Home मध्य प्रदेश भय्यू महाराज्यूसीड केस: महाराज और आयुषी की उम्र में 23 साल 1...

भय्यू महाराज्यूसीड केस: महाराज और आयुषी की उम्र में 23 साल 1 महीने और 10 दिन का अंतर, आज फिर से सकारात्मक बदलाव होगा


विज्ञापन से परेशान हैं? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

इंदौर17 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

दोपहर में आयुषी कोर्ट में बयान दर्ज करने पहुंची।

  • आयुषी ने कहा मुझे महाराज से प्रेम नहीं था
  • 7 महीने के बच्चे प्री मेचुएयर बेबी के मांगे गए दस्तावेज़

भय्यू महाराज आत्महत्या मामले में सोमवार को महाराज की पत्नी आयुषी का प्रतिच्छेदन हुआ। उन्होंने कहा कि मैंने कुहू को हमेशा अपनी बेटी माना, लेकिन उसने कभी मुझे मां का सम्मान नहीं दिया। महाराज और ट्रस्ट के संपीड़न अधिकारियों के बारे में मुझे ज्यादा जानकारी नहीं है। मुझे महाराज के सिर्फ एक ही बैंक खाते की जानकारी है जो कैनरा बैंक में थी। उनके कितने बैंकों में और कितने खाते थे इसके बारे में मुझे जानकारी नहीं है। आयुषी का प्रतिच्छेदन अधूरा रहा जो मंगलवार (आज) भी जारी रहेगा।

जब कोई भी उससा को पसंद करता है तो उम्र नहीं देखी जाती है
भय्यू महाराज आत्महत्या मामले में अब तक 18 गवाहों के बयान हो चुके हैं। आयुषी का प्रतिच्छेदन सोमवार को लगभग चार घंटे चला जो अधूरा रहा। आरोपी की तरफ से सीनियर एडवोकेट अविनाश सिरपुरकर, एडवोकेट धर्मेंद्र गुर्जर, एडवोकेट आशीष चौरे पैरवी कर रहे हैं। सोमवार को अपने प्रतिच्छेदन में आयुषी ने कहा कि उन्होंने कभी महाराज पर मर्सिडीज कार लेने के लिए दबाव नहीं बनाया था।
उनके स्वजन ने भी कभी महाराज पर एक करोड़ रुपये के लिए दबाव बनाने की कोशिश नहीं की। आरोपी की तरफ से सवाल पूछा गया कि महाराज और आपकी उम्र में 23 साल से अधिक का अंतर है। ऐसे में आपने शादी का प्रस्ताव कैसे स्वीकार किया। इस पर आयुषी ने कहा कि जब कोई किसी को पसंद करता है तो फिर उम्र नहीं देखी जाती।

आयुषी ने कहा- 5 नवंबर 2016 को हुई थी महाराज से पहचान
मामले में लंबे समय से महाराज की दूसरी पत्नी आयुषी के बयान बाकी थे। सोमवार को 2.:30 बजे दोपहर आयुषी बयान देने वाले जिला न्यायालय में पहुंचीं। आयुषी ने बयान में कहा महाराज से उनकी पहचान 5 नवंबर 2016 को मनीष खंडेलवाल नामक युवक के जरिए हुई थी, जिसके बाद 6 नवंबर 2016 से आयुषी ने महाराज के यहां मीडिया और मार्केटिंग का काम शुरू किया था, जिसमें उसके साथ 13 लोग शामिल थे।

20 नवंबर को महाराज ने किया था
आयुषी का कहना था कि 20 नवंबर 2016 को महाराज ने मुझे प्रपोज किया था, लेकिन मैंने फोन पर मनाया कर दिया था। आयुषी से कहा, 6 नवंबर 2016 से 20 नवंबर 2016 तक उसने प्रेम शब्द का उपयोग नहीं किया, जो शादी के पहले की बात थी, लेकिन जब महाराज और हम मिलते थे परिवार या दोस्तों के सामने ही मिलते थे। आयुषी ने कहा कि मैंने महाराज से 25 जनवरी 2017 को कोर्ट मैरीज की थी। सामाजिक रूप से 30 अप्रैल 2017 को विवाह किया गया था।

सेवादार विनायक ही रखते थे सब बड़े हिसाब-किताब वाले
एडवोकेट धर्मेंद्र गुर्जर ने पूछा कि बतौर सोशल मीडिया मैनेजर के रूप में आपने (आयुषी) महाराज के यहां जवइन किया था उस समय कितने अन्य साथी थे? आयुषी ने कहा कि 13 लोगों की टीम थी जिसमें 3 महिलाएं स्तुति और आयुषी थी।
पूरे मामले में एक नया मोड़ उस वक्त आया जब आरोपी के वकील ने एक सात महा के प्रीमेच्योर बच्चे के बारे में बात की, तब आयुषी का कहना था कि इसके सबूत उसके पास नहीं है, क्योंकि महाराज के सेवादार विनायक ही सब बड़े हिसाब-किताब में हैं। रखते थे इसलिए सोनोग्राफी और अस्पताल के बिल उन्हीं के पास हैं।

खबरें और भी हैं …





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments