Home देश की ख़बरें श्रीगंगानगर: पाकिस्तानी महिला श्रमिक ने बस में दिए बच्चे को जन्म, दोनों...

श्रीगंगानगर: पाकिस्तानी महिला श्रमिक ने बस में दिए बच्चे को जन्म, दोनों जिला अस्पताल में भर्ती


बच्चे को वर्तमान में एसएनसीयू वार्ड में रखा गया है। वहीं महिमा को मटोरनिटी वार्ड में एडमिट कराया गया है।

श्रीगंगानगर में एक पाकिस्तानी महिला श्रमिक (पाकिस्तानी महिला श्रमिक) ने बस में बच्चे को जन्म दिया है। महिला और नवजात को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहाँ दोनों स्वस्थ रहे हैं।

श्रीगंगानगर। एक पाकिस्तानी महिला श्रमिक (पाकिस्तानी महिला श्रमिक) ने श्रीगंगानगर में बच्चे को जन्म दिया है। महिला के प्रसव (प्रसव) गुजरात से वाघा बोर्डर जाते समय बस में हुआ। चिकित्सकों के अनुसार जच्चा-बच्चा दोनों स्वास्थ्य हैं। वर्तमान में जच्चा और बच्चा दोनों की श्रीगंगानगर जिला अस्पताल में देखरेख की जा रही है। नवजात के पिता ने श्रीगंगानगर में मिली चिकित्सकीय सुविधाओं को बेहतर बताया है। अब पास सहित अन्य कानूनी कार्रवाई के बाद दोनों को पाकिस्तान के लिए छोड़ दिया जाएगा।

जानकारी के अनुसार प्रदेश के सीमावर्ती जिले श्रीगंगानगर में बुधवार देर रात गुजरात से पाकिस्तान लौट रहे मजदूरों की बस में एक महिला मजदूर ने बच्चे को जन्म दिया। बस में पाकिस्तानी महिला श्रमिक के द्वारा बच्चे को जन्म देने की सूचना पर एम्बुलेंस को मौके पर बुलाया गया। वहां से एम्बुलेंस से जच्चा और बच्चा दोनों को जिला अस्पताल लाया गया और चिकित्सकों की निगरानी में रखा गया।

जच्चा और बच्चा दोनों स्वस्थ हैं
श्रीगंगानगर जिला अस्पताल के पीएमओ डॉ। बलदेव सिंह ने बताया कि जच्चा और बच्चा दोनों स्वस्थ हैं। बच्चे को वर्तमान में एसएनसीयू वार्ड में रखा गया है। वहीं महिमा को मटोरनिटी वार्ड में एडमिट कराया गया है। पाकिस्तान की महिला मजदूर रामादेवी द्वारा बच्चे को जन्म देने के बाद उसके पति और दो बच्चे श्रीगंगानगर में रहने चले गए। बाकी सभी मजदूर वाघा बॉर्डर के लिए रवाना हो गए हैं।सभी सुविधाएं बेहतर तरीके से मिलीं

नवजात के पिता जयराम के अनुसार उसकी पत्नी और नवजात बच्चे बिल्कुल स्वस्थ हैं। जिला अस्पताल से बच्चे का जन्म सर्टिफिकेट बनने के बाद दिल्ली एम्बेसी में पास के लिए अपलाई करेंगे और उसके बाद में पाकिस्तान के लिए छोड़ दिया जाएगा। उधर जिला अस्पताल के अधिकारियों ने पुलिस और उच्च अधिकारियों को इसकी सूचना दे दी है। जयराम ने बताया कि जिला अस्पताल में डॉक्टर्स और अन्य स्टाफ ने उनके साथ काफी अच्छा व्यवहार किया और उन्हें सभी सुविधाएं बेहतर तरीके से मिलीं।







Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments