Home मध्य प्रदेश भय्यू महाराज की आत्महत्या का मामला: 7 महीने की बेटी का पूछते...

भय्यू महाराज की आत्महत्या का मामला: 7 महीने की बेटी का पूछते ही कोर्ट में रो पड़ी आयुषी, आज फिर जिला कोर्ट में फिर होना है क्रॉस एग्जामिनेशन


विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

इंदौर11 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

भय्यू महाराज आत्महत्या मामले में मंगलवार को महाराज की पत्नी आयुषी का प्रतिच्छेदन अधूरा रहा। अवधि में बुधवार को भी परीक्षण जारी रहेगा। आरोपी के वकील धर्मेन्द्र गुर्जर द्वारा मंगलवार को भी कई घंटे क्रोस एग्जामिनेशन किया गया था। बुधवार को पहले सवाल पर ही आयुषी के नज़र से आंसू निकला, जब एडवोकेट गुर्जर ने पूछा कि

7 महीने की बेटी के जन्म को लेकर पूछे गए सवाल इस सवाल पर भी आयुषी रो पड़ीं। रोते रोते आयुषी ने जवाब दिया …. कि उसका जन्म माहजोंग के संगोला में हुआ था इंदौर में नहीं। उसके पास वर्तमान में उसका जन्म प्रमाण पत्र नहीं है। इस जवाब पर एडवोकेट ने गुर्जर ने जोर देकर कहा कि बच्ची का जन्म महाराष्ट्र में नहीं बल्कि इंदौर के एक निजी अस्पताल में हुआ था। इस पर आयुषी फूटकर रो पड़ी। उन्होंने कहा कि मैं इस मामले में बच्ची को नहीं लाना चाहता। आयुषी ने स्वीकार किया कि महाराज की किसी से रंजिश नहीं थी। शरद की नियुक्ति को लेकर आयुषी ने कहा कि मुझे पता नहीं है कि उसकी नियुक्ति कब और कहां के लिए हुई थी। ए

दो दिनों में दो सौ सवालों के दिए जवाब-

डॉ। आयुषी से इंदौर की जिला अदालत में लगातार मंगलवार के दिन भी बयान जारी होते रहे। इस दौरान आरोपी पक्ष के वकील के साथ ही विभिन्न वकीलों ने डॉ आयुषी से 200 से अधिक सवाल 2 दिनों में पूछ लिए। जिनमें ज्यादातर प्रश्न भय्यू महाराज और उनके बीच के रिश्तों को लेकर थे। इसी के साथ उनकी बच्ची और परिवार के अन्य सदस्यों से आयुषी का किस तरह से व्यवहार था? इसको लेकर भी वकीलों ने डॉ। आयुषी से सवाल किए।

खबरें और भी हैं …





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments