Home मध्य प्रदेश बजट में सीएम गुट ने बाजी मारी: शिवराज के शीर्ष 6 कलाकारों...

बजट में सीएम गुट ने बाजी मारी: शिवराज के शीर्ष 6 कलाकारों को सिंधिया खेम से ज्यादा बजट, सबसे ज्यादा स्कूली शिक्षा विभाग को 24,421 करोड़ रुपये


  • हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • एमपी
  • शिवराज के शीर्ष 6 मंत्रियों ने सिंधिया शिविर से अधिक बजट प्राप्त किया, स्कूल शिक्षा विभाग को अधिकतम 24,421 करोड़ रुपये

विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भोपाल5 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

शिवराज खेमे को सिंधिया से ज्यादा बजट दिया गया है।

  • सिंधिया के 6 कलाकारों को कुल 47,414 करोड़ रुपये मिले, जबकि सीएम शिवराज सिंह के मंत्रियों के बजट में 65,041 करोड़ रुपये दिए गए

वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा ने मंगलवार को विधानसभा में शिवराज सरकार के चौथे कार्यकाल का बजट पेश किया। एक घंटे 26 मिनट के भाषण में 2.40 लाख करोड़ का अनुमानित बजट है। बजट में सबसे ज्यादा स्कूली शिक्षा पर फोकस किया गया है। इस विभाग को 24,421 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। इसके बाद सबसे ज्यादा बजट पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग को दिया गया है। इसे 16042 करोड़ रुपए दिए गए हैं।

शिवराज सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया के 6 बड़े मंत्रियों के लिहाज से बजट में बंटवारा देखें, तो बजट शिवराज सिंह के खेमे ने बाजी मारी है यानि सबसे ज्यादा बजट शिवराज सिंह के मंत्रियों को आवंटित किया गया है। सिंधिया के मुख्य 6 कलाकारों को कुल 47,414 करोड़ रुपये मिले हैं, जबकि शिवराज सिंह खेम के 6 मंत्रियों को 65,041 करोड़ रुपये दिए गए हैं। इस लिहाज से शिवराज सिंह के मंत्रियों को 17,627 करोड़ का बजट दिया गया है।

सिंधिया खेम को बजट मिला

शिवराज सरकार में सिंधिया गुट के 8 मंत्री हैं। इनमें मुख्य रूप से गोविंद सिंह राजपूत, महेंद्र सिंह सिसौदिया, प्रदुम्मनसिंह तोमर, तुलसी सिलावट, प्रभूराम चौधरी और बृजेंद्रसिंह यादव हैं। इन सबसे ज्यादा बजट पंचायत और ग्रामीण विकास मंत्री को 16042 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। वहीं, सबसे कम राजस्व और परिवहन मंत्री को 2078 करोड़ रुपये दिए गए हैं। दूसरे स्थान पर ऊर्जा मंत्री प्रद्दुम्मन सिंह तोमर हैं, जिन्हें 10,947 करोड़ रुपये मिले हैं।

शिवराज गुट के मंत्रियाें काे आवंटित बजट

सरकार में बाकी मंत्री शिवराज गुट के हैं। इनमें मुख्य रूप से गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा, इंदरसिंह परमार, भूपेंद्र सिंह, गोपाल भार्गव, विजय शाह, यशराज राजे सिंधिया हैं। उनके खाने में कुल 65,041 करोड़ रुपए दिए गए हैं। इन सबसे ज्यादा स्कूली शिक्षा मंत्री इंदरसिंह परमार को 24,421 करोड़ रुपए मिले हैं। वहीं, सबसे कम वन मंत्री विजय शाह को 1,614 करोड़ रुपये मिले हैं।

खबरें और भी हैं …





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments