Home देश की ख़बरें पाकिस्तान पर भारत का बड़ा बयान: महत्वपूर्ण मुद्दों पर रुख नहीं बदला,...

पाकिस्तान पर भारत का बड़ा बयान: महत्वपूर्ण मुद्दों पर रुख नहीं बदला, चाहते हैं कि संबंध मजबूत हों


विदेय मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव। (एएनआई / २५ फरवरी २०२१)

India Pakistan News: भारत और पाकिस्तान ने 2003 में संघर्ष विराम का किया था, लेकिन पिछले कुछ वर्षों से शायद यही पर अमल हुआ।

नई दिल्ली। भारतीय और पाकिस्तानी सेना के बीच संघर्ष विराम (युद्धविराम) से सभी व्यक्तताओं का सख्ती से पालन करने पर सहमति व्यक्त करने के बीच विदेश मंत्रालय (MEA) ने बृहस्पतिवार को कहा कि भारत, पाकिस्तान के साथ सामान्य पड़ोसी जैसे रिश्ते चाहते हैं और सभी तरीकों से सभी मुद्दों को द्विपक्षीय तरीके से हल करने के बारे में कहा गया है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने संवाददाताओं से कहा, ‘महत्वपूर्ण मुद्दों पर हमारे रूख में कोई बदलाव नहीं आया है और मुझे यह बताने की जरूरत नहीं है।’ उन्होंने कहा, ‘भारत, पाकिस्तान के साथ सामान्य पड़ोसी जैसे रिश्ते चाहते हैं और सभी तरीकों से सभी मुद्दों को द्विपक्षीय तरीके से सुलझाने के लिए प्रतिबद्ध हैं।’

उनकी यह टिप्पणी ऐसे समय में आई है जब भारत (भारत) पाकिस्तान (पाकिस्तान) के कानूनी अभियान महानिदेशकों (डीजीएमओ) के बीच बैठक के बाद जारी एक संयुक्त बयान में कहा गया है कि दोनों पक्षों ने नियंत्रण रेखा पर और अन्य क्षेत्रों में संघर्ष विराम पर सभी समझौतों का सख्ती से पालन करने पर सहमति जताई है। दोनों देशों के बीच संघर्ष विराम को लेकर फैसला बुधवार आधी रात से लागू हो गया है।

प्रवक्ता ने कहा कि हमने हमेशा यह कहा है कि हम सभी मुद्दों, अगर नहीं है, उसका निर्णय और द्विपक्षीय समाधान निकालने को प्रतिबद्ध हैं। इस विवरण के बारे में पूछे जाने पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि डीजीएमओ के संयुक्त बयान से जुड़े मुद्दे रक्षा मंत्रालय के तहत आते हैं।

भारत और पाकिस्तान ने 2003 में संघर्ष विराम का किया था, लेकिन पिछले कुछ वर्षों से शायद इस पर अमल हुआ। हालांकि, सैन्य अधिकारियों ने कहा है कि आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई या सीमा पर सैनिकों की लड़ाई की कोई कमी नहीं की जाएगी।







Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments