Home जीवन मंत्र दोमुंहे बालों से परेशान हैं, तो अपनाएं ये टिप्स और पाएं इनसे...

दोमुंहे बालों से परेशान हैं, तो अपनाएं ये टिप्स और पाएं इनसे छुटकारा


लंबे काले (जोड़े) बाल आप अच्छे नहीं लगते, लेकिन यह केवल मुमकिन है जब आपके बालों की सही ग्रोथ (विकास) हो। कभी आनुवांशिक कारणों से तो कभी वातावरण में परिवर्तन होते रहे हैं और प्रदूषण से बालों की ग्रोथ प्रभावित होती है। ऐसे में बालों में दो मुंहे बाल यानी स्प्लिट एंड्स (स्प्लिट एंड्स) जैसी परेशानी आम है। यहाँ हम आज आपको इस परेशानी से निजात के तरीके बता रहे हैं।

दो मुंहे बालों की वजह:

कभी आपने कटी रस्सी का छोर देखें हों तो एक तरह से दो मुंहे बाल इसी तरह से दिखते हैं ।जब आपके बालों के सिरे रूके, भुरभुरे (भंगुर) और फ्रैड (फ्रायड) यानी घिसे हुए दिखते हैं तो ये स्प्लिट एंड्स का संकेत हैं। एक्सट्रीम वेदर टैटू में रहना यानी मसलन तेज धूप या सर्दी में अधिक देर रुकने, ब्लो ड्राइविंग (ब्लो-ड्राईिंग), स्ट्रेटनिंग (स्ट्रेटनिंग) और कर्लिंग (जैसे कर्लिंग) जैसे हेयर कैर टेक्नीक्स और रोजाना केमिकल हेयर प्रोडेक्ट्स के इस्तेमाल से दो मुंहे बाल होना आम बात है। .वैसे तो दो मुंहे बाल तू को भी हो सकते हैं, लेकिन मीनोपॉज़ से गुजर रही महिलाओं में एस्ट्रोजन का स्तर गिरने से सिर से निकलने वाले प्राकृतिक तेल कम हो जाते हैं, इसलिए उनके बाल रूक और टूटने की अधिक संभावना हो सकती हैं।

ये भी पढ़ें: बालों की देखभाल के टिप्स: गर्मियों में भी अपने बाल चमकते रहें, काम करेंछुटकारा पाने की तकनीक और तरीके:

दो मुंहे बाल रिपेयर नहीं किए जा सकते हैं, इसलिए इनसे छुटकारा पाने का एकमात्र भरोसेमंद तरीका तो इनकी कटाई -पंटाई और हस्तक्षेप ही है। हालांकि कुछ हामास्क और होम रेमिडीज (घरेलू उपचार) भी इसके लिए प्रभावी हो सकते हैं।

कैंडल कटिंग टेक्निक:

दो मुंहे बालों से छुटकारा पाने की लेटेस्ट टेक्निक वेलटेरपिया (वेलाटेरिया) ट्रेंड में है। इसे कैंडल कटिंग के नाम से भी जाना जाता है। इसकी प्रसिद्ध होने की वजह बार्सिलोना की सुपरमॉडल एलेसेंड्रा एम्ब्रोसियो (एलेसेंड्रा एम्ब्रोसियो) हैं। उन्होंने अपने इंस्टाग्राम पर बालों के कैंडल पकड़े हुए एक स्टाइलिस्ट फोटो पोस्ट की.कैंडल कटिंग में स्प्लिट एंड्स के हिस्से को ट्विस्ट कर इसे हॉफवे यानी बीच में कैंडल के जरिए जलाया जाता है। माना जाता है कि इस तरह से दो मुंहे बालों को जलाने से बालों के सिरे पर एक सील बन जाता है जो सिरों को फिर से फटने से बचाने में मदद करता है। हालांकि कुछ हारे कैर एक्सपर्ट्स के बालों के फॉलिकल (रोम) को नुकसान होने की बात भी करते हैं। कैंडल कटिंग के लिए आपको अनुभवी पेशेवर की मदद लेना जरूरी है, क्योंकि खुद से इसे करने से आपके बालों और स्किन के जलने का खतरा हो सकता है।

ये भी पढ़ें: कर्ली बालों की कैर आसान होगी, अपना लें ये 6 ईजी टिप

हैल्प्स:

हेयर फॉल को अक्सर स्प्लिट और क्योर के रूप में बेचा जाता है, लेकिन ये बालों को मॉइस्चराइजिंग करते हैं और स्प्लिट एंड्स को छिपाने या उन्हें रोकने में मदद कर सकते हैं, लेकिन इनसे स्प्लिट एंड्स हमेशा के लिए खत्म किए जा सकते हैं। यह केवल Baidu ट्रीटमेंट हैं जो बालों में नमी को बढ़ाने और बालों की नमी को मजबूत बनाने में मदद करते हैं। हालांकि ये आपके बालों के रंग-रूप को पूरी तरह से सुधारने के लिए बेहतरीन हैं और घर पर भी तैयार किए जा सकते हैं।

लीव इन कंडीशनर:

आमतौर पर लीव-इन कंडीशनर (लीव-इन कंडीशनर) साफ, ताली से हल्के सुखाए बालों में लगाया जाता है। इसे लगाते हुए बालों को सेक्शन में बांट कर लगाना चाहिए। इससे यह पूरी तरह से बालों के सिरों से दूर तक पहुंचता है। यह बालों को हैल्प की तरह ही फायदा पहुंचाता है। यह भी आप घर पर खुद बना सकते हैं।

ये भी पढ़ें: बालों की देखभाल के सुझाव: हेयर ग्रोथ्स के लिए भृंगराज तेल का ऐसे करें इस्तेमाल, जल्दी करें असर

होम मेड कंडीशनर और है

खुद से हेल फेस और कंडीशनर तैयार करते वक्त बाल को को पोषण देने में मदद करने वाले इंग्रीडिएंट्स जैसे बादाम, मेथी, पंथेनॉल का इस्तेमाल करते हैं। केवल इन बालों पर असर पड़ेगा।

बादाम का तेल:

बादाम से निकाला गया मीठा तेल हाइड्रेटिंग है और यह बालों को चिपचिपा नहीं करता है। इसे एक लीव-इन कंडीशनर के तौर पर या नम बालों में मला जा सकता है। इसे लगाने से बालों से तनाव आता है।

पंथेनॉल:

पंथेनॉल पैंटोथेनिक एसिड (विटामिन बी -5) का एक बॉयप्रोडेक्ट है। यह बालों को मजबूत बनाने, उनमें नमी बनाए रखने और डैमेज्ड बालों की बनावट में सुधार करने में मदद करता है। पैन्थेनॉल हेयर मास्क और कंडीशनर में प्रमुखता से इस्तेमाल होता है।

ऑर्गन का तेल:

आर्गन (आर्गन) तेल मोरक्को के आर्गन पेड़ों की गुठली से आता है। यह बालों की बेहतरीन तरीके से मॉइस्चराइजिंग करने के साथ उनकी चमक बढ़ाता है। आर्गन ऑयल की कुछ बूंदें स्प्लिट एंड्स पर नम या सूखे बालों में रगड़ें और कंघी करें।

शहद का हल:

शहद का हाफ्स दो मुंहे बालों पर बेहद असरदार होता है। दो चम्मच शहद को चार या पांच कप गर्म पानी में मिलाएं। बालों को शैंपू से धोने के बाद इस फेश को लगाएं और फिर आधे घंटे बाद ठंडे पानी से धो लें। इसी तरह शहद के साथ अंडे की सफेदी, दूध के अलावा शहद और ऑलिव ऑयल का फेस भी दो मुंहे बालों को होने से रोकता है।

स्प्लिट एंड्स को कैसे रोकें:
दो मुंहे बालों को खत्म करना मुश्किल है, लेकिन वे फिर से होने और इनको अधिक बढ़ने से रोका जा सकता है। इसके लिए इन युक्तियों और ट्रिक्स को अमल में लाएं।

नियमित रूप से लगभग हर छह सप्ताह के बाद बाल को कटाएं या उनकी ट्रिमिंग करते हैं।

बालों को रोज न धोएं अगर धोते भी हैं, तो केवल नैचुरल कंडीशनर का इस्तेमाल करें और शैंपू क्लिप करें। शैंपू करें तो केवल नैचुरल जो हर्ष इंग्रीसेजट्स से मुक्त हों।

शैंपू के बाद कंडीशनर या लीव-इन कंडीशनर का इस्तेमाल करें।
गीले बालों को सुलझाने के लिए चौड़े दांतों वाली कंघी का इस्तेमाल करें।

बालों को नुकसान पहुंचाने वाली कलरिंग और केमिकल स्ट्रेटनिंग कम से कम करते हैं।
हीट-प्रोटेक्टिव स्प्रे का करें और बालों में हीट का इस्तेमाल कम से कम करें।
बालों को मजबूत करने वाले सप्लीमेंट्स जैसे बायोटिन और फोलिक एसिड लें।
कुछ हेयर स्टाइल, जैसे पोनीटेल और हेयर ट्विस्ट, स्प्लिट और की वजह बन सकते हैं। उन्हें कम से कम बनाएँ। (अस्वीकरण: इस लेख में दी गई जानकारी और सूचनाओं के आधार पर हैं। हिंदी समाचार 18 इनकी पुष्टि नहीं करता है। ये पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें।)





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments