Home फ़िल्मी दुनिया विशेष बातचीत: 'लव जिहाद' बेस्ड म्यूजिक एल्बम में नजर आईं पायल घोष...

विशेष बातचीत: ‘लव जिहाद’ बेस्ड म्यूजिक एल्बम में नजर आईं पायल घोष ने दी सफाई, बोलीं-मैं मुस्लिम धर्म के खिलाफ नहीं


विज्ञापन से परेशान हैं? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबई15 मिनट पहलेलेखक: किरण जैन

  • कॉपी लिस्ट

एक्ट्रेस पायल घोष ने हाल ही में ‘लव जिहाद’ टाइटल पर बेस्ड अपना एक म्यूजिक एल्बम लॉन्च किया है। जिसके बाद से ही उन्हें आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है। पायल की माने तो इस गाने के माध्यम से वे लड़कियों को गलत रिश्ते में फंसने से आगाह कर रहे हैं, ना की किसी की टिप्पणी पर टिप्पणियाँ। दैनिक भास्कर से विशेष बातचीत के दौरान पायल ने अपने इस म्यूजिक चैट के बारे में विस्तार से बताया। साथ ही फिल्ममेकर अनुराग कश्यप पर उनके लगाए यौन शोषण के आरोप का जिक्र भी किया गया।

लड़कियों के जरिए लड़कियों को आगाह करना चाहता हूं
पायल घोष ने कहा, “मैंने ऐसे कई मामले देखे हैं, जहां एक मुस्लिम लड़के हिंदू बनकर लड़की के साथ अफेयर करता है और पता चलने के बाद वे लड़की को टॉर्चर करता है। ‘लव जिहाद’ के बारे में मैंने काफी रिसर्च किया और तब तक। मुझे एहसास हुआ कि ये इंटरकास्ट शादी या अफेयर के बारे में नहीं है, बल्कि जो फ्रॉड हो रहे हैं ये एक्ट उसके बारे में है। लड़कियों को फंसाकर जो शादी करते हैं और उन्हें टॉर्चर करते हैं। हम अपने पेज के जरिए लोगों को दिखाते हैं। चाहते हैं और उन्हें आगाह करना चाहते हैं। “

भविष्य में अनाथ आश्रम और गरीब बच्चों के लिए स्कूल खोलना चाहता हूं
पायल घोष ने आगे कहा, “आप जब सही कर रहे हो फिर भी लोग आपको गलत बोलेंगे, तो मैं क्या कर सकता हूं। मैं ये साफ कर देना चाहता हूं कि मैं मुस्लिम कम्युनिटी के खिलाफ नहीं हूं। मेरे कई दोस्त मुस्लिम हैं। यहां मैं किसी धर्म के बारे में बात नहीं कर रहा हूं। लव जिहाद के मामले बढ़ रहे हैं और मैं लड़कियों को बस आगाह करना चाहता हूं। मैंने हाल ही में पॉलिटिक्स चुना है, हालांकि मैं बचपन से ही सोशल सर्विस करना चाहती थी। मैं समाज हूं में जागरूकता लाना चाहती हूं, फिर चाहे अपने प्रोफेशन के जरिए ही क्यों ना हो। भविष्य में एक अनाथ आश्रम और साथ ही गरीब बच्चों के लिए एक स्कूल खोलने का सपना है। अगर बच्चे पढ़ेंगे नहीं, आगे नहीं बढ़ेंगे तो हिन्दुस्तान कैसे बढ़ेगा?

चाहता हूं अनुराग कश्यप को सजा मिली
एक्ट्रेस ने कहा, “अनुराग कश्यप के मामले में अभी भी मुंबई पुलिस जांच-पड़ताल के लिए थोड़ी देर मांग रही है। मैं मुंबई पुलिस के खिलाफ नहीं जाना चाहता हूं और इसलिए हम उन्हें कब दे रहे हैं। बढ़ रहा है, तो कोर्ट का दरवाजा जरूर खटखटाएंगे। मैंने निडर होकर अपनी बात सबके सामने रखी थी, मैं चाहता हूं कि इससे दूसरी लड़कियों को भी हिम्मत मिले। अगर उनके साथ भी गलत हुआ है, तो उन्हें आवाज उठानी ही पड़ेगी। मैं चाहता हूं। क्या मैं अनुराग को इसकी सजा मिली, इसलिए इंडस्ट्री या कहीं भी लड़कियों के साथ गलत व्यवहार हो सकता है। “

अभी भी हमारी सोसाइटी ‘मेल-डोमिनेटेड’ है
पायल घोष ने आगे कहा, “कहते हैं कि कानून और आदतों के साथ है, हालांकि मुझे ऐसा नहीं लगता कि यह कुछ है। अभी भी हमारी सोसाइटी ‘मेल-डोमिनेटेड’ है। अगर लड़की सामने आकर सच्चाई बताती है, तो वही – डिफेमेशन केस लगा दिया। दिया जाता है। जरूरी नहीं कि हर सिचुएशन में लड़की कैमरा हो, ताकि उसके पास घटना का सबूत हो। कोई स्टिंग ऑपरेशन करने नहीं जाता है। आप लड़की पर भी भरोसा करना चाहिए।

किसान को आंदोलन करने की जरूरत नहीं है
पायल घोष ने आगे कहा, “किसान आंदोलन में कई बुजुर्ग किसान को शामिल होता देख, अच्छा नहीं लग रहा है। मेरी गणना से इस आंदोलन की जरूरत भी नहीं है, क्योंकि ऐसा नहीं है कि सरकार उनकी बातों को नहीं सुन रही है। इसका हल जरूर निकलेगा, लेकिन इस तरह का आंदोलन करना बिल्कुल गलत है।

खबरें और भी हैं …





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments