Home देश की ख़बरें गुजरात में मिस्त्री स्टोन: अहमदाबाद के पार्क में स्टील का छी संरचना,...

गुजरात में मिस्त्री स्टोन: अहमदाबाद के पार्क में स्टील का छी संरचना, अब तक दुनिया के 30 शहरों में नजर आ चुकी है


विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अहमदाबाद2 घंटे पहले

  • कॉपी लिस्ट

अहमदाबाद के थलगे इलाके में स्थित सिम्फनी पार्क में नजर आई यह मिस्त्री मोनोलिथ है।

अब तक दुनिया के 30 अलग-अलग शहरों में नजर आ चुकी मिस्त्री मोनोलिथ अब भारत में दिखाई दी है। स्टील का यह देवी संरचना गुरुवार को अहमदाबाद के सिम्फनी पार्क में नजर आया। थलगे इलाके में मौजूद पार्क में दिखे मोनोलिथ की ऊंचाई 6 फीट से ज्यादा है। अभी तक यह पता नहीं चला है कि यह संरचना कहां से आई है।

अहमदाबाद मयुनिसिपल कोर्प और सिम्फनी कंपनी ने मिलकर पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप में इस पार्क को बनाया था। लेकिन, यह मोनोलिथ कहां से आया इसकी जानकारी न तो कोर्प के अधिकारियों को है, न ही सिम्फनी कंपनी के लोगों को इसके बारे में कुछ पता है। पार्क में काम करने वाले किसी कर्मचारी ने भी आज से पहले इसे नहीं देखा।

उद्यान में काम करने वाले माली ने कहा, मिस्त्री मोनोलिथ शनिवार की शाम तक यहां मौजूद नहीं था।

उद्यान में काम करने वाले माली ने कहा, मिस्त्री मोनोलिथ शनिवार की शाम तक यहां मौजूद नहीं था।

शनिवार शाम तक पार्क में स्ट्रक्चर नहीं था
पार्क में काम करने वाले माली के मुताबिक, शनिवार की शाम तक यहां कोई स्ट्रक्चर नहीं था। लेकिन, रविवार सुबह जब वे ड्यूटी पर आए तो स्टील का स्ट्रक्चर देखकर चौंक गए। उन्होंने गार्डन मैनेजर को बताया कि वे भी दंग रह गए। इसके बाद कई लोगों से पूछताछ की गई, लेकिन सभी ने इसे पहली बार दिखाई देने की बात कही।

स्टील के इस तिकोने स्ट्रक्चर के ऊपर कुछ नंबर लिखे हुए हैं।  इसके ऊपर एक सिंबल भी बना हुआ है।

स्टील के इस तिकोने स्ट्रक्चर के ऊपर कुछ नंबर लिखे हुए हैं। इसके ऊपर एक सिंबल भी बना हुआ है।

मोनोलिथ देखने उमड़ी भीड़
अचानक दिखाई देने वाले स्टील के इस तिकोने स्ट्रक्चर के ऊपर कुछ नंबर लिखे हुए हैं। इसके ऊपर एक सिंबल भी बना हुआ है। पार्क में इसे देखने के लिए लोगों की भीड़ इस कदर उमड़ रही है कि संभालना मुश्किल हो गई है। लोग इसके साथ सेल्फी ले रहे हैं।

अब तक दुनिया के 30 अलग-अलग शहरों में मिस्त्री मोनोलिथ दिखाई दे चुके हैं।  हर जगह इसका आकार तिकोना ही पाया गया है।

अब तक दुनिया के 30 अलग-अलग शहरों में मिस्त्री मोनोलिथ दिखाई दे चुके हैं। हर जगह इसका आकार तिकोना ही पाया गया है।

साइंस फिक्शन स्टोरी में इसका जिक्र है

यात्रा में कई जगह मोनोलिथ अचानक ही आते हैं। इन्हें मिस्त्री स्टोन के नाम से भी जाना जाता है। कई थ्योरीज में उनके बनने को लेकर का काम बताया गया है। हालांकि मोनोलिथ का स्ट्रक्चर हर जगह तिकोना ही रहा है। साइंस फिक्शन बुक अ स्पेस ओडिसी में इस तरह के देवी मोनोलिथ का जिक्र मिलता है। इस पुस्तक पर Google में इसी नाम से एक फिल्म भी बनी है।

एक स्पेस ओडिसी बुक के मुताबिक, पृथ्वी ने पृथ्वी पर कुछ मोनोलिथ लगाए थे, जिससे स्पेस में साथी की के साथ संपर्क किया जा रहा था। मोनोलिथ के माध्यम से ही पृथ्वी पर प्री हिस्टॉरिक टाइम की एक जाति के लोगों के दिमाग का विकास किया गया था। इसके नतीजे के तौर पर केवल आधुनिक मनुष्यों का जन्म हुआ है।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments