Home खेल जगत टी -20 विश्व कप पर पाकिस्तान की राजनीति: पीसीबी चेयरमैन का बयान...

टी -20 विश्व कप पर पाकिस्तान की राजनीति: पीसीबी चेयरमैन का बयान बचकाना, टूर्स के लिए पाकिस्तानियों को वीजा जरूर मिलेगा: BII


  • हिंदी समाचार
  • खेल
  • क्रिकेट
  • पाकिस्तानी क्रिकेटर्स पीसीबी प्रमुख एहसान मणि के लिए भारत में पाकिस्तान टी 20 विश्व कप अनुसूची पर वीज़ा

विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबई8 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

दोनों टीम ने आखिरी मैच 2019 वनडे विश्व कप में खेला था। तब मेनचेस्टर वनडे में भारत ने पाकिस्तान को 89 रन से उपकरण दिए। रोहित शर्मा ने 140 रन की पारी खेली थी।

भारत की बुकिंग में इस साल के आखिर में टी -20 विश्व कप होना है। इसको लेकर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) चेयरमैन एहसान मृत ने ICC से कहा कि भारत की तरफ से उन्हें वीजा की गारंटी चाहिए, वरना टूर्स को UAE में शिफ्ट कर दिया जाए। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के एक अधिकारी ने मृत के इस बयान को बचकाना बताया है।

न्यूज एजेंसी से बात करते हुए बीसीसीआई अधिकारी ने कहा कि मनी का बयान चौंकाने वाला है। वे सभी नीति जानते हैं कि मामले का राजनीतिकरण कर रहे हैं। केंद्र सरकार पहले ही नीति बना चुकी है कि किसी भी खेल टूर्नामेंट के लिए भारत आने वाले सभी खिलाड़ियों और कर्मचारियों को तुरंत वीजा दिया जाएगा।

कोरोना महामारी में पाकिस्तान की काफी मदद की
अधिकारी ने कहा, ‘एहसान मनी का बयान चौंकाने वाला है, क्योंकि वे पीछे कई बार ICC में सौरव गांगुली (BCCI अध्यक्ष) के साथ दोनों देशों के बीच अच्छे रिश्ते की बात कह चुके हैं। कोरोना महामारी के दौरान सौरव और आईसीसी के पूर्व चेयरमैन शशांक मनोहर ने उनकी काफी मदद की है। उनका यह बयान काफी बचकाना है। ‘

वीजा सुनिश्चित करने के लिए क्रिकेट बोर्ड के अधिकार में नहीं
BCCI अधिकारी ने कहा, ‘लगता है कि वे टूर्नामेंट नहीं खेलना चाहते, शायद इसलिए इस तरह की बातें कर रहे हैं। यदि वे इसे राजनीतिक मुद्दा बनाना चाहते हैं, तो यह उनकी मर्जी है। वे अच्छी तरह से जानते हैं कि वीजा को लेकर मजबूती देना किसी क्रिकेट बोर्ड के अधिकार में नहीं है। यह उस देश की सरकार ही तय करती है। इस मामले में अगला कदम क्या होगा? इस मामले में आईसीसी संयुक्त राष्ट्र संघ की तरह की भूमिका निभाती है? या फिर अपने घर में आतंकवादियों पर लागू होने के बाद ही पाकिस्तान के खेल को पाया जा सकता है? यह सब बोर्ड को पता नहीं है। ‘

उन्होंने कहा, ‘हालांकि, भारत सरकार ने खिलाड़ियों को वीजा देने को लेकर अपना रुख पहले ही साफ कर दिया है। सभी खिलाड़ियों को भी इस बारे में जानकारी है। मेरा मानना ​​है कि मृत को दोनों देशों के बीच संबंध और अच्छे बनाने की कोशिश करनी चाहिए, न कि दोनों देशों के बीच बनी खाई को और गहरा करना। ”

हमारी सरकार ने भारत में खेलने से मना नहीं किया
हाल ही में अहसान मनी ने कहा था, ‘हमारी सरकार ने हमें कभी नहीं कहा कि हम वहां (भारत में) ना खेलें। हम आईसीसी के नियमानुसार खेलने के लिए कहीं भी जाने को तैयार हैं। हम नियमों का उल्लंघन नहीं करना चाहते हैं। ICC के एग्रीमेंट के मुताबिक, हम भारत सरकार से हमारी टीम और स्टाफ के वीजा को लेकर लिखित में आश्वासन चाहते हैं। फैंस, पत्रकार को भी वीजा देना होगा। ‘ मानव ने भारत से मार्च तक वीजा के लिए लिखित में सुनिश्चित देने की बात कही।

मार्च तक लिखित में आश्वासन देना चाहिए
मृत ने कहा, ‘आईसीसी ने हमें कहा था कि हमें यह लिखित आश्वासन दिसंबर 2020 तक मिल जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हो सका। इसके बाद हमने फिर से ICC चेयरमैन से इस बारे में जनवरी और फरवरी में सीधी बात की थी। हमने आईसीसी प्रबंधन से भी स्पष्ट कहा है कि हमें मार्च तक लिखित में आश्वासन देना चाहिए। यदि ऐसा नहीं होता है, तो हम मुद्राओं को भारत से यूएई में शिफ्ट करने की मांग करेंगे। ‘

खबरें और भी हैं …





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments