Home मध्य प्रदेश रात्रि गसेट में लकड़ी तोड़ने: बदौना के जंगल से कटकर सागर आ...

रात्रि गसेट में लकड़ी तोड़ने: बदौना के जंगल से कटकर सागर आ रही थी 20 क्विंटल लकड़ी, फॉरेस्ट टीम ने कनेक्टर-टोली व लकड़ी तोड़ने की


विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सागर16 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

उत्तर वन मंडल की टीम द्वारा पकड़ी गई अवैध लकड़ी से भरी हुई जाली मिली है।

  • भैंसा पगारा बायपास पर उत्तर वन मंडल की टीम ने रात में की कार्रवाई

बदौना गांव के जंगल से कटकर रात के अंधेरे में सागर लाई जा रही लगभग 20 क्विंटल लकड़ी को उत्तर वनमंडल की टीम ने बचा लिया है। आरोपी ट्रैक्टर-ट्रॉली में भरकर लकड़ी को सागर खपाने के लिए ला रहा था, लेकिन भैंसा पगारा बायपास के पास रात्रि गसेट टीम की ट्रॉली में भरी लकड़ी पर नजर पड़ गई थी। टीम ने रोककर जब लकड़ी के संबंधित दस्तावेज चालक से मांगे तो वह कोई वैध कागज नहीं दिखा रहा है। इसके तुरंत बाद टीम ने ट्रैक्टर-ट्रॉली व लकड़ी रखने वाले आरोपी चालक को हिरासत में ले लिया। उत्तर मंडल के सागर रेंजर लाखन लाल यादव ने बताया कि भैंसा बायपास रोड पर एक ट्रैक्टर-ट्रॉली पकड़ी गई। इसमें 20 क्विंटल पीपल के पेड़ की कटी हुई लकड़ी भरी हुई थी। सुभाष नगर वार्ड निवासी आरोपी ट्रैक्टर चालक दिनेश अहिरवार से जब लकड़ी के संबंध में कागज दिखाने के लिए कहा तो उसके पास कोई वैध दस्तावेज नहीं मिले। इसके बाद आरोपी से पूछताछ की गई तो उसने बताया कि वह बदौना गांव से यह लकड़ी लेकर आ रहा था। पगारा बीट प्रभारी कृष्णकुमार प्रजापति ने बताया कि आरोपी चालक के खिलाफ भारतीय वन अधिनियम के तहत मामले दर्ज कर जांच में लिया गया है। मौके से ट्रैक्टर-ट्रॉली व लकड़ी को रखने कर नरावलीली डिपो में रखवाया गया है। आरोपी से पूछताछ की जा रही है। कार्रवाई के दौरान परिक्षेत्र सहायक मुकेश रजक और जेरई बीटी प्रभारी रविन्द्र कुमार चौबे सहित अन्य स्टाफ मौजूद थे।

खबरें और भी हैं …





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments