Home खेल जगत डेलिनो को IPL नहीं PSL पसंद: दक्षिण अफ्रीका के फास्ट बॉलर ने...

डेलिनो को IPL नहीं PSL पसंद: दक्षिण अफ्रीका के फास्ट बॉलर ने कहा कि IPL में क्रिकेट की जगह बड़े नाम और पैसे पर जोर देती है


विज्ञापन से परेशान हैं? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कराची11 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

स्टेनो पीएसएल में इस साल क्वेटा की टीम का हिस्सा हैं।

रिटायरमेंट की कगार पर पहुंच चुके दक्षिण अफ्रीका के तेज बॉलर डेलिनो ने एक विवादास्पद बयान दिया है। 37 साल के स्टेनो का कहना है कि उनके लिए आईपीएल की तुलना में पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) में खेलना ज्यादा अच्छा अनुभव है। स्टेन के मुताबिक आईपीएल में बड़े नाम और पैसे को ज्यादा तरजीह दी जाती है, जबकि PSL में क्रिकेट पर ज्यादा ध्यान दिया जाता है। स्टेनो ने इस साल IPL की नीलामी से दूर रहने का फैसला किया था।

क्वेटा ग्लैडिएटर्स का हिस्सा हैं
डेलिनो PSL के नवीनतम सीजन में क्वेटा ग्लैडिएटर्स टीम का हिस्सा हैं। उन्होंने कहा कि आईपीएल में बड़े नाम और ज्यादा पैसे के कारण कई बार क्रिकेट से ध्यान हट जाता है। स्टेन आईपीएल 2020 में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु का हिस्सा थे। लेकिन, टीम ने उन्हें रिटेन नहीं किया। कैसीनो के पास नीलामी में शामिल होने का मौका था, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया।

यहाँ लोग खेल के बारे में पूछते हैं, वहाँ पैसे के बारे में

आईपीएल में कैसीनो का परफॉर्मेंस साधारण रहा है।  आरसीबी ने उन्हें जारी कर दिया था।

आईपीएल में कैसीनो का परफॉर्मेंस साधारण रहा है। आरसीबी ने उन्हें जारी कर दिया था।

स्टेनो ने कहा कि पाकिस्तान में लोग उन्हें खेल के बारे में पूछते हैं। लोग पूछते हैं कि मैं कहां खेला हूं, मेरा परफॉर्मेंस कैसा रहा। लेकिन, IPL के जब आप जो भी मिलता है वह पैसे के बारे में बात करता है। क्रिकेट पीछे छूट जाता है। इसी कारण से मैंने इस बार IPL से दूर रहने का फैसला किया है।

IPL में 95 मैच खेल चुके हैं। 97 विकेट
डेलो आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर, गुजरात लायंस और सनराइजर्स हैदराबाद जैसी टीमों का हिस्सा रह चुके हैं। इस लीग में उन्होंने कुल 95 मैच खेले हैं और 97 विकेट लिए हैं। कई अन्य तेज गेंदबाजों ने आईपीएल में कैसीनो की तुलना में बेहतर परफॉर्म किया है। भारत के ही आशीष नेहरा ने केवल 88 मैच खेले 106 विकेट लिए हैं। संदीप शर्मा ने 92 मैचों में 109 विकेट लिए हैं। इस कारण रिसाव में स्टेनो की वेल्यू लगातार कम होती जा रही थी।

खबरें और भी हैं …





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments