Home मध्य प्रदेश गैंग्स ऑफ ड्रगवाली आंटी: पहले अश्लील चैट करती है, फिर वीडियो चैट...

गैंग्स ऑफ ड्रगवाली आंटी: पहले अश्लील चैट करती है, फिर वीडियो चैट ब्लैकमेल करती है, उधारी में ड्रग्स देती है, 5 दिन में कीमत नहीं मिलती है तो वसूलती में 100% ब्याज था


विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

इंदौर16 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

आफीन ने सोशल मीडिया पर अलग-अलग पेज बना रखे थे, ये पैसा देकर सब्सक्राइब करना पड़ता है।

ड्रग्स वाली आंटी प्रीति जैन के फरार पुत्र यश जैन की जिस गर्लफ्रेंड आफीन उर्फ ​​तरन्नुम खान को विजय नगर पुलिस ने गिरफ्तार किया है, उसने ना सिर्फ युवाओं को ड्रग्स का आदी बनाया, बल्कि कई लड़कियों को लाइव चैट के दौरान जिस्म की नुमाइश कर पैसे कमाने के तरीके भी पढ़े। पुलिस के मुताबिक, आफीन उर्फ ​​तरन्नुम के मोबाइल में सोशल मीडिया के अलग-अलग प्लेटफॉर्म पर कई पेज मिले हैं, जिसमें हजारों- लाखों फॉलोअर्स हैं। उन्हें पैसे देकर सब्सक्राइब करना पड़ता है। ये और अन्य लड़कियां देर रात लाइव चैट से जुड़कर जिस्म की नुमाइश करती थीं। अश्लील कंटेंट डालकर ये पेज पर लाइक और फॉलोअर्स बढ़वाती थे।

उधारी में ड्रग्स खाती और 100% ब्याज वसूलती थी
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार युवाओं को ड्रग्स की लत लगाने वाली आफीन धारी में भी ड्रग्स उपलब्ध करवाती थी। हालांकि तरन्नुम से उड़ी में माल लेना बहुत मंहगा पड़ता है। यदि माल लेने के बाद दो से तीन दिन में रुपए नहीं मिलते थे तो तरन्नुम फिर डबल ब्याज वसूलती थी। यानी किसी ने अगर 1000 का माल लिया तो उसे 2000 चुकाने होते थे। यदि कोई युवक समय पर उसका रुपया नहीं देता तो वह € वसूलने के लिए अपने घर तक पहुँच जाता था। इस तरह से उसने कई युवकों के घर पर वह हंगामा तक कर दिया है। हालांकि बदनामी के डर से कभी किसी ने उसकी शिकायत नहीं की।

आफ़ीन यश की प्रेमिका है और उसी के कहने पर इस धंधे में शामिल हुई।

आफ़ीन यश की प्रेमिका है और उसी के कहने पर इस धंधे में शामिल हुई।

अश्लील चैट करता है और फिर उन्हीं को बनाता था शिकार
सूत्रों की माने तो आफीन पए कमाने के लिए किसी भी हद तक जा सकती थी। वह उधार में ड्रग्स तो देती ही थी, रात में अश्लील चैट भी करती थी। युवाओं के साथ किए गए वीडियो चैट को उसने गंभीर कर लिया था, जो भी व्यक्ति उससे अश्लील चैट करता था, बाद में उन फोटो वीडियो के आधार पर वह उसे ब्लैकमेल कर रुपया मांगती थी। इस तरह से वह कई लोगों से लाखों रुपए ऐंठ चुका है। बड़ी बात यह है कि उसे रुपए देने वालों में अधूरे उम्र के लोगों की संख्या अधिक है। पुलिस को इस बारे में कई फोटो वीडियो आफीन के मोबाइल में मिले हैं। लेकिन अब तक कोई शिकायतकर्ता पुलिस के सामने नहीं आया है।

चश्मा, फंक्शन और फेट हेयर स्टाइल से छिपाती की पहचान है
सूत्रों के मुताबिक, पुलिस ने ड्रग्स व सेक्स रैकेट से जुड़ी युवतियों की जानकारी जुटाई तो कई के फैन पेज को हटा दिया गया। कई कॉलेज गोइंग और होस्टल की लड़कियां खुद के खर्च करने के लिए इस तरह की लाइफ स्टाइल से जुड़ी हैं। पहचान छिपाने के लिए ये चश्मा, चेहरे और नकली हेयर स्टाइल का भी सहारा लेती हैं।

आंटी के बेटे यश को हथियार रखना भी पसंद है।

आंटी के बेटे यश को हथियार रखना भी पसंद है।

लड़कों से नफरत के कारण उन्हें नशा था
आफीन ने पुलिस को बताया कि वह परिवार झंझावतों के चलते ड्रग्स रैकेट से जुड़ी हुई है। पिता डॉ। थे। उन्हें लड़का होना चाहिए था, लेकिन मैं पैदा हो गया तो वे मां को प्रताड़ित करने लगे। माता पिता से अलग होकर ननिहाल में रहने लगीं। पिता के मां को छोड़ने और मां के ननिहाल चले जाने के बाद मेरे दिमाग में यह बात घर कर गई कि आखिर लड़कों में क्या बात है जो लड़कियों में नहीं है। इसलिए वह हाईप्रोफाइल लोगों के हिस्से में आने-जाने लगी और अपना वर्चस्व बनाने के लिए इस धंधे में उतर गया। उसने बताया कि बचपन से ही नफरत का शिकार होने के बाद उसके लड़कों से नफरत होने लगी, इसलिए उन्हें ड्रग्स के रैकेट में उतारना पड़ गया।

प्रीति आंटी अब जेल में हैं।

प्रीति आंटी अब जेल में हैं।

एक और नाम मीरा
ड्रग्स मामले में पकड आफीन की रूममेट मीरा को पुलिस द्वारा निर्दोष मानते हुए छोड़ने पर भी सवाल खड़े होने लगे हैं। सूत्रों की माने तो एक आला पुलिस अधिकारी के निर्देश पर मीरा को छोड़ा गया है, जबकि मीरा का ड्रग्स नेटवर्क भी आफीन से कम नहीं है।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments