Home उत्तर प्रदेश यूपी में एक और पूर्व मंत्री की बढ़ी हुई मुश्किलें: सपा सरकार...

यूपी में एक और पूर्व मंत्री की बढ़ी हुई मुश्किलें: सपा सरकार में मंत्री रहे मनोज पांडेय के सम्पादनकारियों की विजिलेंस जांच होगी; एजेंसी ने शासन से मंजूरी मांगी


विज्ञापन से परेशान हैं? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लखनऊ10 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

जांच में यह भी सामने आया है कि उन्होंने बिना सक्षम अधिकारी की अनुमति के दलितों की कई जमीनों को अपने नाम कर लिया।

  • बीते दो साल से विजिलेंस संक्षिप्त तरीके से जुटा रहा सबूत था
  • सपा सरकार में ब्राह्मणों का बड़ा चेहरा मनोज पांडेय थे

सपा सरकार में कद्दावर मंत्रियों की सूची में शुमार रहे आजम खान प्रसाद गायत्री प्रसाद प्रजापति के बाद अब मनोज कुमार पांडेय पर भी कानून का शिकंजा कसने लगा है। रायबरेली के रहने वाले मनोज पांडेय के खिलाफ चौकसनेसन (विजिलेंस) ने आय से अधिक संपत्ति की जांच करने के लिए शासन से अनुमति मांगी है। विजिलेंस ने मनोज पांडेय के खिलाफ हुई गोपनीय जांच को आधार बनाया है। जिसमें कहा जा रहा है कि उनके खिलाफ आय से अधिक संपत्ति के सबूत मिले हैं। बता दें मनोज पांडेय समाजवादी पार्टी में ब्राह्मणों का बड़ा चेहरा थे।

आय से कई गुना संपत्ति का खुलासा

दरअसल विजिलेंस बीते दो साल से मनोज पांडेय द्वारा आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के आरोपों की गोपनीयता जांच कर रहे हैं। ‘ शासन को विजिलेंस द्वारा भेजी गयी आपसी जांच की रिपोर्ट में उन्हें दोषी पाया गया और उनके द्वारा अर्जित संपत्तियों की गहराई से पड़ताल करने को खुली जांच शुरू करने की अनुमति मांगी गई है। खुली जांच के बाद विजिलेंस शासन की अनुमति उनके खिलाफ आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने की प्राथमिकी दर्ज करेगी।

कई संपीड़न अधिकारियों के बेनामी होने की संभावना

शासन के सूत्रों के मुताबिक मनोज कुमार पांडेय के खिलाफ हुई गोपनीयता जांच में उनकी कई अनिश्चितकीमती संपत्तियों के पता लगा है जो उन्होंने अपने मंत्री रहने के दौरान अर्जित की है। जांच में यह भी सामने आया है कि उन्होंने बिना सक्षम अधिकारी की अनुमति के दलितों की कई जमीनों को अपने नाम कर लिया। विजिलेंस ने रायबरेली समेत लखनऊ सहित आधा दर्जन शहरों में उनके संपत्तियों के पता लगाया है जिसमें से कई बेनामी होने की संभावना है। इसी कारण से विजिलेंस ने इस मामले की गहराई से छानबीन करने को शासन से खुली जांच करने की अनुमति मांगी है। बताते चलें कि पूर्व मंत्री आजम खान और गायत्री प्रसाद प्रजापति के खिलाफ भी कई एजेंसियां ​​जांच कर रही हैं।

खबरें और भी हैं …





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments