Home देश की ख़बरें FASTags News- शहर से बाहर न जाने वाले वाहनों को फास्टैग से...

FASTags News- शहर से बाहर न जाने वाले वाहनों को फास्टैग से छूट देने संबंधी याचिका पर सुप्रीमकोर्ट ने कहा कि क्या है, जानें:


हाईवे पर न जाने वाले वाहनों को फास्टैग से छूट देने से संबंधित याचिका खारिज कर दी।

सुप्रीम कोर्ट (सुप्रीम कोर्ट) ने शहर से बाहर न जाने वाले वाहनों को फास्टैग से छूट मिलने से संबंधित याचिका को खारिज कर दिया और याचिकाकर्ताओं से दिलवाली हाईकोर्ट जाने को कहा है।

  • News18Hindi
  • आखरी अपडेट:26 फरवरी, 2021, 1:56 PM IST

नई दिलवाली ऐसे वाहन जो शहर के अंदर ही चलते हैं, कभी हाईवे (राजमार्ग) पर नहीं जाते हैं, ऐसे वाहनों को फास्टैग (फास्टैग) से छूट दिलाने से संबंधित याचिका (याचिका) को शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट (सुप्रीम कोर्ट) ने खारिज कर दिया और याचिकाकर्ताओं र्ट दिलवाली हाईकोर्ट जाने को कहा है। जिससे दिलली हाईकोर्ट की राय भी शामिल हो जाए। वहीं, सड़क परिवहन मंत्रालय के अधिकारियों का कहना है कि धीरे-धीरे वाहनों से जुड़ी कई सेवाओं के लिए फास्टैग अनिवार्य हो रहा है। ऐसे में कुछ वाहनों को फास्टैग की क्षमता की छूट देना मुश्किल होगा।

सुप्रीम कोर्ट (सुप्रीम कोर्ट) में कुछ वाहनों पर फास्टैगैग की योग्यता का नियम लागू करने के यचिका के पक्ष में अधिवक्ताओं ने कहा कि शहर में तमाम बुजुर्ग लोग हैं, जो वाहनों का प्रयोग घर के आसपास जाने के लिए करते हैं। चूंकि ऐसे लोग हाईवे पर नहीं जाते हैं, इसलिए इन लोगों को फास्टैग से छूट मिलनी चाहिए। मामले की सुनवाई करते हुए मुख्‍य न्‍यायाधीश याचिका को खारिज करते हुए दिल्‍ली हाईकोर्ट ले जाने को कहा। इस पर अधिवक्ताओं ने कहा कि चूंकि मामला पूरे देश से संबंधित है, इसलिए सुप्रीमकोर्ट आए हैं। इस पर मुख्‍य न्‍यायालय ने कहा है कि मामले में पहले हाईकोर्ट की रायने को चाहिए। इसलिए दिल्ली उच्च न्यायालय में याचिका दाखिल करने को कहा गया।

वहीं, दूसरी ओर सड़क परिवहन मंत्रालय के अधिकारियों का कहना है कि वाहनों से जुड़ी कई सेवाओं के लिए फास्टैग अनिवार्य कर दिया गया है। अब वाहनों का इंश्योरेंस बगैर फास्टैग के नहीं किया जाएगा। इसके अलावा फास्टैग से पार्किंग का भी भुगतान शुरू हो चुका है। हैदराबाद टर्मिनल में यह प्रतिबंध लागू किया गया है। इसलिए कुछ वाहनों के लिए फास्टैग की क्षमता की ख्रेडम नहीं किया जा सकता है। अधिकारियों का कहना है कि इसके अलावा यह सुनिश्चित कैसे किया जा सकता है कि कोई भी वाहन किराया नहीं करेगा कभी भी हाईवे पर नहीं होगा। अगर कभी कोई इमरजेंसी पड़ गई और बगैर फास्टैग के वाहन को हाईवे में जाना पड़ा। ऐसे वाहन स्वमी कैश टोल चार्ज करेंगे। समय लगेगा। टोल पीलाजा पर एक गाड़ी रुकने से औसतन 8 वाहन रुक जाते हैं। इस तरह फास्टिंगैग लगे हुए वाहनों को भी रुकना पड़ेगा।







Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments