Home मध्य प्रदेश सिंधिया राज घराने से जुडे रहे थे सरदार आंग्रे: आंग्रे की पौत्री...

सिंधिया राज घराने से जुडे रहे थे सरदार आंग्रे: आंग्रे की पौत्री ने पति, सास, ससुर पर बना एफआईआर, बोली- पति, पिता की विंसेंट रॉल्स रॉयस कार, मुम्बई में फ्लैट की मांग कर रही थी।


विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

गोलमाल करनेवाला5 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

फाइल फोटो- महिला थाना में पुलिस ने किया है दहेज एक्ट व धमकाने का मामला दर्ज

  • महिला थाना में मंगलवार रात हुई एफआईआर
  • पति अर्जुन काक, ससुर अनिल काक, सास मंगेश काक पर एफआईआर हुई
  • कत्यायनी की सास मंगेश काक का ताल्लुक इंदौर इंदौर घराने से कहा जाता है
  • अर्जुन, पत्नी कात्यायनी और उनके परिवार पर गोलीबारी की करा चुके हैं

सिंधिया राजघराने से ताल्लुक रखने वाले दिवंगत सरदार संभाजी राव आंग्रे की पौत्री कात्यायनी ने ग्वालियर के महिला थाना में अपने पति अर्जुन काक, ससुर रिटायर्ड कर्नल अनिल काक, सास मंगेश काक पर दहेज एक्ट और धमकने की एफआईआर दर्ज कराई है। सरदार की पौत्री का आरोप है कि पति ने दहेज में मिले एक करोड़ रुपए से अधिक के सोने, हीरे के जेवरा रखने के लिए। अब पिता की सन 1951 मॉडल की विन्सेंट रॉल्स रॉयस कार, मुम्बई में एक फ्लैट की मांग कर रहे हैं।

महिला थाना में मामला दर्ज कर लिया गया है। कात्यायनी और अर्जुन काक की शादी 18 अप्रैल 2018 को हुई थी तभी से दोनों परिवार लगातार विवाद में घिरे हैं। वर्ष 2020 में पति अर्जुन, पत्नी, ससुर सहित 8 लोगों पर शहर के विश्वविद्यालय थाना में फंदा का मामला दर्ज कराया गया है।

यह पूरा मामला है

भाजपा के वरिष्ठ नेता व सिंधिया राजघराने से संबंधित सरदार स्वर्गीय संभाजीराव आंग्रे के पुत्रेंटजीराव आंग्रे की बेटी 34 वर्षीय कात्यायनी आंग्रे की शादी 18 अप्रैल 2018 को इंदौर में धार कोठी निवासी रिटायर कर्नल अनिल का बेटा अर्जुन काक के साथ हुई थी। अर्जुन काक की मां मंगेश काक का संबंध इंदौर राजघराने से कहा जाता है। शादी की रस्में ऋषिकेश में हुई थीं। महिला थाना में कात्यायनी ने शिकायत की है कि शादी में पिता ने अनिश्चितकीमत सोने, प्लेटीनम, डायमंड के गहने दिए हैं। जिनकी कीमत लगभग एक करोड़ रुपये से अधिक थी। इसके बाद घर में रेनोवेशन का काम होने की बात कहकर पति, सास व ससुर मुझे नहीं ले गए। जून 2018 तक यही कहना चाहिए। इस पर पिता ने अपने परिवारिक मित्र अनंत पाल सिंह निवासी इंदौर को मेरा ससुराल भेजा। वहाँ ससुर ने दहेज की मांग की। उन्होंने मेरे पिता की विंसेंट रॉल्स रॉयस कार, मुम्बई में एक फ्लैट की मांग की। इस पर मेरे पिता ने दहेज प्रथा नहीं मानते हुए यह सामान देने से मना किया। जिस पर पति, सास व ससुर उसे लेने नहीं आए। नवंबर 2019 में पति अर्जुन ग्वालियर आए और फिर दहेज की मांग की। जश्न मना रहा है। कात्यायनी की शिकायत पर महिला थाना ने पति अर्जुन, ससुर अनिल काक व सास मंगेश काक पर दहेज एक्ट और धमकाने का मामला दर्ज किया है।

अर्जुन भी करा चुके हैं एफआईआर

कात्यायनी और अर्जुन काक की शादी में यह पहली प्राथमिकी नहीं है। इससे पहले कात्यायनी का पति अर्जुन काक ग्वालियर के विश्वविद्यालय थाना में वर्ष 2020 में कात्यायनी, उसके पिता सहित 8 लोगों की गलती सहित अन्य प्रवाह में मामला दर्ज करा चुके हैं। रिपोर्ट में काक परिवार ने कहा था किेंटजीराव आंग्रे की बेटी कात्यायनी की शादी 2018 में अर्जुन के साथ तय हुई थी। शादी से पहले आंग्रे परिवार ने उऩेंन कात्यायनी की जन्मपत्री में मौजूद ग्रहदोष के निवारण के नाम पर मंगल पूजा कराने को कहा। पूजा ऋषिकेश में किया गया। पूजा के बाद आंग्रे के गुरु और परिवार के सदस्यों ने सगाई की रस्म पूरी तरह से की और उसी को सांकेतिक विवाह घोषित कर दिया। इसके बाद ग्वालियर आकर बिना शादी के ही फर्जी तरीके से शादी का पंजीयन करा लिया गया। उधर कात्यायनी आग्रे ने इस मामले में काक परिवार से समझौते के लिए दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की। शादी का फर्जी पंजीकरण के आरोप पर विश्वविद्यालय पुलिस ने अर्जुन पुत्र रिटायर्ड कर्नल अनिल काक निवासी कोठी इंदौर की रिपोर्ट पर जांच के बाद कात्यायनी आंग्रे, सज्जनजी आंग्रे उनकी पत्नी शांभवी आंग्रे, गुरु पंडित अनिल अहले, श्वेता वी काकडे, प्रताप राव घोरपड़े आंग्रे और रमेशचंद्र आंग्रे के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था।

खबरें और भी हैं …





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments