Home मध्य प्रदेश यूरेनियम पत्थर के नाम पर धुरी: एक करोड़ में बेचने का झांसा...

यूरेनियम पत्थर के नाम पर धुरी: एक करोड़ में बेचने का झांसा देकर 5 लाख रु। में खपाने वाले थे यूरेनियम बनाने वाला नकली पत्थर, 3 ठग गिरफ्तार


  • हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • एमपी
  • नकली पत्थर का इस्तेमाल 5 लाख के लिए यूरेनियम बनाने के लिए किया गया था, एक करोड़ के लिए इसे बेचने के वादे के साथ, 3 ठग गिरफ्तार

विज्ञापन से परेशान हैं? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सतना7 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

पुलिस ने तीन आरोपी क्रमशः: दिवाकर चंद्र गौतम, मुन्ना चमार और शिवमूरत चतुर्वेदी को गिरफ्तार किया

युवक की समझदारी से वह ठगी से बच गया। उसने ठगों को पुलिस तक पहुंच्ंचा दिया। तीन आरोपी एक करोड़ की कीमत बताकर यूरेनियम बनाने वाले नकली पत्थर को पांच लाख रुपए में बेचना चाहते थे। पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

शुक्रवार संदीप कुमार मिश्रा निवासी माधवगढ़ हाल ऊतय ने थाने में शिकायत दर्ज कराई कि रात करीब 9:30 बजे दुकान पर लोग आए। उन्होंने कहा, हमारे पास यूरेनियम बनाने का कीमती पत्थर है, जो आपको 5 लाख रुपये में दे देंगे। आप इसे एक करोड़ रुपए में बेच सकते हैं। आरोपियों ने बेग में से पॉलीथिन में कुछ छोटे-छोटे पत्थर के टुकड़े रबारी दार चमकीले दिखाए। मैं समझ गया कि तीनों ठगी करने वाले समर्थकों के लोग हैं। मैंने 12 वी में यूरेनियम के बारे में पढ़ा था कि यूरेनियम से परमाणु जैसी विस्फोटक सामग्री तैयार की जाती है। उसने पुलिस को शिकायत कर दी।

आरोपियों से दूर किए गए पत्थर।

आरोपियों से दूर किए गए पत्थर।

पुलिस ने आरोपी दिवाकर चंद्र गौतम (43) पिता सरयू प्रसाद निवासी प्रयागराज, मुन्ना चमार (45) पिता तेजा चमार निवासी फतेहपुर और शिवमूरत चतुर्वेदी (53) पिता राजमणि निवासी कोलमाथ को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच में लिया है। उनके पास से यूरैंड पत्थर भी दूर किए गए हैं। आरोपियों को कोर्ट में भी पेश किया गया, जहां से जेल भेज दिया गया।

खबरें और भी हैं …





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments