Home खेल जगत दिल्ली में ISSF शूटिंग वर्ल्ड कप: पाकिस्तानी शूटर, कोच और स्टाफ को...

दिल्ली में ISSF शूटिंग वर्ल्ड कप: पाकिस्तानी शूटर, कोच और स्टाफ को भारतीय वीजा मिलेगा; जापान-चीन सहित 6 देशों ने नाम वापस लिए


  • हिंदी समाचार
  • खेल
  • ISSF विश्व कप 2021 पाकिस्तानी टीम एक वीजा प्राप्त कर सकती है; 2019 विश्व कप में वीजा नहीं मिला

विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली18 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

अगले महीने दिल्ली में होने वाले ISSF शूटिंग वर्ल्ड कप में 40 देशों के लगभग 300 शूटर भाग लेंगे। इनमें से कई देशों के शूटर शामिल हैं। जापान, चीन, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, मलेशिया और कुवैत के शूटर इस बार विश्व कप में शामिल नहीं होंगे। इंग्लैंड के आने पर भी सस्पेंस है।

पाकिस्तानी टीम विश्व कप के लिए भारत आ सकती है। भारत उनके स्क्वॉड को वीजा देने के लिए तैयार हो गया है। नेशनल राइफल फेडरेशन ऑफ इंडिया (NRFI) के सेक्रेटरी राजीव भाटिया ने बताया कि दिल्ली से वीजा देने की प्रक्रिया पूरी तरह से बंद हो गई है। इस्लामाबाद स्थित भारतीय दूतावास से उन्हें जल्द ही वीजा दे दिया जाएगा। ISSF शूटिंग वर्ल्ड कप 18 से 29 मार्च तक दिल्ली के कर्णी सिंह शूटिंग रेंज में आयोजित होगी।

2019 में दिल्ली में पिछले ISSF वर्ल्ड कप में पाकिस्तानी टीम को वीजा नहीं मिला था। जबकि यह एक ओलिंपिक क्वालिफाइंग टूर्नामेंट था। पाकिस्तान की ओर से एक शूटर नेपिड फायर के लिए एंट्री भेजी थी। उसके आने वाले परप्पिड फायर के कोटा को खत्म कर दिया गया था। हालांकि इस साल पाकिस्तान से एक शूटर उस्मान चंद स्किट में भाग लेंगे। उनके साथ कोच और अन्य स्टाफ भी मौजूद रहेंगे।

इंग्लैंड के प्लेयर्स के आने पर संशय
टोक्यो ओलिंपिक से पहले यह वर्ल्ड कप शूटिंग का आखिरी टूर्नामेंट है। इस विश्व कप के बाद रैंकिंग के आधार पर केवल शूटर्स को ओलिंपिक के लिए एंट्री मिल सकेगी। इंग्लैंड को लेकर राजीव भाटिया ने बताया कि उनकी ओर से कुछ सवाल किए गए थे। उसका जवाब भेज दिया गया है। साथ ही उनके अधिकारियों से भी बातचीत की जा रही है। ऐसे में उम्मीद है कि वे भी आने के लिए तैयार हो जाएंगे।

ओलिंपिक में 19 मेडल के लिए दाव सूची पेश करेंगे भारतीय शूटर
भारत को टोक्यो ओलिंपिक में सबसे ज्यादा उम्मीद निशानेबाजों से है। ऐसा इसलिए क्योंकि पहली बार देश के 15 ट्वीटर्स ने कोटा हासिल किया है। चीन के बाद भारत एशिया में सबसे ज्यादा कोटा हासिल करने वाला देश है। चीन के पास 25 कोटा है। भारत की ओर से महिला 10 मी पिस्टल में मनु भाकर और यशस्विनी देसवाल, 25 मी पिस्टल में चिंकी यादव और राही सरनोबत, पुरुष 10 मी पिस्टल में सौरव चौधरी और अभिषेक वर्मा ने कोटा हासिल किया।

वहीं, पुरुष 10 मी राइफल में दिव्या सिंह सिंह पंवार और दीपक कुमार, महिला 10 मी राइफल में अपूर्वी चंदेला और अंजुम मोदगिल, राइफल थ्री पोजिशन में संजीव राजपूत, ऐश्वर्य प्रताप सिंह और तेजस्विनी सावंत, स्किटमेंट मैज अहमद खान और अंगद वीर सिंह उर्फ ​​कोटला ने किया। है। उनके अलावा पिस्टल और राइफल के मिक्स्ड इवेंट में भारत की 2-2 टीमों को एंट्री मिलेगी। ऐसे में भारत के शूटर 19 मेडल के लिए ओलिंपिक में दाव सूची पेश करेंगे।

अनीश भानवाल रैंकिंग सुधार कर हासिल कर सकते हैं
दिल्ली में होने वाले विश्व कप में मनु भाकर, सौरभ चौधरी, संजीव राजूपत सहित देश के टॉप शूटर्स को टीम में जगह दी गई है। उनके पास ओलिंपिक से पहले अपनी तैयारी को समझानेने का अच्छा मौका है।

वहीं, 25 मीटरपिड फायर में अनीश भानवाल वर्ल्ड कप में मेडल जीतकर अपनी रैंकिंग में सुधार कर सकते हैं। साथ ही ओलिंपिक कोटा भी हासिल कर सकते हैं। भानवाल की रैंकिंग 12 है। उनके आगे रैंकिंग में शामिल शूटर कोटा हासिल कर चुके हैं। ऐसे में अगर वे मेडल जीतते हैं तो रैंकिंग के हिसाब से देश को एक और कोटा मिल सकता है।

खबरें और भी हैं …





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments