Home उत्तर प्रदेश बीएचयू कैंपस में छात्रों के दो गुटों में मारपीट, पीएम-कृषि मंत्री के...

बीएचयू कैंपस में छात्रों के दो गुटों में मारपीट, पीएम-कृषि मंत्री के पोस्टल जलाने पर हुआ विवाद


छात्रों का विरोध प्रदर्शन
– फोटो: अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

* सिर्फ ₹ 299 लिमिटेड पीरियड ऑफर के लिए वार्षिक सदस्यता। जल्दी से!

ख़बर सुनकर

बीएचयू कैंपस में शनिवार की शाम छात्रों के दो गुटों में मारपीट से अफरातफरी मच गया। महिला महाविद्यालय के पास अखिल भारतीय छात्र परिषद (अभाविप) और ऑल इंडिया स्टूडेंटस एसोसिएशन (आईसा) कार्यकर्ताओं के बीच मारपीट की इस घटना में दोनों तरफ से कुछ छात्रों को हल्की अंक भी आई है।

एमएमवी चौराहे पर प्रधानमंत्री और कृषि मंत्री का डाक जलाने और नारेबाजी को ही घटना की मुख्य वजह बताई जा रही है।]हालांकि किसी ने भी इसकी लिखित शिकायत नहीं की है, लेकिन जिस तरह से एमएमवी चौराहे पर यह घटना हुई, उससे सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़ा होने लगा है।

देश में कृषि कानून के विरोध में किसानों के धरना, प्रदर्शन के समर्थन में ही आईसा की ओर से महिला महाविद्यालय गेट पर प्रदर्शन किया जा रहा था। कार्यकर्ताओं ने कानून को किसान विरोधी बताते हुए सरकार के इस कदम की निंदा की।

इस बीच, शाम को पीएम नरेंद्र मोदी, कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का डाक जलाकर कार्यकर्ता विरोध जताने लगे। इसके साथ ही अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर नारेबाजी की गई। उधर से गुजर रहे अखिल भारतीय छात्र परिषद कार्यकर्ताओं ने बासुलेशन कैंपस में धरना-प्रदर्शन, पोस्टर जलाने, नारेबाजी की इस कार्रवाई पर चीफ प्रॉक्टर आफिस पर फोन कर आपत्ति जताई और प्रदर्शन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

बताया जा रहा है कि जानकारी मिलने के बाद ही दोनों गुटों में पहले कहासुनी होने लगी। बाद में मामला मारपीट तक पहुंच गया। इसमें दोनों ओर से कुछ छात्र चोटिल भी हुए। सूचना पाकर मौके पर पहुंचे प्रोक्टरियल बोर्ड के सदस्यों ने किसी तरह मामला शांत कराया। घटना को लेकर दोनों गुट की ओर से एक दूसरे पर आरोप लगाया जा रहा है।

बीएचयू कैंपस में शनिवार की शाम छात्रों के दो गुटों में मारपीट से अफरातफरी मच गया। महिला महाविद्यालय के पास अखिल भारतीय छात्र परिषद (अभाविप) और ऑल इंडिया स्टूडेंटस एसोसिएशन (आईसा) कार्यकर्ताओं के बीच मारपीट की इस घटना में दोनों तरफ से कुछ छात्रों को हल्की अंक भी आई है।

एमएमवी चौराहे पर प्रधानमंत्री और कृषि मंत्री का डाक जलाने और नारेबाजी को ही घटना की मुख्य वजह बताई जा रही है।]हालांकि किसी ने भी इसकी लिखित शिकायत नहीं की है, लेकिन जिस तरह से एमएमवी चौराहे पर यह घटना हुई, उससे सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़ा होने लगा है।

देश में कृषि कानून के विरोध में किसानों के धरना, प्रदर्शन के समर्थन में ही आईसा की ओर से महिला महाविद्यालय गेट पर प्रदर्शन किया जा रहा था। कार्यकर्ताओं ने कानून को किसान विरोधी बताते हुए सरकार के इस कदम की निंदा की।

इस बीच, शाम को पीएम नरेंद्र मोदी, कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का डाक जलाकर कार्यकर्ता विरोध जताने लगे। इसके साथ ही अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर नारेबाजी की गई। उधर से गुजर रहे अखिल भारतीय छात्र परिषद कार्यकर्ताओं ने बासुलेशन कैंपस में धरना-प्रदर्शन, पोस्टर जलाने, नारेबाजी की इस कार्रवाई पर चीफ प्रॉक्टर आफिस पर फोन कर आपत्ति जताई और प्रदर्शन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments