Home फ़िल्मी दुनिया HBD: नेशनल अवॉर्ड विनर हैं प्रकाश झा, शादी के 17 साल बाद...

HBD: नेशनल अवॉर्ड विनर हैं प्रकाश झा, शादी के 17 साल बाद दीप्ति नवल से हुए अलग थे


तलाक के बाद भी दोनों के रिश्ते काफी अच्छे हैं।

हैप्पी बर्थडे प्रकाश झा: प्रकाश झा और दीप्ति नवल की शादी 1985 में हुई थी, लेकिन 2002 में उन्होंने तलाक ले लिया। उन्होंने एक लड़की को गोद लिया, जिसका नाम दिशा झा है।

  • News18Hindi
  • आखरी अपडेट:27 फरवरी, 2021, 7:30 AM IST

मुंबई। बॉलीवुड फिल्ममेकर प्रकाश झा (प्रकाश झा) का जन्म 27 फरवरी, 1952 को बिहार (बिहार) में हुआ था। फिल्म गंगाजल, राजनीति और सत्याग्रह जैसी सुपरहिट फिल्में बनाने वाले प्रकाश झा (प्रकाश झा जन्मदिन) को कौन नहीं जानता। उन्होंने सैनिक स्कूल तिलैया और केंद्रीय विद्यालय बोकारो से की पढ़ाई की। इसके बाद ग्रेजुएशन करने वाली वह दिल्ली आ गई। वह बचपन में पेंटर बनना चाहते थे, लेकिन मुंबई आने के बाद जब उन्हें फिल्म धर्म की शूटिंग देखने का अवसर मिला तो उन्होंने ठान लिया कि वह भी एक फिल्मकार बनगें। इसके लिए वर्ष 1973 में फिल्म और टेलीविजन इंस्टीयूट में दाखिला ले लिया गया।

प्रकाश झा (प्रकाश झा) की फिल्मी यात्रा की शुरुआत 1984 में ‘हिप हॉप हुर्रे’ नाम की फिल्म से हुई थी। इसके बाद उन्होंने जो फिल्म बनाई वो भारतीय सिनेमा इतिहास की सबसे सशक्त फिल्मों में अब भी गिनी जाती है। वह फिल्म थी- दामुल। बंधुआ मजदूर की कहानी को लेकर की गई इस फिल्म के बाद प्रकाश झा की गिनती समाज और राजनीति की समझ रखने वाले फिल्मकार के तौर पर हुई। इस फिल्म के लिए उन्हें राष्ट्रीय अवॉर्ड भी मिला। प्रसिद्ध लेखक विजयदान देथा की कहानी पर आधारित उनकी अगली फिल्म परिणिती को भी दर्शकों का काफी प्यार मिला। इसके बाद उनकी अगली फिल्म मृत्युदंड थी। इस फिल्म में माधुरी दीक्षित, शबाना आजमी और ओम पुरी जैसे बड़े नाम थे।

प्रकाश झा और दीप्ति नवल की शादी 1985 में हुई थी, लेकिन 2002 में उन्होंने तलाक ले लिया। उन्होंने एक लड़की को गोद लिया, जिसका नाम दिशा झा है। तलाक के बाद भी दोनों के रिश्ते काफी अच्छे हैं। एक इंटरव्यू में दीप्ति नवल ने प्रकाश झा से अपने रिश्ते के बारे में बात की थी।

उन्होंने कहा था- ‘प्रकाश जी और मेरा कभी कोई झगड़ा भी नहीं हुआ था, कोई कड़वाहट नहीं थी। उस समय हमें लगा कि हमारी राहें अलग हैं। वह दिल्ली चली गई, लेकिन मैं यहीं रह गया क्योंकि मेरी एक्टिंग की दुनिया यहीं थी। लेकिन जब आज मैं सोचती हूं तो लगता है कि शादी को थोड़ा वक्त देना चाहिए था … मैं भारत सिर्फ एक्टिंग के लिए आई थी। अगर मेरी शादी का महत्व उस समय समझ में आया तो मैंने और कोशिश की होती है। आपके सामने टैलेंटेड और अच्छे इंसान हैं। उस उम्र में मुझे मेरा फैसला सही लगा। हालांकि अब मेरी सोच अलग है, लेकिन अब मैं आगे बढ़ गया हूं। मेरा पास खुद के फैसले लेने और उसकी कीमत चुकाने की हिम्मत है।’आसान एज से एक इंटरव्यू में प्रकाश झा ने भी अपनी शादी के बारे में बात की थी। उन्होंने कहा था- ‘मैं तुम्हें बताता हूं दूं, दीप्ति और मैं आज भी अच्छे दोस्त हैं। कोई दिन ऐसा नहीं जाता जब वह मेरे कार्यालय नहीं आती या मेरी बात नहीं होती। वह बहुत अच्छी सिंगर, एक्टर और पेंटर हैं। वह बहुत समझदार हैं। हालांकि शादी के कुछ समय बाद हमें लगा कि हमारा विकास रुक गया है। हम जो पाना चाहते थे, हम वो नहीं कर पा रहे थे। इसलिए हम अलग हो गए। आज हमारी जिंदगी जैसी भी है, हम उससे बहुत खुश हैं। हम हमेशा एक-दूसरे के लिए खड़े रहते हैं। ‘







Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments