Home कैरियर स्नैपडील को 1 अरब डॉलर में खरीद सकती है फ्लिपकार्ट

स्नैपडील को 1 अरब डॉलर में खरीद सकती है फ्लिपकार्ट


फ्लिपकार्ट की तरफ से किए गए वैल्यूएशन से स्नैपडील का बोर्ड नाखुश है, क्योंकि उनका मानना है कि फ्लिपकार्ट ने उनकी कंपनी का वैल्यूएशन 200 मिलियन डॉलर कम किया है.

फ्लिपकार्ट की तरफ से किए गए वैल्यूएशन से स्नैपडील का बोर्ड नाखुश है, क्योंकि उनका मानना है कि फ्लिपकार्ट ने उनकी कंपनी का वैल्यूएशन 200 मिलियन डॉलर कम किया है.

ई-कॉमर्स सेक्टर की दिग्गज कंपनी फ्लिपकार्ट प्रतिस्पर्धी स्नैपडील को खरीदने के लिए अपनी बोली में संशोधन करने के लिए तैयार है, इससे पहले फ्लिपकार्ट के डायरेक्टर्स ने स्नैपडील को खरदीने के लिए 80 करोड़ डॉलर की बोली लगाई थी, स्नैपडील के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने इस ऑफर को ठुकरा दिया था.

जल्द फाइनल हो सकती है मर्जर डील
स्नैपडील के बोर्ड ने इस डील के लिए 1 अरब डॉलर कि मांग की है. सूत्रों के मुताबिक उम्‍मीद जताई जा रही है कि आने वाले कुछ महीनों में ही यह मर्जर डील फाइनल हो सकती है.

पहले के ऑफर से नाखुश है स्नैपडील का बोर्ड फ्लिपकार्ट की तरफ से किए गए वैल्यूएशन से स्नैपडील का बोर्ड नाखुश है, क्योंकि उनका मानना है कि फ्लिपकार्ट ने उनकी कंपनी का वैल्यूएशन 200 मिलियन डॉलर कम किया है. सूत्रों ने बताया कि बोर्ड को उम्मीद है कि फ्लिपकार्ट इस प्रस्ताव पर पुनर्विचार करेगा. स्नैपडील का सबसे बड़े निवेशक सॉफ्टबैंक कई महीनों से इस डील को सफल बनाने में लगा है. इस बोर्ड में स्नैपडील के फाउंडर्स कुणाल बहल और रोहित बंसल के अलावा नेक्सस वेंचर पार्टनर्स और कालारी कैपिटल भी शामिल है.

डील के बाद फ्लिपकार्ट बन जाएगी सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी
अगर यह मर्जर डील हुई तो फ्लिपकार्ट भारत की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी बन जाएगी. स्नैपडील कड़ी मेहनत के बाद भी अपने प्रतिस्पर्धियों से अकेले बराबरी नहीं कर पा रही थी. स्नैपडील अपनी दूसरी कंपनियों को बेचने के लिए बातचीत कर रही है. फ्रीचार्ज और वालकैन एक्सप्रेस स्नैपडील की ही कंपनी हैं.








Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments