Home कैरियर सुंदर पिचाई और सत्या नडेला को मिलती है जरूरत से ज्यादा सैलरी?...

सुंदर पिचाई और सत्या नडेला को मिलती है जरूरत से ज्यादा सैलरी? यहां जानें


नई दिल्ली. अल्फाबेट इंक के सुंदर पिचाई और माइक्रोसॉफ्ट के सत्या नडेला दुनिया के उन 100 सीईओ की लिस्ट में शामिल हैं, जिन्हें ज्यादा पेमेंट मिलता है. एक नई रिपोर्ट में यह दावा किया गया है. यह कोई छिपी बात नहीं है कि एसएंडपी 500 इंडेक्स की लिस्टेड कंपनियों के सीईओ को सबसे अधिक भुगतान मिलता है. हालांकि, इस रिपोर्ट में कई तरह की मेट्रिक्स के आधार पर तय किया जाता है कि कौन से सीईओ को ज्यादा सैलरी मिलती है. इस रिपोर्ट को तैयार करने के लिए की गई स्टडी में तीन बातों का प्रमुखता से ध्यान में रखा गया. पहला तो यह कि कंपनी की पिछली परफॉर्मेंस के आधार पर किसी सीईओ को कितना अधिक सैलरी मिल रही है.

इसके अलावा यह भी ध्यान दिया जाता है किसी सीईओ की सैलरी बढ़ाने के खिलाफ कितने शेयरहोल्डर्स ने वोट किया है और कंपनी की औसत कर्मचारी की तुलना में एग्जीक्युटिव्स की कितनी सैलरी मिलती है.

1085 कर्मचारियों के बराबर मिलती है ​सुंदर पिचाई को सैलरी
रोचक बात तो यह है कि इस लिस्ट में सबसे ज्यादा पेमेंट पाने वाले सीईओ अल्फाबेट के सुंदर पिचाई है, जिन्हें 280,621,552 अमेरिकी डॉलर की सैलरी मिलती है. इसकी तुलना में अल्फाबेट में कर्मचारियों को औसत सैलरी 258,708 डॉलर है. इससे पता चलता है कि अल्फाबेट में सीईओ की जितनी सैलरी है, उतने में करीब 1085 कर्मचारियों को सैलरी मिल जाएगी. इस रिपोर्ट के मुताबिक, पिचाई को कर्मचारी की औसत सैलरी से 266,698,263 डॉलर अधिक सैलरी मिलती है.यह भी पढ़ें: Facebook का यूजर्स के लिए खास तोहफा! लॉन्च किया नया ऐप, रैपर्स को वीडियो बनाने में करेगा मदद

कितने नंबर पर हैं सत्या नडेला?
माइक्रोसॉफ्ट के सत्या नडेला भी इस लिस्ट में 24वें स्थान पर है. उनहें 42,910,215 डॉलर की सैलरी मिलती है. सत्या नडेला को माइक्रोसॉफ्ट के कर्मचारियों की औसत सैलरी से 27,896,691 डॉलर अधिक सैलरी मिलती है. इस कंपनी में प्रति कर्मचारी औसत सैलरी 1,72,412 डॉलर है. यानी सत्या नडेला की जितनी सैलरी है, उतने में 249 कर्मचारियों को सैलरी दी जा सकती है.

मार्क ज़ुकरबर्ग का भी नाम शामिल
सिलिकॉन वैली में कई सोशल मीडिया कंपनियां है. लेकिन इस रिपोर्ट में फेसबुक के सीईओ मार्क ज़ुकरबर्ग को 73वें स्थान शामिल किया गया है. ज़ुकरबर्ग को 23,314,973 डॉलर की सैलरी मिलती है. औसत कर्मचारी की तुलना में उन्हें 9,415,973 डॉलर अ​धिक मिलता है. फेसबुक में कर्मचारियों की औसत सैलरी 2,47,977 डॉलर है. यानी मार्क ज़ुकरबर्ग को फेसबुक के 94 कर्मचारियों की औसत सैलरी जितनी पेमेंट मिलती है. माइक्रोसॉफ्ट और अल्फाबेट की तुलना में यह बेहद कम है.

इस लिस्ट केवल टेक कंपनियों के ही लीडर्स नहीं शामिल हुए. बल्कि वॉल्ट डिज़्नी कंपनी के पूर्व सीईओ बॉब ईगर, फॉक्स कॉरपोरेशन के लाशलेन मर्डाक और क्रॉफ्ट हेंज़ कंपनी के मिगुल पेट्रेसियो भी टॉप 30 में शामिल हैं.

यह भी पढ़ें:  सरकारी कर्मचारियों के लिए अच्‍छी खबर! 1 मार्च 2021 से बढ़ रहा है महंगाई भत्‍ता और डीआर

2015 से लगातार शामिल हो रहे इन 9 कंपनियों के सीईओ
दिलचस्प बात है कि जिन कंपनियों ने इस लिस्ट में लगातार जगह बनाई है, उनका प्रदशर्न लिस्ट में शामिल नहीं की गई कंपनियों की तुलना में खराब है. यह रिपोर्ट 2015 से लगातार हर साल पब्लिश होती है. इस लिस्ट में 9 सीईओ का नाम हर बार शामिल रहा है. इसमें डिस्कवरी, वॉल्ट डिज़्नी, कॉमकास्ट, एटीएंडटी, गौल्डमै शैक्स, आईबीएफ, मैकेस्सन, राल्फ लॉरेन और रिजेनेरॉन का नाम है.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments