Home देश की ख़बरें पंचायत चुनव 2021: यूपी में अपनी जमीन तलाशने में जुटी कांग्रेस, पूर्वांचल...

पंचायत चुनव 2021: यूपी में अपनी जमीन तलाशने में जुटी कांग्रेस, पूर्वांचल का दौरा कर सकती हैं प्रियंका गांधी


पूर्वांचल का दौरा कर रहे हैं प्रियंका गांधी (फाइल फोटो)

जिलाध्यक्ष राजेश्वर पटेल का कहना है कि राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी (प्रियंका गांधी) के दौरे की तैयारियां तो चल रही हैं लेकिन तारीखों पर अभी निर्णय नहीं हुआ है।

  • News18Hindi
  • आखरी अपडेट:30 जनवरी, 2021, 2:38 PM IST

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में त्रिस्तरीय चुनाव (पंचायत चुनाव) की तैयारियां तेजी से चल रही हैं। वहीं पंचायत चुनाव के जरिए कांग्रेस विधानसभा में अपनी जमीन तलाशने में लगी है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी (प्रियंका गांधी) भी चुनाव से पहले पूर्वांचल का दौरा कर सकती हैं। पार्टी के वरिष्ठ नेता, कार्यकर्ता हर गांव और हर शहर तक पार्टी के खोए जनाधार को वापस लाने की कवायद में लगे हुए हैं।

कांग्रेस पंचायत चुनाव में युवाओं पर जोर लगाने की तैयारी है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व पूर्व विधायक अजय राय ने बताया कि पंचायत चुनाव से पहले राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी के पूर्वांचल दौरे की तिथियां अभी निर्धारित नहीं हुई हैं। जिलाध्यक्ष राजेश्वर पटेल का कहना है कि राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी के दौरे की तैयारियां तो चल रही हैं लेकिन तारीखों पर अभी निर्णय नहीं हुआ है। नए साल पर कांग्रेस महासचिव व प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी ने प्रदेश में हर गांव व शहर के लिए 10 लाख कैलेंडर भेजे थे। पार्टी पदाधिकारियों को घर-घर तक इस कैलेंडर पहुंचाने के निर्देश दिए गए थे।

सोनभद्र से लेकर हाथरस कांड का जिक्र
राष्ट्रीय महासचिव द्वारा प्रेषित कैलेंडर में पहले पेज पर सोनभद्र के उंभा की घटना के बाद संवेदना व्यक्त करने वाले सोनभद्र पहुंचीं प्रियंका गांधी की तस्वीर आदिवासी महिलाओं के साथ छपी है। इसके अलावा हाथरस कांड के बाद प्रियंका द्वारा पीड़ित परिवार से मिलने के लिए जाते हुए रास्ते में पुलिस लाठीचार्ज से कार्यकर्ताओं को बचाए जाने की तस्वीर भी इस कैलेंडर में शामिल की गई है। कैलेंडर में अमेठी और रायबरेली के साथ-साथ हरियाणा और झारखंड में प्रियंका द्वारा किए गए जनसंपर्क की तस्वीरों छापी गई हैं।मार्च अंत या अप्रैल के पहले सप्ताह में चुनाव की उम्मीद

इससे पहले यूपी के पंचायती राज मंत्री चौधरी भूपेंद्र सिंह ने कहा है कि सरकार की तरफ से परिसीमन का काम पूरा हो चुका है, जिसका अधिसूचना जारी हो चुका है। आरक्षण के लिए सैद्धांतिक सहमति बन गई है कि आरक्षण रोटेशन के आधार पर ही होगा। चौधरी भूपेंद्र सिंह ने कहा कि अब आरक्षण करना है और इसके लिए जल्द ही गाइडलाइन जारी की जाएगी, जिसके बाद आरक्षण का काम शुरू होगा। उन्होंने कहा कि तैयारियों को देखते हुए कहा जा सकता है कि 20 फरवरी के आसपास यानी फरवरी के अंतिम सप्ताह में आरक्षण जारी कर देंगे।







Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments