Home कैरियर 20.14 लाख किसानों को हर साल मिलेंगे 36000 रुपये, आप भी उठा...

20.14 लाख किसानों को हर साल मिलेंगे 36000 रुपये, आप भी उठा सकते हैं इस स्कीम का फायदा


नई दिल्ली. किसानों (Farmers) के लिए शुरू की गई पेंशन स्कीम पीएम मानधन योजना (Pradhan Mantri Kisan Maandhan Yojana) में अब तक 20,14,330 किसानों ने रजिस्ट्रेशन करवाया है. पीएम किसान मानधन के तहत 60 की उम्र पूरी होने के बाद खाताधारक को 3000 रुपये मंथली पेंशन मिलेगी. जो सालाना 36 हजार रुपये होती है. यह योजना उन किसानों के बुढ़ापे की लाठी साबित हो सकती है, जो सिर्फ खेती-बाड़ी के भरोसे हैं. खासतौर से गरीब किसानों के लिए जिनके पास आजीविका का कोई और साधन नहीं है.

पेंशन पाने की स्कीम में सबसे आगे हरियाणा के किसान- केंद्रीय कृषि मंत्रालय (Ministry of Agriculture) के मुताबिक पीएम-किसान मानधन योजना में सबसे ज्यादा 4,22,487 किसान हरियाणा में जुड़े हैं. इसके बाद बिहार का नंबर आता है. बिहार में 2,85,960 किसानों ने इसे अपनाया है. झारखंड 2,46,447 एनरोलमेंट के साथ तीसरे, उत्तर प्रदेश 2,45,516 किसानों के साथ चौथे और छत्तीसगढ़ 2,02,710 लोगों के साथ पांचवें पायदान पर है. दिल्ली में महज 112 किसान इस स्कीम से जुड़े हैं.  महाराष्ट्र में 75,636 किसानों ने ही अब तक इस स्कीम में भरोसा जताया है.

मुफ्त में करा सकते हैं रजिस्ट्रेशन
केंद्रीय कृषि मंत्रालय के अधिकारियों के मुताबिक रजिस्ट्रेशन के लिए कोई फीस नहीं लगेगी. यदि कोई किसान पीएम-किसान सम्मान निधि (Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Scheme) का लाभ ले रहा है तो उससे इसके लिए कोई दस्तावेज नहीं लिया जाएगा.

कितना देना होगा पैसा
जितना प्रीमियम (Premium) किसान देगा उतनी ही राशि सरकार भी देगी. इसका न्यूनतम प्रीमियम 55 और अधिकतम 200 रुपये है. अगर बीच में कोई पॉलिसी छोड़ना चाहता है तो जमा राशि और ब्याज (Interest) उस किसान को मिल जाएगा. अगर किसान की मृत्यु हो जाती है तो उसकी पत्नी को 1500 रुपये प्रति महीने मिलेंगे.

कृषि मंत्रालय के अधिकारियों के मुताबिक अगर कोई किसान बीच में स्कीम छोड़ना चाहता है तो उसका पैसा नहीं डूबेगा. उसके स्कीम छोड़ने तक जो पैसे जमा किए होंगे उस पर बैंकों के सेविंग अकाउंट के बराबर ब्याज मिलेगा. अगर पॉलिसी होल्डर किसान की मौत हो गई, तो उसकी पत्नी को 50 फीसदी रकम मिलती रहेगी. LIC किसानों के पेंशन फंड को मैनेज करेगा.

कहां कराएं रजिस्ट्रेशन
पेंशन योजना का लाभ उठाने के लिए किसान को कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होगा. रजिस्ट्रेशन के लिए आधार कार्ड और खसरा-खतौनी की नकल ले जानी होगी. रजिस्ट्रेशन के लिए 2 फोटो और बैंक की पासबुक की भी जरूरत होगी. रजिस्ट्रेशन के लिए किसान को अलग से कोई भी फीस नहीं देनी होगी. रजिस्ट्रेशन के दौरान किसान का किसान पेंशन यूनिक नंबर और पेंशन कार्ड बनाया जाएगा.

यह भी पढ़ें :

दुग्ध उत्पादों की घटी मांग, किसानों पर दोहरी मार, 22 रुपये लीटर बेचने को मजबूर हैं गाय का दूध

हरियाणा में तेज हुई फसल खरीद, दो दिन में किसानों ने बेचा इतना गेहूं





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments