Home मध्य प्रदेश 24 घंटे बाधा के साथ बिजली: शहर के जात -2 में 12...

24 घंटे बाधा के साथ बिजली: शहर के जात -2 में 12 फीडर, फरवरी के 27 जून में 127 बार लाइन ट्रिपिंग


विज्ञापन से परेशान हैं? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बैशांग3 घंटे पहले

  • कॉपी लिस्ट

प्रतिकात्मक फोटो

  • कंपनी परमिट के साथ लाइन मेंटेनेंस करती है, लेकिन ट्रिपिंग नहीं राेक पा रही है

प्रदेश सरकार का दावा है कि वह 24 घंटे बिना बाधा के साथ बिजली सप्लाई दे रही है। कटौती नहीं हो रही है, लेकिन ट्रिपिंग की बाधा बनी हुई है। बिजली लाइनाें के नियमित मेंटनेंस के दावों के बावजूद शहर का कोई इलाका ऐसा नहीं है, जहां दिन में एक बार ट्रिपिंग नाला है। शहर के जोन -2 को ही ले जाएगा।

इससे जुड़े 12 फीडर में फरवरी के 27 दिनों में 127 बार ट्रिपिंग हुई है। बिजली कंपनी समय-समय पर परमिट के बारे में लाइन में अनंत करती है, लेकिन ट्रिपिंग नहीं राेक पा रही है। अब ठंडा, एसी, पक्के मोड़ हा जाएगा। लाए और बढ़े। शहर में अभी भी कई ऐसे क्षेत्राें में जहां 11 केवी व 33 केवीए बिजली लाइनाें पर पेड़ की फाइल टकरा रही हैं।]इससे लाइन ट्रिपिंग होती है।

अफसरों के पास नहीं पुख्ता जवाब, कहते हैं-कई कारण होते हैं

ज्यादा ट्रिपलंग का अफसरों के पास काे पुख्ता जवाब नहीं है। कह रहे हैं कि कई कारण हैं। इसमें वे स्पार्किंग, जंफर जलना, पक्षी और गिलहरी के कारण शार्ट सर्किट, पेड़ की डाली गिरना आदि कारण बताए गए, लेकिन यह नहीं बता पा रहे हैं कि यही कारण है तो सभी जगह होते हैं, फिर ट्रिपिंग होश्रंग में ही ज्यादा हो रही है।

बिजली लाइनाँड पर पेड़ की डालियाँ

पुलिस पेट्राेल पंप के सामने, नेहरु पार्क के पास मैरिज गार्डन के पास, चर्च के पास आदि क्षेत्राें में बिजली की लाइन पर पेड़ की फाइल झुल रही हैं। इससे बिजली सप्लाई इन्फ हो सकती है।

पेड़ की डालियों की छँटनी कराएंगे

शहर में कुछ स्थान पर पेड़ की डाल लाइन के पास आ गए हैं। जो जल्द ही छंतनी करवाई करेंगे। अलग-अलग कारणों से होने वाली है। हमारा प्रयास है कि ट्रिपिंग नहीं हो।

-दीप मिश्रा, एई जोन 2

मालाखेड़ी में बार-बार बिजली जाती है

मालाखेड़ी में शनिवार काे बार-बार बिजली गुल हुई। सुबह के समय बिजली तीन-चार बार चली गई। डेर सब स्टेशन बड़ा हाेने से यहां भी फाटल्ट आता है ताे लंबे समय तक लाइट जाती है।

होता है, कहीं भी आ जाता है

बिजली जहाँ पर जनरेट हातेती है, उसे हम 11 केवीए पर अपग्रेड करते हैं। 132, 220, 400,780 केवी ट्रांसलेट द्वारा फेस टू फेस तक लाते हैं। इसके बाद हम उपभाएइट तक कनेक्शन तक बिजली पहुंचते हैं। यह जनरेशन से लेकर मीटर तक 100 से 125 इलेक्ट्राॅनिक डिवाइस लगे हाती है। जाे कभी खराब हाेती है ताे ट्रिपिंग आती है। शहर में जिन क्षेत्राें में ट्रिपिंग आ रही है।

डीपी अहिरवार, शेफ इंजीनियर, जिले के प्रभारी

कहाँ बहुत सारे

फियर ट्रिपिंग
आनंद नगर ४
प्राएफेसर कालैनी 11
सदर बाजार 20
इंटकवेल 11
गोलवलि १३
इल्लैडकेरी 19
हाउसिंग बाबर्ड 23
आईटीआई 13
नर्मदा टाउन ००
सेठानी घाट ६
टेलीफ़ेन एक्सन 4
कैंटनेट परिसर 3

खबरें और भी हैं …





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments