Home ब्लॉग टेलीकॉम कंपनियों की नई टेंशन: जल्द ही भारत में शुरू होगीबेन मस्क...

टेलीकॉम कंपनियों की नई टेंशन: जल्द ही भारत में शुरू होगीबेन मस्क की हाई-स्पीड इंटरनेट सेवा ‘स्टारलिंक’, प्री-बुकिंग शुरू


  • हिंदी समाचार
  • टेक ऑटो
  • एलोन मस्क की स्टारलिंक सैटेलाइट ब्रॉडबैंड सेवा भारत में आ रही है: कैसे ऑर्डर, मूल्य, उपलब्धता और अन्य विवरण

विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्लीएक मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट
  • वर्तमान में स्टारलिंक 50-150 एमबीपीएस तक की इंटरनेट स्पीड प्रदान करती है
  • भारत में इसकी प्री-बुकिंग अमाउंट लगभग 7000 रुपए रखी गई है

भारत के इंटरनेट सेवा प्रोवाइडर्स की मुश्किलें आने वाले समय में बढ़ाने वाली हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक, मस्क की कंपनी स्पेसएक्स अपनी इलेक्ट्रॉनिक्स बेस्ड इंटरनेट सर्विस ‘स्टारलिंक’ को जल्द ही भारतीय बाजार में शुरू करेगी। कंपनी ने इसका प्री-नंबर लेना भी शुरू कर दिया है। इस सेवा के माध्यम से कंपनी भारतीयों को सुपर फास्ट इंटरनेट स्पीड प्रदान करेगी, जिससे जियो सहित अन्य कंपनियों के लिए चुनौती मिलेगी।

अन्य एयरलाइन की तुलना में पृथ्वी के करीब है स्टारलिंक इलेक्ट्रॉनिक्स
स्पेसएक्स ने अपनी वेबसाइट पर लिखा है कि ‘ऐसा समय में जब ज्यादातर लोग घर से काम कर रहे हैं और अधिक स्टूडेंट्स वर्ग लर्निंग में भाग ले रहे हैं, इंटरनेट कनेक्टिविटी पहले से कहीं अधिक महत्वपूर्ण है। स्टारलिंक के साथ, हम उन क्षेत्र में जल्द से जल्द नेटवर्क उपलब्ध कराएंगे जहां इसकी सबसे अधिक आवश्यकता है।]स्पेसएक्स ने सोशल मीडिया पर लिखा ‘स्टारलिंक इलेक्ट्रॉनिक्स, दूसरे इलेक्ट्रॉनिक्स की तुलना में पृथ्वी से 60 गुना अधिक पास हैं।’

स्टारलिंक इंटरनेट: भारत के किन शहरों में सुविधा मिलेगी
स्टारलिंक वेबसाइट पर दी गई जानकारी के मुताबिक, स्टारलिंक इंटरनेट साल 2022 में भारत में शुरू होगा, हालांकि कंपनी ने सटीक समय की घोषणा नहीं की है। वर्तमान में सेवा टेस्टिंग फेज में है। पूर्व-संख्या के दौरान यह देखने में आया है कि सेवा दिल्ली, बेंगलुरु, मुंबई, चेन्नई, कोलकाता और हैदराबाद जैसे प्रमुख शहरों को कवर करेंगे। हालांकि, कवरेज डिटेल के बारे में वर्तमान में कोई सटीक जानकारी नहीं दी गई है। ऐसे में उपयोगकर्ता को बुकिंग करते समय यह चेक करना होगा कि उनके क्षेत्र में सेवा मिलेगी या नहीं।

यूजर्स को 150 एमबीपीएस तक की स्पीड मिलेगी
साइट पर दी गई जानकारी के मुताबिक, स्टारलिंक प्रोजेक्ट के लिए स्पेसएक्स पहले ही एक हजार से ज्यादा सैमसंग लॉन्च कर चुका है। वर्तमान में स्टारलिंक 50-150 एमबीपीएस तक की इंटरनेट स्पीड प्रदान करती है। विदेशी मस्क ने कहा था कि हमारा लक्ष्य भविष्य में 12 हजार इलेक्ट्रॉनिक्स का नेटवर्क तैयार करने की गति को 1 Gbps तक पहुंचाने का है।

इस तरह की बुक करें
भारत में प्री-बुकिंग शुरू हो चुकी है। $ 99 (लगभग 7000 रुपए) में बुक किया जा सकता है। यह रिफंडेबल अमाउंट होगा। कोई भी उपयोगकर्ता साइट पर सिटी और पोस्टल कोड डालकर अपने क्षेत्र में इसकी उपलब्धता को चेक कर सकता है। जाहिर तौर पर यह सुविधा लिमिटेड यूजर्स के लिए उपलब्ध होगी। नंबर पहले आओ पहले पाओ के आधार पर भर्ती बुक किए जाएंगे। बुकिंग करने के लिए इन स्टेप्स को फॉलो करें …

  • स्टारलिंक की वेबसाइट https://www.starlink.com/ पर जाएं।
  • वेबसाइट पर ‘ऑर्डर नाउ’ सेनेस में अपना पता जहां आप सेवा चाहते हैं, दर्ज करें।
  • यदि आपका पता सेवा के लिए योग्य है तो आपको निकटतम क्षेत्र की एक लिस्ट दिखाई देगी। इसके बाद की डिलीवरी सिलेक्ट करें।
  • सेवा के लिए योग्य है, तो आपको आगे डिटेल वर्तमान करने के लिए दूसरे पेज पर रिडायरेक्ट किया जाएगा।
  • स्टारलिंक उस पेज पर एक हेडर भी दिखाएगा जो कहता है कि कंपनी आपके क्षेत्र में 2022 में सीमित उपलब्धता के साथ और पहले आओ पहले पाओ के आधार पर कवरेज को टारगेट कर रही है।
  • यूजर्स को अपना नाम, फोन नंबर और ईमेल एड्रेस जैसी जानकारी देनी होगी।
  • इसके बाद $ 99 (लगभग 7 हजार रुपए) का डिपॉजिट भरने के लिए कार्ड डिटेल्स डालनी होगा।
  • यदि कंपनी 2022 में यूजर्स को इंटरनेट कनेक्शन देने में असफल हो रही है, तो बुकिंग अमाउंट वापस कर देगी।

जियो से स्पेसएक्स की टक्कर होगी
भारत के टेलीकॉम सेक्टर पर वर्तमान में रिलायंस जियो का कब्जा है। जियो 65 करोड़ इंटरनेट यूजर ऐसे हैं, जो हर महीने औसतन 12 जीबी डेटा इस्तेमाल करते हैं। भारत के कई ग्रामीण हिस्सों में अभी भी लोग खराब इंटरनेट स्पीड से जूझ रहे हैं। मस्क का टारगेट इन्हीं एरिया में इंटरनेट स्पीड को बढ़ाना है।

अमेरिका सहित अन्य देशों में 36 हजार रुपए में मिलती है सेवा
ऑफ़लाइन रिपोर्ट्स के अनुसार, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और मेक्सिको में यूजर्स को $ 499 (लगभग 36 हजार रुपए) में एक स्टारलिंक किट मिलती है, जिसमें स्टारलिंक, वाई-फाई राउटर, पावर सप्लाई, टैक्सी, और माउंटिंग ट्रॉडल जैसी चीजें शामिल होती हैं। वर्तमान में सेवा 150 एमबीपीएस तक की गति प्रदान करती है। रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि टेस्टिंग के जरिए इसे दोगुना या 300 एमबीपीएस तक कर लिया गया है। कंपनी का लक्ष्य यूजर्स को 1 Gbps तक की स्पीड देने का है।
स्टारलिंक की वेबसाइट के मुताबिक, वह यूजर्स का डेटा जैसे आइडैंटिटी, कॉन्टैक्ट, प्रोफाइल और फाइनेंशियल डेटा इकट्ठा करती है। इसके साथ ही साइट में यह भी बताया गया है कि वह यूजर्स की पर्सनल डिटेल्स को सुरक्षित रखने के तमाम उपाय भी करती है।]

खबरें और भी हैं …





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments