Home देश की ख़बरें प्रयागराज: स्वामी करपात्री जी महाराज के नाम पर डाक टिकट जारी करने...

प्रयागराज: स्वामी करपात्री जी महाराज के नाम पर डाक टिकट जारी करने की मांग, पीएम मोदी को लिखा पत्र


स्वामी करपात्री जी महाराज के नाम पर डाक टिकट जारी करने की मांग

इलाहाबाद हाईकोर्ट (इलाहाबाद उच्च न्यायालय) के वरिष्ठ न्यायमूर्ति जस्टिस के जे टीकर ने कहा कि स्वामी करपात्री जी ने मानवता के लिए आजीवन काम किया।

प्रयागराज। संगम नगरी प्रयागराज (प्रयागराज) की रेती पर लगे माघ मेले से धर्म सम्राट स्वामी करपात्री जी महाराज के नाम पर डाक टिकट (पोस्टल टिकट) जारी करने की मांग उठी है। इसके साथ ही वाराणसी से दिल्ली के बीच “धर्म सम्राट” स्पेशल ट्रेन चलाये जाने की भी संतों और युवाओं ने मांग की है। युवा चेतना के राष्ट्रीय संयोजक रोहित कुमार सिंह ने देश के प्रधानमंत्री और वाराणसी के सांसद पीएम नरेंद्र मोदी से मांग की है कि धर्म सम्राट स्वामी करपात्री जी महाराज का कार्यक्षेत्र वाराणसी के आस-पास ही अधिक रहा है। इसलिए वाराणसी से दिल्ली के बीच धर्म सम्राट स्वामी करपात्री जी महाराज के नाम पर एक विशेष ट्रेन “धर्म सम्राट” विशेष ट्रेन भी चलायी जानी चाहिए।

इसलिए लोगों को धर्म इमामी करपात्री जी महाराज के बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी मिल सकेगी। माघ मेले में अखिल भारतीय धर्म संघ पंडाल में धर्म सम्राट स्वामी करपात्री जी महाराज का महानिर्वाण पर्व बड़ा ही आस्था, श्रद्धा और विश्वास के साथ मनाया गया। इस मौके पर धर्म सम्राट स्वामी करपात्री जी महाराज द्वारा सनातन धर्म को बचाने के लिए किए गए कार्यों पर जहां विद्वानों ने खंडन किया। वहीं आदि शंकराचार्य के बाद सनातन धर्म और गौ रक्षा के लिए आंदोलन और जनजागरण के योगदान को देखते हुए धर्म सम्राट स्वामी करपात्री जी महाराज के नाम पर भारत सरकार से डाक टिकट जारी करने की मांग की गई।

स्वामी करपात्री जी महाराज के नाम पर ट्रेन चलाने की मांग
युवा चेतना के राष्ट्रीय संयोजक रोहित कुमार सिंह ने देश के प्रधानमंत्री और वाराणसी के सांसद पीएम नरेंद्र मोदी से धर्म सम्राट स्वामी करपात्री जी महाराज के नाम पर एक ट्रेन भी चली गई जाने की भी मांग की है। इसलिए लोगों को धर्म इमामी करपात्री जी महाराज के बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी मिल सकेगी। महानिर्वाण पर्व का उद्घाटन स्वामी सर्वेश्वरानंद सरस्वती, स्वामी अभिषेक ब्रह्मचारी और युवा चेतना के राष्ट्रीय संयोजक रोहित कुमार सिंह ने संयुक्त रूप से किया। इस मौके पर इलाहाबाद हाईकोर्ट के वरिष्ठ न्यायमूर्ति जस्टिस के जेपीकर, जस्टिस पंकज भाटिया, जस्टिस नीरज तिवारी और जस्टिस उमेश कुमार ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित किया।मानवता के लिए आजीवन ने काम किया

इलाहाबाद हाईकोर्ट के वरिष्ठ न्यायमूर्ति जस्टिस के जेपीकर ने कहा कि स्वामी करपात्री जी ने मानवता के लिए आजीवन काम किया। उन्होंने कहा कि करपात्री जी तपस्वी और ओजस्वी थे। जस्टिस के जेपीकर ने कहा कि भगवान कृष्ण उत्तर प्रदेश में पैदा हुए लेकिन हम गुजरात में चले गए। गुजरात ने भगवान को उत्तर प्रदेश को वापस किया है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रूप में। वहीं जस्टिस पंकज भाटिया ने कहा कि करपात्री जी सनातन धर्म के पुरोधा थे। स्वामी करपात्री जी ने आजीवन गरीब वर्ग के उत्थान के लिए कार्य किया।







Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments