Home तकनीक और ऑटो नए साल में खरीदने जा रही कार, तो जानिए पेट्रोल-डीज़ल कार और...

नए साल में खरीदने जा रही कार, तो जानिए पेट्रोल-डीज़ल कार और इलेक्ट्रिक कार में से कौन सा फायदा है – न्यूज 18 हिंदी


नई दिल्ली। देश में पॉल्यूशन को कंट्रोल करने के लिए सरकारी इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा दे रहा है। जिसके कारण कई चार पहिए वाहन निर्माता कंपनियां इलेक्ट्रिक व्हीकल मार्केट में लॉन्च कर रही हैं। सरकार का मानना ​​है कि इससे जहां एक ओर पर्यावरण को फायदा होगा वहीं दूसरी ओर पारंपरिक फुल डीज़ल और पेट्रोल पर निर्भरता भी कम होगी। लेकिन ये सबके बीच तमाम लोग इस बात को लेकर कन्फ्यूज हैं कि क्या चुनावी वाहन खरीदना उनके लिए फायदेमंद होगा या डीजल-गैसोलीन वाहन ही ठीक हैं। अगर आप भी कार खरीदने की सोच रहे हैं तो आपके लिए ये जानना बेहद जरूरी है कि इलेक्ट्रिक कार और पेट्रोल-डीज़ल कार में से कौन सी लेने के फायदे का सौदा है। आइए इसे हम डिटेल में समझते हैं …

5 साल के खर्च से समझने वाले कौन सी ज्यादा सस्ता है

पहली बात करते हैं पेट्रोल कार की: मान लें पेट्रोल की कीमत अभी 82 रुपये प्रति लीटर है और 5 साल तक इसी कीमत में सभी खर्च को लेकर हैं तो बहुत खर्च होंगे-

>> कार की कीमत 8 लाख रुपये
>> कार का माइलेज 16 किमी / लीटर
>> 5 साल में स्थाई औसत दूरी 90 हजार किमी
>> 5 साल में गैसोलीन की खपत 5625 लीटर
>> 5 साल में पेट्रोल पर खर्च 5625 x 82 = 4.61 लाख रुपये
>> 5 साल में इंजन मेंटेनेंस का खर्च 1 लाख रुपये
>> अब 5 साल के इन सभी खर्चों को जोड़ा (8 + 4.61 + 1) होना चाहिए तो कीमत आती है 13.61 लाख रुपये

अब बात करते हैं इलेक्ट्रिक कार की: मान लें कि 6 रुपये प्रति यूनिट बिजली खर्च है और पांच साल तक यही रहेगा

>> कार की कीमत 12 लाख रुपये
>> कार का माइलेज 200 किमी / चार्ज
>> 5 साल में स्थाई औसत दूरी 90 हजार किमी
>> 5 साल में चार्ज पियरी को 450 बार करना चाहिए
>> 1 बार चार्ज करने पर बिजली की खपत 15 यूनिट
>> 5 साल में बिजली की खपत 450 x 15 = 6750 यूनिट
>> 5 साल में कुल बिजली का खर्च 6750 x 6 = 40 हजार रुपये
>> 5 साल में एक बैटरी बदलने का खर्च 2 लाख रुपये
>> अब 5 साल के इन सभी खर्चों को जोड़ा (12 + 0.40 + 2) होना चाहिए, तो कीमत 14.40 लाख रुपये है

ये भी पढ़ें: पेट्रोल की कीमत आज: पेट्रोल डीजल से आम आदमी को मिली राहत, लगातार 23 वें दिन भी नहीं बढ़ी कीमत

अब बात करते हैं इसमें विश्राम की ‘हैं
अगर आपने लोन के बारे में इलेक्ट्रिक कार्स है, जो पहले साल 50 हजार रुपये का ब्याज लगा दिया है तो उस साल इनकम टैक्स में 50 हजार रुपये की छूट मिलेगी। अगर ब्याज की रकम एक साल में 1.5 लाख रुपये से ज्यादा है, तो एक साल में सिर्फ 1.5 लाख रुपये की ही छूट मिलेगी। पूरे लोन की अवधि में अधिकतम 2.50 लाख रुपये तक की इनकम छूट मिल सकती है।

सब्सिडी: 1.50 लाख रुपये
दिल्ली-एनसीआर में 14 लाख की कर पर रोड टैक्स में छूट – लगभग 1 लाख रुपये
लोन के ब्याज में इनकम टैक्स में छूट – 2.50 लाख रुपये
कार खरीदने पर कुल छूट: 1.50 + 1 + 2.50 = 5 लाख रुपये

अब यदि पांच साल में दोनों कार में मामला देखें तो
पेट्रोल कार – 13.61 लाख रु
इलेक्ट्रिक कार – 14.40- 5 = 9.40 लाख रुपये





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments