Home उत्तर प्रदेश दो छात्राओं ने फांसी लगाकर जान दी

दो छात्राओं ने फांसी लगाकर जान दी


पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

* सिर्फ ₹ 299 सीमित अवधि की पेशकश के लिए वार्षिक सदस्यता। जल्दी से!

ख़बर सुनना

कमसिन / खत्री पहाड़ अलग-अलग घटनाओं में हाईस्कूल की दो छात्राओं ने बृहस्पतिवार को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। दोनों ही घटनाओं में परिजन आत्महत्या की वजह नहीं बता सकते। घटना के वक्त दोनों मृतक छात्राओं के घर में अकेले थे।
कमासिन थाना क्षेत्र के राजापुर रोड में सत्यवीर यादव की बेटी सपना (16) ने बृहस्पतिवार की देर शाम कमरा बंद कर मां की साड़ी से लटक लगाकर आत्महत्या कर ली। दरवाजा तोड़कर शव उतारा गया। पिता ने बताया कि सपना जीजीआईसी में हाईस्कूल की छात्रा थी। कुछ दिन से उसकी मानसिक स्थिति सही नहीं थी। घटना के वक्त वह घर में अकेली थी। मां राजकुमारी दूसरे घर में थी। एसएसआई राजेंद्र दुबे ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। पिता ने मानसिक रूप से बीमार होने की बात बताई है।
उधर, गिरवां थाना क्षेत्र के मानपुर गांव निवासी शिवपूजन की बेटी पिंकी आरख (16) बृहस्पतिवार को देर शाम खपरैल में दुपट्टे से लटक डालकर जान दे दी। पिता ने बताया कि पिंकी बड़ोखर बुजुर्ग राजकीय हाईस्कूल में 10 वीं की छात्रा थी। वह खेत में था और माँ चमेली मायके में है। पिंकी घर में अकेली थी। आत्महत्या की वजह नहीं बता सकी। थानाध्यक्ष का कहना है कि पिता मानसिक रूप से विक्षिप्त बता रहे हैं।
फांसी लगाकर आत्महत्या की कोशिश
बांदा। शहर कोतवाली क्षेत्र के पल्हरी गांव निवासी राजाराम के बेटे विष्णु ने शुक्रवार को दोपहर घर में रस्सी से लटक लगाकर आत्महत्या का प्रयास किया। पत्नी के शोर पर परिजनों ने उसे फंदे से उतारकर जिला अस्पताल पहुंचाया। पिता के पास किसी बात पर पति-पत्नी के बीच कहासुनी हो जाने पर घटना की। उधर, भूरागढ़ (मटौंध) गांव में सीमा ने गुरुवार को शाम घर में जहरीला पदार्थ खा लिया। उसे गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

कमसिन / खत्री पहाड़ अलग-अलग घटनाओं में हाईस्कूल की दो छात्राओं ने बृहस्पतिवार को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। दोनों ही घटनाओं में परिजन आत्महत्या की वजह नहीं बता सकते। घटना के वक्त दोनों मृतक छात्राओं के घर में अकेले थे।

कमसिन थाना क्षेत्र के राजापुर रोड में सत्यवीर यादव की बेटी सपना (16) ने बृहस्पतिवार की देर शाम कमरा बंद कर मां की साड़ी से लटक लगाकर आत्महत्या कर ली। दरवाजा तोड़कर शव उतारा गया। पिता ने बताया कि सपना जीजीआईसी में हाईस्कूल की छात्रा थी। कुछ दिन से उसकी मानसिक स्थिति सही नहीं थी। घटना के वक्त वह घर में अकेली थी। मां राजकुमारी दूसरे घर में थी। एसएसआई राजेंद्र दुबे ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। पिता ने मानसिक रूप से बीमार होने की बात बताई है।

उधर, गिरवां थाना क्षेत्र के मानपुर गांव निवासी शिवपूजन की बेटी पिंकी आरख (16) बृहस्पतिवार को देर शाम खपरैल में दुपट्टे से लटक डालकर जान दे दी। पिता ने बताया कि पिंकी बड़ोखर बुजुर्ग राजकीय हाईस्कूल में 10 वीं की छात्रा थी। वह खेत में था और माँ चमेली मायके में है। पिंकी घर में अकेली थी। आत्महत्या की वजह नहीं बता सकी। थानाध्यक्ष का कहना है कि पिता मानसिक रूप से विक्षिप्त बता रहे हैं।

फांसी लगाकर आत्महत्या की कोशिश

बांदा। शहर कोतवाली क्षेत्र के पल्हरी गांव निवासी राजाराम के बेटे विष्णु ने शुक्रवार को दोपहर घर में रस्सी से लटक लगाकर आत्महत्या का प्रयास किया। पत्नी के शोर पर परिजनों ने उसे फंदे से उतारकर जिला अस्पताल पहुंचाया। पिता के पास किसी बात पर पति-पत्नी के बीच कहासुनी हो जाने पर घटना की। उधर, भूरागढ़ (मटौंध) गांव में सीमा ने गुरुवार को शाम घर में जहरीला पदार्थ खा लिया। उसे गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments