Home अन्तराष्ट्रीय ख़बरें नियम सख्त होंगे: इस साल हज पर जाने से पहले वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट...

नियम सख्त होंगे: इस साल हज पर जाने से पहले वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट दिखाना पड़ सकता है, सऊदी सरकार कर रही है।


विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

प्रधान9 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

सऊदी सरकार इस साल ट्वीट यात्रा पर जाने वाले लोगों के लिए वैक्सीनेशन मेंडेटरी करने पर विचार कर रही है। मक्का और मदीना में सिर्फ उन्ही कर्मचारियों को तैनात किया जाएगा, जिनके वैक्सीनेशन हो चुके हैं। (फाइल)

इस साल हज यात्रा पर जाने वाले श्रद्धालुओं को कुछ सख्त नियमों का पालन करना पड़ेगा। इनमें से एक वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट भी है। सऊदी अरब के कागज ओकाज ने सऊदी स्वास्थ्य मिनिस्टर के हवाले से यह जानकारी दी है। मिनिस्टर के कहते हैं- इस साल हज यात्रा पर आने वाले सभी लोगों के लिए वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट मेंडेटरी किया जा सकता है।) हमारी सरकार इस पर विचार कर रही है। जल्द ही इस बारे में फैसला लिया जा सकता है।

जुलाई के पहले नियमों का ऐलान होगा
सऊदी हेल्थ मिनिस्टर तौफीक अल राबिया ने कहा- ट्वीट यात्रा के इंतजामों के लिए कमेटी बनाई गई है। यात्रियों को वैक्सीनेशन को मेंडेटरी बनाने पर विचार किया जा रहा है। जुलाई के पहले नए नियमों का ऐलान किया जा सकता है। इस बारे में संबंधित स्टाफ को भी गाइडलाइन्स जारी की जाएगी।

मक्का और मदीना के एंट्री पॉइंट्स पर स्वास्थ्य वर्कर्स भी तैनात रहेंगे। मक्का और मदीना में ड्यूटी करने वाले सभी कर्मचारियों के लिए भी वैक्सीनेशन मेंडेटरी होगी। वैक्सीनेशन के बाद ही इनकी पोस्टिंग इन जगहों पर की जाएगी। सऊदी सरकार इस साल के अंत तक अपनी 70% आबादी को वैक्सीनेट करने वाली रही है। इसकी योजना पहले ही बनाई जा चुकी है।

20 लाख से ज्यादा लोग आएंगे
इस साल महामारी की वजह से हज यात्रा पर कम लोग आ सकते हैं। आमतौर पर हर साल यहां 20 लाख से ज्यादा यात्री यात्री आते हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सऊदी सरकार इस साल कम यात्रियों को ट्वीट की मंजूरी देगी। पिछले साल मार्च में उमरा की रस्म सस्पेंड कर दी गई है। हालांकि, बाद में इसमें सख्त गाइडलाइन्स के साथ मंजूरी दे दी। पिछले साल अक्टूबर से अब तक लगभग पांच लाख लोग इन पवित्र स्थलों पर आ चुके हैं, लेकिन संक्रमण का कोई मामला सामने नहीं आया।

देश में वैक्सीनेशन तेज
सऊदी हेल्थ मिनिस्ट्री ने मंगलवार को जारी बयान में कहा- अब तक 8 लाख 85 हजार लोगों को वैक्सीनेट किया जा चुका है। देश में वैक्सीनेशन को आसान बनाने के लिए 259 सेंटर्स बनाए गए हैं। वैक्सीनेशन के लिए एक ऐप बनाया गया है। इस पर पंजीकरण के बाद वैक्सीनेशन की डेट दी जाती है। मंगलवार को देश में 302 मामले सामने आए। इसी दौरान पाँच प्रकारों की मृत्यु भी हो गई। देश में मंगलवार को समितियों का आंकड़ा 3 लाख 78 हजार हो गया।

खबरें और भी हैं …





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments