Home कैरियर जानें क्या है SBI की ये खास स्कीम, घर बैठे हर महीने...

जानें क्या है SBI की ये खास स्कीम, घर बैठे हर महीने खाते में आएंगे पैसे!


नई दिल्ली. अगर आप भी हर महीने एक फिक्स्ड इनकम (Fixed Income) चाहते हैं तो SBI की यह खास स्कीम के आपके लिए सबसे बेस्ट विकल्प साबित हो सकती है. आप अपने बचत को SBI की एन्युटी डिपॉजिट स्कीम की मदद से मासिक इनकम प्राप्त कर सकते हैं. इसके लिए​ डिपॉजिटर्स को एक बार लमसम रकम डिपॉजिट करनी होगी, जिसके बाद वो मासिक इनकम प्राप्त कर सकते हैं.

इस रकम को डिपॉजिट करने के बाद डिपॉजिटर्स को इक्वेटेड मंथली इनस्टॉलमेंट (EMI) मिलेगा, जिसमें मूल रकम और इसपर मिलने वाला ब्याज भी शामिल होगा. इसका मतलब है कि आप हर महीने अपनी मूल रकम के साथ ब्याज भी प्राप्त कर सकते हैं.

यह भी पढ़ें: करोड़ों टैक्सपेयर्स को राहत देने के लिए टैक्स डिपार्टमेंट कर सकता है ये ऐलान

डिपॉजिटर्स को इस रकम पर ब्याज अगले महीने की उसी तारीख से मिलनी शुरू हो जाएगी, जिस तारीख से उन्होंने इस स्कीम में निवेश किया है. मान लीजिए कि आपने 25 मार्च को इस स्कीम में निवेश किया तो आपको अगले महीने यानी अप्रैल की 25 तारीख से इसपर ब्याज मिलना शुरू हो जाएगा. आइए जानते हैं इस स्कीम के बारे में अन्य बातें…डिपॉजिट लिमिट: इस स्कीम में डिपॉजिट की कोई अधिकतम लिमिट नहीं है. लेकिन, न्यूनतम लिमिट 25,000 रुपये है. यानी आपको इस स्कीम में कम से कम 25,000 रुपये का इन्वेस्टमेंट करना होगा.

यह भी पढ़ें: इस शर्त को पूरा किए बिना नहीं मिलेंगे PM-किसान सम्मान निधि स्कीम के 6000 रुपए!

कितना मिलेगा ब्याज: SBI एन्युटी स्कीम (SBI Annuity Scheme) पर मिलने वाला ब्याज SBI फिक्स्ड डिपजिट (SBI FD) जितनी ही होगी. इस प्रकार मिलने वाला ब्याज डिपॉजिट की अवधि के आधार पर भी होगा. मौजूद डिपॉजिट रेट्स के अनुसार, 1 साल से 10 साल की FD पर SBI 5.9 फीसदी की ब्याज देता है. 36 महीने, 60 महीने, 84 महीने और 120 महीने की डिपॉजिट पर आपको 5.9 फीसदी की दर से ब्याज मिलेगा. हालांकि, 6 महीने से लेकर 1 साल से कम अवधि के लिए यह दर 5.5 फीसदी की होगी. वरिष्ठ नागरिकों के लिए इस स्कीम पर 1 साल से 10 साल की डिपॉजिट पर 6.4 फीसदी की दर से ब्याज मिलेगा.

अवधि: SBI एन्युटी स्कीम में आपको विभिन्न अवधि के लिए निवेश करने का विकल्प मिलता है. इस स्कीम में आप 3 साल, 5 साल, 7 साल या 10 साल के लिए भी निवेश कर सकते हैं.

लोन: इस स्कीम के तहत, डिपॉजिटर्स कसे कुल रकम की 75 फीसदी तक की रकम को अवोड्राफ्ट या लोन मिल सकता है. लेकिन यहां आपको इस बात का ध्यान देना होगा कि अगर आप लोन लेते हैं तो इसके बाद इस स्कीम के जरिए​ मिलने वाला पैसा लोन अकाउंट में जमा होगा.

अगर इस स्कीम के डिपॉजिटर की मौत हो जाती है तो बचे हुए कुल रकम का प्रीपेमेंट कर दिया जाएगा.

यह भी पढ़ें: RBI के पूर्व गवर्नर ने यस बैंक संकट के लिए इसे ठहराया जिम्मेदार!





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments