Home खेल जगत पृथ्वी शॉ का दोहरा शतक: मुंबई ने 50 ओवर में बनाए 457...

पृथ्वी शॉ का दोहरा शतक: मुंबई ने 50 ओवर में बनाए 457 रन, लिस्ट ए में अब तक का चौथा सबसे बड़ा स्कोर


  • हिंदी समाचार
  • खेल
  • क्रिकेट
  • पृथ्वी शॉ डबल सेंचुरी रिकॉर्ड अपडेट; विजय हजारे ट्रॉफी में पुदुचेरी के खिलाफ मुंबई के कप्तान ने 200 रन बनाए

विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जयपुर10 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

भारतीय टेस्ट टीम से बाहर चल रहे पृथ्वी शॉ सीमित ओवर की क्रिकेट में जोरदार बल्लेबाजी कर रहे हैं। उन्होंने विजय हजारे ट्रॉफी में गुरुवार को पुडुचेरी के 152 गेंदों पर 227 रनों की पारी खेली। सूर्यकुमार यादव ने 58 गेंदों पर 133 रन बनाए। इन दोनों बल्लेबाजों की तूफानी पारियों के दम पर मुंबई ने 50 ओवर में चार विकेट खोकर 457 रन बनाए।

यह लिस्ट ए क्रिकेट में दुनिया में अब तक चौथा सबसे बड़ा और किसी भारतीय टीम का दूसरा सबसे बड़ा स्कोर है। शॉ ने दो दिन पहले इसी तरह के टूर्नामेंट में दिल्ली के खिलाफ 105 रनों की नाबाद पारी खेली थी।

लिस्ट ए में दोहरा शतक जने वाले सातवें भारतीय
पृथ्वी शॉ लिस्ट ए क्रिकेट में दोहरा शतक जाने वाले सातवें भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं। उनसे पहले सचिनंदुलकर, अशरेंद्र सहवाग, रोहित शर्मा, शिखर धवन, संजू शर्मा और यशस्वी गोसवाल पहले ही यह उपलब्धि हासिल कर चुके हैं। सचिन, सहवाग और रोहित शर्मा ने इंटरनेशनल वनडे मैच में यह कारनामा किया है।

अन्य दंत चिकित्सकों ने गैर आंतरिक लिस्ट ए मैचों में दोहरा शतक जमाया है। पृथ्वी शॉ की पारी लिस्ट ए में किसी भारतीय बल्लेबाज की तीसरी सबसे बड़ी पारी है। रोहित शर्मा (264) और शिखर धवन (248) ने ही उन्हें बड़ी पारी खेली है।

विजय हजारे ट्रॉफी की सबसे बड़ी पारी और सबसे बड़ी टीम स्कोर
पृथ्वी शॉ की पारी विजय हजारे ट्रॉफी में किसी व्यक्ति की सबसे बड़ी पारी है। बाद में संजू बालन के नाम था। संजू ने 2019 में केरल की ओर से खेलते हुए गो के खिलाफ 212 रन की नाबाद पारी खेली थी। साथ ही मुंबई का स्कोर इस टूर्नामेंट का सबसे बड़ा स्कोर है। झारखंड के नाम के बाद झारखंड ने पांच दिन पहले इंदौर में मध्य प्रदेश के खिलाफ 422/9 का स्कोर बनाया था।

पहली बार सीनियर टीम की कप्तानी कर रहे शॉ
इस मैच के लिए मुंबई ने श्रेयस अय्यर को आराम दिया था। उनकी जगह टीम की कमान पृथ्वी को मिली। पहली बार सीनियर टीम की कप्तानी कर रही शॉ ने 152 गेंदों का सामना किया और 31 चौके और पांच छक्के जमा किए। वहीं, सूर्यकुमार यादव ने 58 गेंदों की अपनी पारी में 22 चौके और चार छक्के जमा किए। पृथ्वी और सूर्यकुमार ने तीसरे विकेट की साझेदारी में 201 रन बनाए।

सबसे बड़ा स्कोर सरे के नाम
लिस्ट ए क्रिकेट में सबसे बड़ी टीम टोटल का रिकॉर्ड इंग्लैंड की काउंटी टीम सरे के नाम है। सरे ने 2007 में ओवरू में ग्लूस्टरस्टर्स के खिलाफ 496/4 का स्कोर बनाया है। वहीं भारतीय टीम का सबसे बड़ा स्कोर 458/4 का है। भारत ए ने 2018 में लीस्टरस्टर्स के खिलाफ यह स्कोर बनाया था। उस मैच में भी पृथ्वी शॉ ने शतकीय पारी खेलते हुए 132 रन बनाए थे। इस तरह मुंबई की टीम लिस्ट ए क्रिकेट में सबसे बड़े भारतीय स्कोर की बराबरी से सिर्फ एक रन पीछे रह गई है।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments