय टेस्ट टीम विश्व में बस बन गई है। कोहली को पहली बार 9 दिसंबर 2014 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एडिलेड टेस्ट में कप्तानी सौंपी गई थी। यह मैच भारतीय टीम के 48 रन से हार गया था, लेकिन तब से अब तक टीम ने 66 टेस्ट में से सबसे ज्यादा 39 टेस्ट जीते हैं। दूसरे नंबर पर इंग्लैंड है, जिसने 81 में से 38 टेस्ट जीते हैं।

टीम इंडिया ने इस साल की शुरुआत में ऑस्ट्रेलिया को उसी के घर में 2-1 से टेस्ट सीरीज में अपना घर बनाया। इसके बाद अब घरेलू टेस्ट सीरीज में इंग्लैंड के खिलाफ 2-1 की बढ़त बना ली है। सीरीज का आखिरी टेस्ट 4 मार्च से अहमदाबाद में खेला जाएगा। यह मैच जीतने या ड्रॉ कराने की स्थिति में टीम इंडिया आईसीसी टेस्ट रैंकिंग के फाइनल में पहुंच जाएगी।

धोनी के संन्यास के बाद कोहली को resyular कप्तानी मिली
दिसंबर 2014 में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर 4 टेस्ट की सीरीज के पहले मैच में रेसलर कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने आराम किया था। तब कोहली कोक्षितानी सौंपी गई थी। यह मैच भारत हार गया था। अगले दो टेस्ट में धोनी ने कप्तानी की, जिसमें से एक में हार मिली थी और एक टेस्ट ड्रॉ रहा था।

धोनी ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 26 दिसंबर 2014 को करियर का आखिरी टेस्ट खेला था। इसके बाद उन्होंने टेस्ट से संन्यास ले लिया था। आखिरी टेस्ट में कोहली ने कप्तानी की और यह मैच ड्रॉ रहा। श्रृंखला में भारत को 2-0 से हार मिली थी। धोनी के संन्यास के बाद कोहली को रेस्युलर कप्तान बनाया गया।

2015 से अब तक भारतीय टीम को 2 कप्तान मिले
6 जनवरी 2015 से विराट कोहली भारतीय टेस्ट टीम के रेयुलर कप्तान रहे हैं। इस बीच उन्होंने 59 टेस्ट में कप्तानी करते हुए भारत को 35 में जीत दिलाई है। इस दौरान टीम ने 14 टेस्ट हारे और 10 ड्रॉ खेले हैं। इस बीच कोहली की गैरमौ स्वागी में अजिंक्य होने ने 5 टेस्ट में कमान संभाली है। इस दौरान वे एक ही मैच नहीं हारे। रहाणे ने 4 टेस्ट जीते और एक ड्रॉ खेला है।

रहाणे कीक्षितानी में ऑस्ट्रेलिया को वही के घर में उपकरण
रहाणे ने अपनी कप्तानी में ही पिछली सीरीज में ऑस्ट्रेलिया को उसी के घर में 2-1 से शिकस्त दी। इस सीरीज के पहले मैच में 14 दिसंबर 2020 को कोहली ने कप्तानी की थी, जिसमें हार मिली थी। इसको बाद कोहली पैटरनिटी लीव पर चले गए थे। तब रहाणे ने कमान संभाली और इतिहास रच दिया।

कोहली के दौर में 3 ही कप्तान 20+ टेस्ट जीत सके
विराट कोहली की कप्तानी के दौर में दुनिया के 3 ही कप्तान अपनी टीम को 20 से ज्यादा टेस्ट जिता सके हैं। इस दौरान कोहली ने सबसे ज्यादा 35 मैच जीते हैं। उनके बाद के इंग्लिश कप्तान जो रूट हैं, जिन्होंने 49 में से 26 टेस्ट जीते हैं। तीसरे नंबर पर केन विलियम्सन हैं, जिन्होंने अपनी कप्तानी में न्यू टीम को 35 में से 21 टेस्ट में जीत दिलाई है।

कोहली सबसे सफल भारतीय टेस्ट कप्तान
सबसे ज्यादा 35 टेस्ट जीतने के साथ ही कोहली सबसे सफल भारतीय कप्तान हैं। उनके बाद महेंद्र सिंह धोनी का नाम है, जिन्होंने अपनी कप्तानी में टीम इंडिया को 60 में से 27 टेस्ट में जीत दिलाई थी। तीसरे नंबर पर सौरव गांगुली हैं। उनकी कप्तानी में भारतीय टीम ने 49 में से 21 टेस्ट जीते थे।

विराट ने 92 वनडे और 40 टी -20 में कप्तानी की
कोहली ने अब तक 92 वनडे में भारतीय टीम की कप्तानी की है, जिसमें से 63 मैच जीते और 26 में हार मिली। एक मुकाबला टाई और 2 बेनतीजा रहा। करियर में कोहली ने 40 टी -20 में टीम इंडिया की कमान संभाली। इसमें टीम को 24 में जीत और 12 में हार मिली। टाई और बेनतीजा रहे 2-2 से।

खबरें और भी हैं …





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments