Home ब्लॉग शेयर बाजार में भारी गिरावट: ब्रोकरेज हाउसेस ने निवेशकों को सतर्क किया,...

शेयर बाजार में भारी गिरावट: ब्रोकरेज हाउसेस ने निवेशकों को सतर्क किया, जानिए बॉन्ड मार्केट कैसे शेयर बाजार को मजबूत बना रहा


  • हिंदी समाचार
  • व्यापार
  • ब्रोकरेज हाउसेस ने निवेशकों को सतर्क किया, जानिए कैसे बॉन्ड मार्केट स्टॉक मार्केट को प्रभावित कर रहा है

विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबई24 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

शेयर बाजार में शुक्रवार को भारी गिरावट दर्ज की जा रही है। अमेरिकी बॉन्ड मार्केट में जुट के चलते रहने के शेयर बाजारों में भारी बिकवाली हो रही है। इसमें भारतीय शेयर बाजार शामिल है। बीएसई सेंसेक्स 1,500 अंकों की गिरावट के साथ 49,500 के लेवल पर पहुंच गया है। 25 फरवरी को इंडेक्स 51,039 पर बंद हुआ था।

बैंकिंग शेयरों में सबसे ज्यादा गिरावट

निवेश बाजार में बैंकिंग शेयरों में सबसे ज्यादा बिकवाली कर रहे हैं। निफ्टी बैंक इंडेक्स 1,617 अंक नीचे 34,931.95 पर कारोबार कर रहा है। लगभग सभी सेक्टर में बिकवाली है। रूपान्तर, एनएसई पर ज्यादातर इंडेक्स 2-2% की गिरावट के साथ कारोबार कर रहे हैं। इसमें ऑटो, मेटल, आईटी सहित अन्य शामिल हैं।

ब्रकिंग फर्म एमके ग्लोबल के मुताबिक यूएस बॉन्डैल्ड में हालिया उठान से बाजार में बिकवाली है। इसमें आगे भी उठाने की उम्मीद है, क्योंकि हालात को सामान्य बनाने के लिए बाइडेन प्रशासन राहत पैकेज को क्रमवार तरीके से जारी करेगा। यानी शेयर बाजार में गिरावट जारी रह सकती है।

बॉन्ड बाजार का असर कई बाजार पर क्यों हुआ?
वास्तव में पूरी दुनिया में मीटर बाजार सस्ते बाजार से काफी बड़ा है। अमेरिका के केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व ने पैसे की कम लागत को बरकरार रखने का आश्वासन दिया है। सुरक्षा निवेशक इस जोखिम से जाग गए हैं। यदि उधार लेने की लागत बढ़ जाती है, तो कंपनियों का नियमन कैश फ्लो (DCF) मूल्य गिर जाएगा और इसके सटीक असर संरक्षण का दिवालियापन पर होगा। यह एक विशेषण एलिमेंट है, जो सकारात्मक यानी शेयर बाजार में अब अपना प्रभाव दिखा रहा है।

निवेशकों के लिए ब्रोकरेड हाउसेस की सलाह

एचडीएफसी सिक्यूरिटीज के दीपक जसानी कहते हैं कि निफ्टी 14,300 तक हो सकता है। बाजार की मौजूदा परिस्थिति के आधार पर बाजार में वर्तमान में बड़े उछाल की उम्मीद कम है। लेकिन बाजार में रिकवरी होगी, जिसकी गति धीमी होगी।

निर्मल बंग सिक्योरिटीज के सुनील जैन कहते हैं कि पिछली बार गिरावट में निफ्टी को हमने हजार अंकों तक गिरते देखा था। आज यह 500 अंक गिर गया है। हो सकता है कि इसमें आगे और गिरावट आए। निवेशकों को निवेश करते समय इस तरह की गिरावट को ध्यान में रखना चाहिए।

बाजार के मुताबिक, बाजार की हाल की तेजी ठीक उसी तरह की है, जैसे दूसरे विश्व युद्ध के बाद देखा गया था। उस समय अमेरिकी सरकार ने काफी खर्च किया था और उसके बाद बाजार में भारी गिरावट आई थी। भारत में शेयर बाजार का वेल्यूएशन दोगुने पर है। हम शामिल हैं और गिरावट देख सकते हैं। निफ्टी 14,300 तक हो सकता है।

यूएस मार्केट में भारी बिकवाली

अमेरिका में बॉन्डेल्ड बढ़ने और शेयरों में बिकवाली के कारण प्रमुख इंडेक्स गिरावट के साथ बंद हुआ। नैस्डैक इंडेक्स 478 अंकों की गिरावट के साथ 13,119 पर बंद हुआ था। इसी तरह डाओ जोंस 559 अंक और एसएंडपी 500 इंडेक्स 96 अंक नीचे बंद हुए।

खबरें और भी हैं …





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments