Home उत्तर प्रदेश बांदा में भीषण सड़क हादसा, ट्रक से टूटकर दो चचेरे सैनिकों की...

बांदा में भीषण सड़क हादसा, ट्रक से टूटकर दो चचेरे सैनिकों की दर्दनाक मौत


पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

* सिर्फ ₹ 299 सीमित अवधि की पेशकश के लिए वार्षिक सदस्यता। जल्दी से!

ख़बर सुनकर

बांदा-महोबा मार्ग पर सोमवार की रात भाई की बरात से लौट रहे बाइक सवार दो चचेरे भाई को बोलेरो ने मार दिया दी। जिसके बाद सड़क पर गिरे दोनों लोगों के ट्रक को तोड़ दिया गया। सूचना पर पहुंचे स्वजन उन्हें उठाकर अस्पताल ले गए, जहां पर डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। हादसे की जानकारी मिलते ही शादी की खुशियां मातम में बदल गई और घर में कोहराम मच गया।

महोबा जिले के मकानियापुरा मोहल्ला निवासी साकिर अली के बड़े बेटे नसीम की बरात बांदा की नरैनी तहसील के जबौली गांव आई थी। सोमवार रात निकाह के बाद बरात की विदाई हुई थी। नसीम के छोटे भाई शमीम ने बताया कि शादी का सामान लदी गाड़ी में बैठकर पर वह पहले निकला।

पीछे से बड़े भाई वसीम और चचेरा भाई राजा बाइक से आ रहे थे। सुबह करीब सवा चार बजे वसीम के मोबाइल पर फोन आया और उसने कहा कि हादसा हो गया है। वह और राजा सड़क पर घायल पड़े हैं, भाई-बहुत तकलीफ हो रही है, जल्दी आओ …। बह बहुत बह रहा है, सहा नहीं जा रहा है, अब आकर ले जाओ। पूछने पर वह जगह नहीं बता पाया और पुलिया के पास पड़े होने की जानकारी दी।

शमीम ने बताया कि वह रिश्तेदारों के साथ करीब दस मिनट में पहुंच गए। फोन करके बात करने वाले भाई वसीम का सिर कुचला मिला और पास में राजा भी बेहोश हिचकी लेता मिला। इस बीच पुलिस आ गई और घायलों को एकरेंस से अस्पताल ले गई, जहां राजा ने भी दम तोड़ दिया। उन्होंने कहा कि फोन पर बात करने के बाद संभवता किसी ट्रक ने दोनों घायल मुसलमानों को तोड़ दिया, जिससे उनकी मौत हो गई।

बांदा-महोबा मार्ग पर सोमवार की रात भाई की बरात से लौट रहे बाइक सवार दो चचेरे भाई को बोलेरो ने टक्कर मार दी। जिसके बाद सड़क पर गिरे दोनों लोगों के ट्रक को तोड़ दिया गया। सूचना पर पहुंचे स्वजन उन्हें उठाकर अस्पताल ले गए, जहां पर डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। हादसे की जानकारी मिलते ही शादी की खुशियां मातम में बदल गई और घर में कोहराम मच गया।

महोबा जिले के मकानियापुरा मोहल्ला निवासी साकिर अली के बड़े बेटे नसीम की बरात बांदा की नरैनी तहसील के जबौली गांव आई थी। सोमवार रात निकाह के बाद बरात की विदाई हुई थी। नसीम के छोटे भाई शमीम ने बताया कि शादी का सामान लदी गाड़ी में बैठकर पर वह पहले निकला।

पीछे से बड़े भाई वसीम और चचेरा भाई राजा बाइक से आ रहे थे। सुबह करीब सवा चार बजे वसीम के मोबाइल पर फोन आया और उसने कहा कि हादसा हो गया है। वह और राजा सड़क पर घायल पड़े हैं, भाई-बहुत तकलीफ हो रही है, जल्दी आओ …। बह बहुत बह रहा है, सहा नहीं जा रहा है, अब आकर ले जाओ। पूछने पर पर वह नहीं बता पाया और पुलिया के पास पड़े होने की जानकारी दी।

शमीम ने बताया कि वह रिश्तेदारों के साथ करीब दस मिनट में पहुंच गए। फोन करके बात करने वाले भाई वसीम का सिर कुचला मिला और पास में राजा भी बेहोश हिचकी लेता मिला। इस बीच पुलिस आ गई और घायलों को एर्न्स से अस्पताल ले गई, जहां राजा ने भी दम तोड़ दिया। उन्होंने कहा कि फोन पर बात करने के बाद संभवता किसी ट्रक ने दोनों घायल मुसलमानों को तोड़ दिया, जिससे उनकी मौत हो गई।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments