Home ब्लॉग छोटे शहरों के कंज्यूमर पर फोकस: फ्लिपकार्ट और 20 शहरों में ले...

छोटे शहरों के कंज्यूमर पर फोकस: फ्लिपकार्ट और 20 शहरों में ले जाएगा ग्रोसरी बिजनेस, कानपुर और इलाहाबाद जैसे टीयर -2 शहरों को कवर करेंगे


विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

15 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

कोविद -19 पर हस्तक्षेप के लिए देशभर में लगाए गए लॉकडाउन के चलते अनिल ग्रोसरी स्पेस में पिछले एक साल से गेहूं कीहमी बढ़ गई है। इस बीच वालमार्ट के मालिकाना हक वाली ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म फ्लिपकार्ट ने छह महीने में अपने ग्रोसरी बिजनेस को 20 और शहरों में ले जाने का फैसला किया है।

पहले से ही देश के 50 शहरों में ग्रोसरी बेच रही है फ्लिपकार्ट

फ्लिपकार्ट ने ग्रोसरी बिजनेस के विस्तार का प्लान तब बनाया है जब वह पहले से ही देश के 50 शहरों में ग्रोसरी बेच रही है और टाटा ग्रुप मार्केट लीडर बिग बास्केट को खरीदने जा रही है। इस अतिरिक्त ग्रोसरी स्टार्टअप में टाटा ग्रुप 9100-9200 करोड़ रुपये से 68% हिस्सा खरीद सकता है।

फ्लकार्ट के लिए तेज ग्रोथ बीसवें वर्ष बना हुआ है ग्रोसरी

फ्लकार्ट में ग्रोसरी, जनरल मर्चेंडराइज और फर्निचर सेगमेंट के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट मनीष कुमार कहते हैं, ‘ग्रोसरी हमारे लिए तेज ग्रोथहाउस में बनी हुई है। अच्छी क्वॉलिटी वाले खाने और घरों के इस्तेमाल वाले घरेलू सामान की खरीदारी ज्यादा हो रही है। ‘

‘चुनने के लिए ज्यादा उत्पाद होंगे, खरीदारी का अच्छा अनुभव मिलेगा’

कुमार बताते हैं, ‘हमने देशभर में अपने ग्रोसरी कारोबार को बड़ा करने और इकोसिस्टम को मजबूत बनाने के लिए निवेश किया है। इससे खरीदारी को समय पर उत्पाद मिलेंगे, ज्यादा उत्पादों में से चुनाव करने की सुविधा होगी और ग्रोसरी की खरीदारी का अच्छा अनुभव मिलेगा। ‘

टीयर -2 शहरों में पिछले साल ग्रोसरी की मांग में तेज उछाल आई थी

कुमार बताते हैं, ‘टीयर -2 शहरों में पिछले साल ग्रोसरी की मांग में तेज उछाल आई थी। ग्राहकों का फोकस घरों से बैठे-बैठे कॉन्टैक्टलेस खरीदारी करने पर। हमारे हिसाब से यह ट्रेंड बना रहेगा और इससे डेडिकेटेड ग्रोसरी फुलफिलमेंट सेंटर के जरिए देशभर में ई-ग्रोसरी स्पेस की दिशा तय होगी। ‘

आधे से ज्यादा ग्रोसरी रिटेल स्पेस को कवर कर रहे हैं, प्लेटिनम का प्रदर्शन

रेडसीयर कंसल्टिंग की हालिया रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में आधे से ज्यादा ग्रोसरी रिटेल स्पेस को ऑफलाइन प्लेटफॉर्म कवर कर सकते हैं। इसमें 40% हिस्सा मेट्रो और टीयर -1 शहरों का होगा।

ग्रोसरी निर्देश को कानपुर और इलाहाबाद जैसे शहरों में भी ले जाएगा फ्लिपकार्ट

फ्लकार्ट रेडियो एक्सपेंशनशन मार्केटप्लेस मॉडल पर अपनी ग्रोसरी सेवा को मेट्रो से बाहर मैसूर, कानपुर, वारंगल, इलाहाबाद, अलीगढ़, जयपुर, चंडीगढ़, राजकोट, वडोदरा, वेल्लोर, तिरुपति और दमन जैसे शहरों में सेवा दे रही है। फ्लिपकार्ट ग्रोसरी सेवा के तहत 200 से ज्यादा शेयरों में 7000 से ज्यादा प्रॉडक्ट उपलब्ध हैं।

बेंगलुरु में हाइपर लोकल ऑफर मॉडल ‘फ्लिपकार्ट क्विक’ शुरू किया गया है

प्रॉडक्ट में रोजाना के खाने-पीने के सामान, स्नैक्स और घरों के घरेलू इस्तेमाल के सामान शामिल हैं। फ्लकार्ट ने बेंगलुरु में हीपर लोकल ऑफर मॉडल ‘फ्लिपकार्ट क्विक’ भी शुरू किया है। इसमें वह 90 मिनट के भीतर आवेदन दे रहा है।

पिछले एक साल में ग्रोसरी बिजनेस तीन गुना बढ़ने का दावा है

ऑनलाइन शॉपिंग में ग्रोसरी बड़ी संभावनाओं वाला बड़ा स्पेस है और फ्लिपकार्ट नए कस्टमर्स को ऑफलाइन शॉपिंग स्पेस में लाने के लिए इस पर फोकस कर रहा है। फ्लिपकार्ट ने पिछले एक साल में अपना ग्रोसरी बिजनेस तीन गुना बढ़ने का दावा किया है। उसके ग्रोसरी कारोबार में विस्तार से लोकल फूड प्रोसेसिंग इंडस्ट्री को बड़ा सपोर्ट मिलेगा।

किसान समुदाय को डिजिटल सामान दिलाने के लिए एफपीओ के साथ काम कर रहा है

फ्लिपकार्ट के मुताबिक उसके टेक ने मार्केटप्लेस के जरिए फॉर्मर खादुसर ऑर्गनाइजेशंस (एफपीओ) के लाखों उपभोक्ताओं से जुड़ना शुरू कर दिया। उसने न सिर्फ रिटेलर्स के साथ करार किया है बल्कि वह किसान समुदाय को डिजिटल एक्सेस मुहैया कराने के लिए देश भर के एफपीओ के साथ भी काम कर रही है। एफपीओ किसानों के समूह का बनाया एक संगठन होता है जो उनकी व्यावसायिक गतिविधियों को संभालता है।

खबरें और भी हैं …





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments