Home खेल जगत सीएसके को श्रृंखलाबद्ध बनाने वाले रंडीव बने बस चालक: 10 साल पहले...

सीएसके को श्रृंखलाबद्ध बनाने वाले रंडीव बने बस चालक: 10 साल पहले सहवाग को शतक नहीं बनाने दिया था; भारत के खिलाफ सीरीज में ऑस्ट्रेलिया की मदद भी


  • हिंदी समाचार
  • खेल
  • क्रिकेट
  • सूरज रणदीव अब ऑस्ट्रेलिया में बस ड्राइवर है, वह 2011 विश्व कप फाइनल में श्रीलंका टीम और आईपीएल में सीएसके का हिस्सा था

विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मेलबर्न10 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

ऑफ स्पिनर रंडीव ने श्रीलंका के लिए 12 टेस्ट, 31 वनडे और 7 टी -20 खेले हैं। अब वे ऑस्ट्रेलिया में बस ड्राइवर बन गए हैं।

श्री के पूर्व क्रिकेटर सूरज रंडीव अब बस ड्राइवर बन गए हैं। वे वर्तमान में ऑस्ट्रेलिया में हैं और ड्राइवर के साथ-साथ एक लोकर क्लब के लिए क्रिकेट भी खेलते हैं। बस चलाने के साथ उनकी एक फोटो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। उन्होंने भारत के खिलाफ हाल ही में खेलने वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम की भी मदद की थी। रंदीव ने ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को नेट में बैटिंग प्रैक्टिस किया था।

रंडीव 2011 के वनडे वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंची वंकाई टीम का हिस्सा भी रहे हैं। वहीं, 2012 के आईपीएल में चेनियन में बने चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) का भी हिस्सा रहे थे। उन्हें पूर्व भारतीय ओपनर वीरेंद्र सहवाग को सेंचुरी नहीं बनाने देने के लिए भी जाना जाता है।

पैटिंसन और सीडल जैसे क्रिकेटर के साथ खेलते हैं रंडीव
रंडीव ने अपने नए प्रोफेशन की शुरुआत ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न स्थित एक फ्रेंच बेस्ड कंपनी से की। उन्हें ट्रांसदेव नाम की कंपनी ने बतौर ड्राइवरस्टेड किया है। वे 2019 में ही ऑस्ट्रेलिया पहुंचे थे। वे जिस क्लब के लिए खेलते हैं, उसे विक्टोरिया प्रीमियर क्रिकेट से मान्यता प्राप्त है। जेम्स पैटिंसन और पत्नी सिडल जैसे क्रिकेटर भी इस क्लब के लिए खेलते हैं। रंडीव ने श्रीलंका में अपना आखिरी घरेलू मैच अप्रैल, 2019 में खेला था।

2012 में सीएसके को चेनियन बनाने में योगदान दिया गया था
रंडीव दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट लीग आईपीएल में भी खेल चुके हैं। वे 2012 में चेनियन बने महेंद्र सिंह धोनी की कमान वाली सीएसके टीम का हिस्सा थे। रंडीव ने उस सीजन में 8 मैच खेले थे, जिसमें वे 6 विकेट चटकाए थे। हालाँकि, इसके बाद उन्हें कभी आईपीएल खेलने का मौका नहीं मिला।

सहवाग को शतक लगाने से कर दिया गया था महरूम
रंडीव को भारतीय फैंस सबसे ज्यादा 2010 में घके गए उनके नो बॉल को लेकर जानते हैं। भारत के खिलाफ उस मैच में उन्होंने सहवाग को शतक से महरूम कर दिया था। 2010 में श्रीलंका के खिलाफ ट्राइंगुलर सीरीज के तीसरे मैच में भारत को जीत के लिए 1 रन की जरूरत थी। सहवाग 99 रन बनाकर स्ट्राइक पर थे।

रंडीव को उनकी हरकत के लिए झेलना पड़ा था एक मैच का बैन
रंडीव ने इसके बाद तिलकरत्ने दिलशान से कुछ बातचीत कर मानकर नो-बॉल जमाकी थी। इस गेंद पर सहवाग ने छह भी लगाए थे, लेकिन नो बॉल की वजह से टीम इंडिया पहले ही मैच जीत गई। इसके चलते सहवाग अपनी सेंचुरी नहीं पूरी कर पाए थे। रंडीव पर इसके लिए एक मैच का बैन भी लगाया गया था।

रंडीव ने श्रीलंका के लिए 12 टेस्ट और 31 वनडे खेले
ऑफ स्पिनर रंडीव ने श्रीलंका के लिए 12 टेस्ट, 31 वनडे और 7 टी -20 खेले हैं। टेस्ट में उन्होंने 46 विकेट, वनडे में 36 विकेट और टी -20 में उन्होंने 7 विकेट लिए। इसके अलावा बैटिंग में भी उन्होंने कई अच्छी पारियां खेलीं। उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 56 रन का रहा।

खबरें और भी हैं …





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments