Home मध्य प्रदेश २०५० रुपये का कैश: कर 7 7 रुपए रुपए फाइन फाइन फाइन...

२०५० रुपये का कैश: कर 7 7 रुपए रुपए फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन), पॉ पॉ रुपए रुपए फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन ” … का फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन का का फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन फाइन तक) में फाइन किलो पोलीथिन दूर की ओर घुमाएं


विज्ञापन से परेशान हैं? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रतलामएक घंटा पहले

  • कॉपी लिस्ट

50 माइक्रोन से कम मोटाई वाली पॉलीथिन की थैली उपयोग करने प्रतिबंध प्रतिबंध होने के बावजूद शहर में इसका उपयोग हो रहा है। निगम की टीम ने शुक्रवार को कार्रवाई करते हुए 10 व्यक्तियों पर दोहरी फाइनिंग की। नगर निगम के डिस्प्ले फाइन ग्रुप ने नाहरपुरा में ललित, धानमंडी में संजय माहेश्वरी, हितेंद्र बाजना बस स्टैंड से राहुल, गुड्डस सरुन, राहुल गांधी, श्यामा बाई, कान्हा और एक अन्य आंखों कर भविष्य में 50 माइक्रोन से कम मोटाई की पॉलिथीन उपयोग ना करने के लिए। । समझ में कमी। कार्रवाई में प्रभारी स्वास्थ्य अधिकारी ए पी सिंह, झोन प्रभारी किरण चौहान व पर्वत हाड़े, जय उपाध्याय शामिल थे। निगमायुक्त ने बताया कि सब्जी, फल-फ्रूट व अन्य सामग्री के फुटकर व्यवसायी अगर 50 माइक्रोन से कम मोटाई की पॉलिथीन का उपयोग करते हैं तो उन पर 50 रुपए का अर्थदण्ड किया गया पॉलिथीन पकाने की क्रिया की जाएगी।

खबरें और भी हैं …





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments