Home भंडारण मंजूरी: पेट्रोल में मिलाए जाने वाले एथनॉल को बनाने वाली नई...
Array

भंडारण मंजूरी: पेट्रोल में मिलाए जाने वाले एथनॉल को बनाने वाली नई डिस्टिलरी को 4,573 करोड़ रुपये की ब्याज छूट मिलेगी


विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्लीएक घंटा पहले

  • कॉपी लिस्ट

वित्त मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने फैसले की जानकारी दी और कहा कि भारत को 2030 तक पेट्रोल में मिलाने के लिए लगभग 1,000 करोड़ लीटर एथनॉल की जरूरत होगी

  • पेट्रोल में एथनॉल मिलाने से तेल के लिए आगे पर निर्भरता घटेगी
  • अभी देश में 684 करोड़ लीटर एथनॉल बनाने की क्षमता है

केंद्रीय मंत्री ने बुधवार को पेट्रोल में मिलाए जाने वाले एथनॉल को बनाने वाली नई डिस्टिलरीज के लिए 4,573 करोड़ रुपये की ब्याज छूट को मंजूरी दी। पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने फैसले की जानकारी दी और कहा कि भारत को 2030 तक गैस में मिलाने के लिए लगभग 1,000 करोड़ लीटर एथनॉल की जरूरत होगी। इससे आगे बढ़ने पर निर्भरता घटेगी। अभी देश में 684 करोड़ लीटर एथनॉल बनाने की क्षमता है।

उन्होंने कहा कि कैलकुलेटर ने एथनॉल डिस्टिलेशन क्षमता बढ़ाने के लिए संशोधित योजना को मंजूरी दी है। इसका मकसद देश में चावल, गेहूं, जौ, मक्का और मिर्च जैसे अनाजों सहित गन्ना और शकरकंद के चारे से पहली पीढ़ी का एथनॉल बनाना है।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments